रायपुर वॉच

थोक में हो रहे RPF इंस्पेक्टर और इनके तबादले… ये है वजह

रायपुर. RPF डीजी के आदेश के बाद तमाम रेलवे जोन के तमाम आरपीएफ इंस्पेक्टर, सब इंस्पेक्टर और हवलदार रैंक के स्टॉफ के तबादले हो रहे है. ये तबादले दीपावली के चंद दिनों पहले से शुरू हुए है, लेकिन ये तबादले लगातार जारी है. लेकिन अब इन तबादलों की गूंज और इंस्पेक्टरों में इस तबादले का गुस्सा दिखने लगा है. दरअसल आरपीएफ डीजी ने पिछले दिनों एक सर्कुलर जारी किया था.

इस सर्कुलर में वो जानकारी मांगी गई थी, जिसमें आरपीएफ स्टॉफ को सीबीआई, एंटी करप्शन ब्यूरो समेत अन्य ने ट्रेप किया या उनके खिलाफ कोई मामला दर्ज किया. तमाम रेल मंडलों से इसकी सूची भेजी गई थी. इस सूची के भेजने के बाद लगातार ट्रांसफर का दौर शुरू हो गया और अब तक ये निरंतर जारी है. सूत्रों के मुताबिक जिस जोन से आदेश नहीं आए है वहां से भी जल्द ही आदेश जारी होने वाले है.

इंस्पेक्टरों में इस ट्रांसफर को लेकर हो रही कई प्रकार की चर्चाएं

आरपीएफ ऐसे स्टॉफ का सीधे जोन के बाहर ट्रांसफर कर रहा है. यही कारण है कि अचानक बिना टेंयूर पूरा हुए होने वाले इस ट्रांसफर से कई अधिकारी-कर्मचारी परेशान है. कई अधिकारी-कर्मचारी ऐसे है जिन्होंने सीबीआई या अन्य जांच एजेंसी में मामला दर्ज होने के बाद कोर्ट से बरी हो चुके है, वहीं कुछ ऐसे भी है जिनका मामला कोर्ट में 10-12 वर्षों से ट्रायल में चल रहा है और वे लगातार पेशी काट रहे है. लेकिन अब उनके जोनल ट्रांसफर होने के बाद कोर्ट में कैसे पेश होंगे इसको लेकर कई प्रकार की चर्चाएं है.

कई इंस्पेक्टरों को मिल गया कोर्ट से स्टे

वहीं इस ट्रांसफर के बाद कई मामलों में कोर्ट से इंस्पेक्टर समेत अन्य को स्टे मिलने की भी सूचना है. वहीं कुछ इंस्पेक्टर ऐसे भी है जिन्होंने आदेश के मुताबिक ज्वाईनिंग दे दी और अब वे अपने-अपने तरीके से छुट्टी लेने की तैयारी में है. लेकिन थोक में हे रहे इस ट्रांसफर से अधिकारियों में हड़कंप है और सभी उक्त ट्रांसफर को लेकर अपने-अपने तर्क दे रहे है.

आरपीयूपी एक्ट के तहत मामला दर्ज वालों की धड़कने हुई तेज

वहीं इस सूची में अब तक उन अधिकारी-कर्मचारियों के नाम सामने नहीं आए है जिनके खिलाफ आरपीयूपी एक्ट के तहत चोरी में लिप्त या अन्य किसी मामले में एफआईआर दर्ज हो. यही कारण है कि ऐसे सैकड़ों स्टॉफ है जिनकी धड़कने तेज हो गई है कि कहीं अगली सूची में उनका तो जोनल ट्रांसफर नहीं हो रहा है!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *