बड़ी ख़बर

देवरी खुर्द का सनसनीखेज मामला – अवैध मजार नुमा मकान में चल रही थी रहस्यमई गतिविधियां मिली महिलाओं की क्रॉस की हुई तस्वीरें क्या ली गई थी सुपारी या किया जा रहा था काला जादू

देवरी खुर्द का सनसनीखेज मामला –
अवैध मजार नुमा मकान में चल रही थी रहस्यमई गतिविधियां
मिली महिलाओं की क्रॉस की हुई तस्वीरें
क्या ली गई थी सुपारी या किया जा रहा था काला जादू

– सुरेश सिंह बैस

बिलासपुर। देवरी खुर्द के अटल आवास में 120 के करीब मकान में मुसलमान परिवारों द्वारा अवैध रूप से कब्जा किए जाने के मामले में रोज नये खुलासे हो रहे हैं। ऐसा माना जा रहा है कि तालापारा के अलावा अन्य प्रदेशों से भी मुसलमान परिवारों ने अवैध रूप से सरकारी मकान पर कब्जा जमाया हुआ है,। इनमें कुछ लोग रोहिंग्या और बांग्लादेशी भी हो सकते हैं। स्थानीय लोगों का आरोप है, इनके द्वारा पूरे इलाके में दहशत फैलाकर हिंदू परिवारों को पलायन के लिए विवश किया जा रहा है। यहां अवैध रूप से मकान नंबर 199 और 200 में मजार नुमा चिल्ला दरबार बनाकर रूहानी इलाज का दावा किया जा रहा है। यह खबर वायरल हुई तो फिर अतिक्रमणकारी रफीक खान को नोटिस दिया गया। रफीक खान ने खुद ही यह अतिक्रमण हटाने का दावा किया, लेकिन दाल में काफी कुछ काला है। यहां गुंबद नुमा इमारत को हटाने की तस्वीर नहीं लेने दी जा रही। जैसे ही मीडिया की टीम मौके पर पहुंचती है मुसलमान महिलाओं को आगे कर दिया जाता है, जो फोटोग्राफर को तस्वीर नहीं लेने देते। स्थानीय लोग दावा कर रहे हैं कि बाहर से थोड़ा बहुत बदलाव जरूर किया गया है लेकिन अब भी अटल आवास में चिल्ला दरबार लग रहा है। दिलचस्प बात यह है कि नगर निगम ने नोटिस देकर केवल अतिक्रमण हटाने को कहा जबकि दोनों ही मकान रफीक खान को आवंटित ही नहीं है। फिर भी वह इन मकानों में कब्जा जमाए हुए बैठा है ना जाने किस तरह। ज्ञात होउसे इन मकानों से बेदखल करने की कार्रवाई नहीं की गई। इधर बुधवार को भाजपा नेता धनंजय गोस्वामी ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। देवरीखुर्द अटल आवास में मजार नुमा इमारत बनाकर केवल झाड़फूंक और तंत्र मंत्र ही नहीं किया जा रहा हैं बल्कि और भी बहुत कुछ अंदर खाने में चल रहा है । जिसका खुलासा होना अत्यंत जरूरी है। ऊपर से यह सब कुछ जितना सामान्य दिख रहा है, सच्चाई उससे कहीं अधिक भयावह और षड्यंत्रकारी है।भाजपा नेता धनंजय गोस्वामी ने बुधवार को चौंकाने वाले खुलासे करते हुए बताया कि जांच के दौरान इस दरबार से काफी संख्या में महिलाओं और पुरुषों की तस्वीरें मिली है।

इन तस्वीरों में से अधिकांश हिंदू महिलाएं हैं। तस्वीरों में महिलाओं के चेहरे पर गोल निशान बनाकर क्रॉस किया गया है,

जैसे उन्हें किसी तरह का टारगेट किया जा रहा हो। जानकार बता रहे हैं कि या तो इन लोगों की सुपारी ली जा रही है या फिर उनकी जान लेने की नियत से उनके खिलाफ कोई काला जादू किया जा रहा है। इनमें से अधिकांश महिलाएं हिंदू है। इसलिए इन्हें लव जिहाद के लिए टारगेट बनाने से भी इनकार नहीं किया जा रहा। बड़ा सवाल यही है कि आखिर किसी धार्मिक स्थल पर इस तरह से महिलाओं की इतनी तस्वीर क्यों है? और उन पर इस तरह क्रॉस निशान क्यों लगाया गया है ? इसके पीछे क्या मंशा है और क्या उद्देश्य,! यह पता लगाना बेहद जरूरी है। नाम न छापने की शर्त पर एक व्यक्ति ने बताया कि इनमें से कई लोगों की अस्वाभाविक मृत्यु हो चुकी है,! इसलिए भी तस्वीरों पर ऐसे निशान किसी बड़े आपराधिक षडयंत्र की ओर इशारा कर रहे हैं। पुलिस अगर चाहे तो इन तस्वीरें की सच्चाई पता लगा सकती है कि यह तस्वीर किनके हैं। जिसके बाद ही रहस्य पर से पर्दा उठ पाएगा।इधर लगातार पुलिस इस क्षेत्र में जांच पड़ताल कर रही है और यहां बसे लोगों के दस्तावेज खंगाले जा रहे हैं, लेकिन स्थानीय लोगों की शिकायत है कि इन सब में बहुत समय जाया किया जा रहा है और अवैध रूप से बसे संदिग्ध इस अवसर का लाभ लेकर पलायन कर रहे हैं।पूरे मामले में सबसे चौका देने वाली बात, यह तस्वीरें हैं बड़ा सवाल यही है कि आखिर यह तस्वीर किनकी है ?और इन पर यह निशान क्यों बनाया गया है? , इसका मकसद क्या है? पुलिस को यह जल्द पता लगाना चाहिए कि कहीं तस्वीर में दिख रहे लोगों की जान खतरे में तो नहीं है? भाजपा नेता ने सोशल मीडिया पर यह तस्वीर जारी करते हुए अपना मोबाइल नंबर भी वायरल किया है और कहां है कि तस्वीर में दिख रहे लोगों के बारे में अगर किसी को भी कोई जानकारी हो तो वह उनसे संपर्क करें, जिससे कि इस रहस्य पर से पर्दा उठ सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *