रायपुर वॉच

कालीचरण रायपुर सेंट्रल जेल से ट्रांजिट रिमांड पर दोबारा कड़ी सुरक्षा के बीच महाराष्ट्र रवाना…यहाँ भी दर्ज है मामला

रायपुर। राजधानी रायपुर में आयोजित धर्म संसद में महात्मा गांधी पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले अकोला, महाराष्ट्र के अभिजीत सारग उर्फ कालीचरण को रायपुर सेंट्रल जेल से महाराष्ट्र पुलिस ट्रांजिट रिमांड पर अपने साथ लेकर रवाना हुई। दरअसल कालीचरण के खिलाफ महात्मा गांधी पर अभद्र टिप्पणी करने के मामले में मनोज हनुमंत राव चांदुरकर की शिकायत पर वर्धा पुलिस थाने में केस दर्ज किया गया था। इसी केस के सिलसिले में महाराष्ट्र की वर्धा पुलिस मंगलवार को रायपुर पहुंची और देर शाम को केंद्रीय जेल में बंद कालीचरण को कड़ी सुरक्षा के बीच ट्रांजिट रिमांड पर अपने साथ लेकर वर्धा के लिए रवाना हो गई।

टिकरापारा इलाके में पिछले महीने आयोजित धर्म संसद में महात्मा गांधी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी कर सुर्खियों में आए कालीचरण की मुश्किले कम होने का नाम नहीं ले रही है। उनके खिलाफ पुलिस ने राजद्रोह समेत अन्य धाराओं के तहत अपराध दर्ज कर मप्र के छतरपुर जिले के बागेश्वर धाम के पास स्थित एक छोटे से लाज से गिरफ्तार कर रायपुर लेकर आई थी। इसके बाद पुणे पुलिस ने अपने यहां दर्ज केस कालीचरण को ट्रांजिट रिमांड पर पुणे लेकर गई थी और फिर वापस रायपुर केंद्रीय जेल में दाखिल कराया था। अब वर्धा पुलिस अपने केस के सिलसिले में कालीचरण को ट्रांजिट रिमांड पर लेकर रवाना हुई है।

महाराष्ट्र के अकोला, कडक, ठाणे समेत पांच अलग-अलग पुलिस थानों ने कालीचरण के खिलाफ अपराध दर्ज किया गया है। रायपुर कोर्ट से जमानत नहीं मिलने पर कोर्ट के आदेश पर 14 दिन के लिए कालीचरण रायपुर सेंट्रल जेल में बंद हैं। रायपुर कोर्ट से जमानत नहीं मिलने से कालीचरण के वकील हाइकोर्ट में जमानत याचिका दायर करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *