प्रांतीय वॉच

वर्ष 21-22 की राजस्व वसूली पर महापौर ने किया संतोष व्यक्त

आगामी वर्ष में बेहतर कार्य योजना के साथ कर संग्रहण के दिये निर्देश दिए गए
रायपुर। 
महापौर एजाज ढेबर ने नगर निगम मुख्यालय भवन महात्मा गाँधी सदन के तृतीय तल सभाकक्ष में नगर निगम राजस्व विभाग के कार्यों की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने वित्तीय वर्ष 2021-2022 हेतु नगर निगम रायपुर के लिये लगातार कड़ी मेहनत कर अपेक्षानुरूप राजस्व वसूली किये जाने पर संतोष व्यक्त किया एवं इस हेतु निगम राजस्व विभाग की अध्यक्ष श्रीमती अंजनी राधेश्याम विभार एवं आयुक्त श्री प्रभात मलिक के कुशल नेतृत्व एवं अपर आयुक्त श्री अरविन्द शर्मा, उपायुक्त डॉक्टर आर. के. डोंगरे सहित सभी जोनों के सहायक राजस्व अधिकारियों एवं जमीनी राजस्व अमले द्वारा निगम हित में राजस्व वसूलने किए गए अथक प्रयासों को सराहा।
महापौर ने कहा कि कोरोना के संक्रमण काल से उबरते हुए नगर निगम रायपुर के राजस्व विभाग द्वारा पूर्व निर्धारित लक्ष्यों को ध्यान में रखते हुए की गई राजस्व वसूली विशेष रूप से सराहनीय है. महापौर ने  राजस्व अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि राजस्व वसूली के परिणामों से संतुष्ट होकर शांत ना बैठें, बल्कि निरंतरता से रायपुर नगर पालिक निगम के लिये लक्ष्य अनुरूप राजस्व वसूली करने सक्रिय रहकर कार्य करें तथा अपनी कार्य प्रणाली में जनोन्मुखी सुधार लाएं। चर्चा के दौरान उनके द्वारा कुछ बिंदुओं पर सुझाव भी दिए गए, जैसे कि सभी करदाताओं को समयसीमा में डिमांड बिल जारी करने एवं करदाताओं से स्वविवरणी भरवाने का कार्य सभी जोनों के राजस्व विभाग अमले द्वारा वित्तीय वर्ष के आरंभ से ही तत्परता के साथ शुरू किया जाये।  करारोपण संबंधी जनता की शिकायतों का निराकरण समयबद्ध एवं विधि सम्मत हो। आगामी वर्ष के लिए पूर्ववर्ती वर्षों की भांति मार्च में ही राजस्व कर अदा करने की चली आ रही सोच में जनता एवं निगम हित में बदलाव लाने कार्य करें। सभी करदाताओं को राजस्व करों का नगर निगम रायपुर को भुगतान करने हेतु ऑनलाइन कर भुगतान प्रणाली का अधिकतम सदुपयोग करने जागरूक बनाने का कार्य किया जाये ताकि लोगों को निगम को करों का भुगतान करने निगम के जोन कार्यालयों के चक्कर ना लगाने पड़ें। राजस्व अमला गतवर्ष के अनुभवों से सीख लें तथा कर संग्रहण प्रणाली को जनता के लिए अधिक सुगम एवं सुलभ बनाने की दिशा में प्रयास करें जिससे की गत वर्ष जनता को यदि किसी कारण कोई असुविधा हुई हो, तो उन कारणों की पुनरावृत्ति न हो ।
महापौर ने समीक्षा के दौरान नगर निगम के सभी बड़े बकायादारों से विधि अनुरूप कड़ाई के साथ सम्पूर्ण बकाया राजस्व वसूलने अभियान के तहत कार्यवाही करने के निर्देश सभी जोन सहायक राजस्व अधिकारियों को दिये है। साथ ही यह भी स्पष्ट किया है कि राजस्व वसूली में किसी भी किस्म की लापरवाही कदापि सहन नहीं की जायेगी। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ राज्य योग आयोग अध्यक्ष एवं निगम लोक कर्म विभाग अध्यक्ष श्री ज्ञानेश शर्मा, राजस्व विभाग अध्यक्ष श्रीमती अंजनी राधेश्याम विभार, एमआईसी सदस्य श्री श्री कुमार मेनन, श्री नागभूषण राव, अपर आयुक्त श्री अरविन्द शर्मा, उपायुक्त डॉक्टर आर. के. डोंगरे, सभी जोन सहायक राजस्व अधिकारी उपस्थिति थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *