देश दुनिया वॉच

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के ‘जय-वीरू’ में सुलह कराने की कोशिश! राहुल संग सीनियर नेताओं की बैठक

रायपुर : टीएस सिंह देव और सीएम भूपेश बघेल के बीच मनमुटावसुलह कराने में जुटी कांग्रेससीनियर नेताओं संग राहुल गांधी की बैठक
छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के अंदरूनी घमासान को सुलझाने के लिए राहुल गांधी बैठक कर रहे हैं. बैठक में छत्तीसगढ़ के नंबर वन और पार्टी के नंबर वन लीडर शामिल हो रहे हैं. सीएम भूपेश बघेल और स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव के साथ-साथ छत्तीसगढ़ के इंचार्ज पूनिया भी बैठक में मौजूद हैं. एक वक्त पर भूपेश बघेल और टी एस सिंह देव को राहुल गांधी की जय और वीरू की जोड़ी कहा जाता था लेकिन सरकार के 3 साल पूरे होते-होते दोनों के बीच टकराव लगातार बढ़ता जा रहा है. आलम यह है कि भूपेश बघेल और टी एस सिंह देव के बीच ठन गई है. सूत्रों के मुताबिक टी एस सिंह देव को पार्टी हाईकमान ने सरकार के ढाई साल बाद मुख्यमंत्री बनाने का वादा किया था मगर अब 3 साल बीत गए हैं और भूपेश बघेल ने अपनी पकड़ पार्टी में और सीएम की कुर्सी पर काफी मजबूत कर ली है. बघेल ने राहुल गांधी के चुनाव के दौरान किए गए वादों को पद संभालते ही लागू करने का ऐलान कर दिया था. उधर, टीएस सिंह देव के खेमे का कहना है कि लगातार उनको टारगेट किया जा रहा है. शिकायतें ये भी है कि कांग्रेस पार्टी के मेनिफेस्टो के विपरीत स्वास्थ्य क्षेत्र में निजीकरण किया जा रहा है और ऐसा स्वास्थ्य मंत्री की जानकारी के बगैर किया जा रहा है. हाल ही में छत्तीसगढ़ विधानसभा से टी एस सिंह देव के वॉकआउट की तस्वीरें वायरल हुई थी. दरअसल यहां कांग्रेस विधायक ने उनपर हत्या की कोशिश का आरोप लगाया था जिसको लेकर वह आहत थे और उन्होंने उस विधायक के खिलाफ कार्यवाही की मांग की थी. पार्टी आलाकमान के दखल के बाद ही मामला सुलझ पाया और उस विधायक को शो कॉज नोटिस भी दिया गया. छत्तीसगढ़ में भी कहीं कांग्रेस का हाल राजस्थान की तरह ना हो जाए इसलिए राहुल गांधी इस रार को सुलझाने की कोशिश में लगे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *