प्रांतीय वॉच

पारिवारिक विवाद और मारपीट से परेशान,अग्रवाल परिवार ने किया प्रेसवार्ता

सोन कुमार सिन्हा/डोंगरगढ : कहते है कि पैसा घर बनाता है और बिगाड़ता है,इसी संदर्भ में आज एक मामला प्रेस क्लब डोंगरगढ के सामने आया है जिसमे भतीजे ने ही रिश्ते के विश्वास को तोड़कर अपने चाचा से ही वादविवाद तथा मारपीट कर रहा है,इसी से परेशान होकर अग्रवाल परिवार ने प्रेसवार्ता किया।

धर्मनगरी डोंगरगढ के धर्मस्थल महावीरपारा के निवासी दीपक अग्रवाल ने आज प्रेसवार्ता कर अपनी पूरी कहानी बताई।मामला यह है कि पीड़ित दीपक अग्रवाल के भतीजे मनीष अग्रवाल ने दीपक अग्रवाल की पत्नी संजू देवी से किसी कार्यवश घर मे रखे 32 तोले सोने को मांग कर ले गया था जिसे मनीष अग्रवाल ने आठ महीनों में सोना वापस कर दूंगा करके इकरारनामा/बंध पत्र में लिखा पढ़ी करके दिया था।लेकिन अब उस सोने को मांगने पर नही दूंगा बोलकर अश्लील गाली दिया किया करता है व मारपीट करता हैऔर अपने चाचा दीपक की भी डंडे से मारकर अधमरा भी कर दिया, जिसकी रिपोर्ट पीड़ित पक्ष द्वारा थाना डोंगरगढ में दर्ज करवाया गया लेकिन थाने से भी फैना रिपोर्ट देकर न्यायालय भेज दिया गया।जिससे पीड़ित परिवार और ज्यादा परेशानी में आ गये। वही पीड़ित संजुदेवी अग्रवाल द्वारा बताया गया कि उनके जेठ महावीर प्रसाद अग्रवाल के पिछले 14 वर्षो से रह रहे थे लेकिन पिछले 5 वर्षो से अलग हो चुके है।लेकिन जब पीड़ित पक्ष अपना चल अचल संपत्ति मांगने अपने जेठ एवम भतीजे संपत्ति देने से मना कर दिया और जान से मारने की धमकी देते है।पीड़ित पक्ष द्वारा ये भी बताया गया कि यह पारिवारिक विवाद का समझौता कराने के लिए भी समाज मे आवेदन दिया गया था जिसमे मनीष अग्रवाल और उसके पिता ने दीपावली तक हिसाब कर दूंगा करके पूरे समाज के सामने आश्वस्त किये थे।लेकिन बात को मनीष अग्रवाल टालते ही जा रहा था।और अब तक टाल रहा है।जिससे पीड़ित परिवार को बहुत परेशानी और आर्थिक तंगी से गुजरना पड़ रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *