प्रांतीय वॉच

डीईओ के निरीक्षण के दौरान कई शिक्षक नदारत, कटेगा एक दिन का वेतन

बेमेतरा। जिला शिक्षा अधिकारी बेमेतरा श्री अरविन्द मिश्रा द्वारा प्रमुख सचिव छ.ग.शासन, स्कूल शिक्षा विभाग की अध्यक्षता में आयोजित समीक्षा बैठक 06 अप्रैल 2022 में दिए गए निर्देश के अनुक्रम में जिले के समस्त विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी, सर्व विकासखण्ड स्रोत व्यक्ति, जिले के समस्त सी.ए.सी. की 12 अप्रैल 2022 को बैठक आयोजित कर प्रमुख सचिव की मंशा से अवगत कराते हुए निर्देशित किया गया था कि बच्चों में हुए लर्निंग लॉस को दूर करने के लिए तथा कक्षानुरूप दक्षता को हासिल करने के लिए जिले के समस्त शिक्षकों का विद्यालयीन समय पर विद्यालय में उपस्थिति सुनिश्चित किया जाए। इसी परिप्रेक्ष्य में  आज बुधवार 20 मार्च को शासकीय प्राथमिक शाला नगधा, प्राथमिक शाला बरबसपुर, पूर्व माध्यमिक शाला तोरा, प्राथमिक शाला तोरा, हाई स्कूल तोरा, प्राथमिक शाला टूरा सेमरिया, प्राथमिक शाला रिसाअमली, पूर्व माध्यम शाला रिसाअमली, प्राथमिक शाला हेमाबंद, पूर्व माध्यम शाला हेमाबंद, हाई स्कूल स्कूल हेमाबंद तथा प्राथमिक शाला मोहतरा का निरीक्षण किया गया।
जिला शिक्षा अधिकारी के निरीक्षण के दौरान शासकीय प्राथमिक शाला नगधा के सभी शिक्षक निर्धारित विद्यालयीन समय पर अनुपस्थित थे विद्यार्थी विद्यालय परिसर में खेल रहे थे। शासकीय प्राथमिक शाला बरबसपुर से श्री खेम सिंह निर्मलकर, श्री हेमंत कुमार हिरवानी, श्री कामता निर्मलकर, तथा श्री इकबाल बेग अनुपस्थित पाए गए। पूर्व माध्यमिक शाला तोरा के निरीक्षण के दौरान विद्यालय के सभी शिक्षक कार्यालय में बैठे पाए गए, जिला शिक्षा अधिकारी श्री मिश्रा के द्वारा सभी शिक्षकों को कड़े शब्दों में फटकार लगाते हुए सभी शिक्षकों को कक्षा में जाकर बच्चों को पढ़ाने निर्देशित किया गया। ग्राम तोरा के ही हाई स्कूल में निरीक्षण के दौरान ताला बंद पाया गया। हाई स्कूल हेमाबंद के निरीक्षण के दौरान पाया गया कि विद्यालय का व्याख्याता श्री सतीश कुमार राय 02 दिवस से बिना किसी सूचना के अनुपस्थित है। श्री भानूप्रताप कुर्रे व्याख्याता, रेखा देवांगन निर्धारित विद्यालयीन समय पर विद्याल से अनुपस्थित पाए गए।
शासकीय प्राथमिक शाला तोरा, टूरासेमरिया, हेमाबंद, रिसाअमली, मोहतरा तथा पूर्व माध्यमिक शाला रिसाअमली, हेमाबंद में सभी शिक्षक उपस्थित थे जिला शिक्षा अधिकारी ने उपस्थित शिक्षकों को निर्देशित किया कि 15 मई 2022 तक के लिए जो लक्ष्य प्रमुख सचिव द्वारा निर्धारित किया गया है, उसकी प्राप्ति के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जाए। जिला शिक्षा अधिकारी ने निरीक्षण के दौरान अनुपस्थित पाए गए सभी शिक्षकों को बिना सूचना के अनुपस्थिति हेतु कारण बताओ नोटिस जारी करने तथा उक्त दिवस का वेतन कटौति किए जाने के निर्देश सभी संबंधित आहरण संवितरण अधिकारी को दिए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *