प्रांतीय वॉच

नगर में बढ़ रहा आईपीएल पर अवैध सट्टे का कारोबार

(नवागढ़ ब्यूरो) संजय महीलांग l आईपीएल मैच शुरू होने के साथ ही नगर पंचायत नवागढ़ में आईपीएल पर सट्टा लगाने वालों की बाढ़ सी आ गई है। लेकिन पता नही क्यों इस मामले में कोई ठोस कार्यवाही नहीं की जा रही है।आईपीएल सट्टे का बोलबाला है। ऐसे कई अड्डे हैं जहां कई मोबाईल सेट के माध्यम से आईपीएल पर सट्टा लगाया जा रहा है। ऐसे में नगर का युवा वर्ग सट्टे की गिरफ्त में फंसते जा रहा है। जिस प्रकार मैच के दौरान चौका, छक्का लगाने पर चीयर लीडर्स का उत्साह देखते ही बनता है ठीक उसी प्रकार इस कारोबार में हर रोज दो-चार मालामाल हो रहे हैं जबकि सैकड़ों युवा कर्ज और कंगाली के दलदल में फंसते जा रहे हैं।हर बॉल पर सट्‌टा- आईपीएल में सट्टे का बोलबाला इस कदर बढ़ा हुआ है कि दोनों टीमों के द्वारा फेकी जाने वाली हर बॉल में लाखों रुपए के सट्टे का दांव लगता है। वहीं चौके-छक्के और विकेट गिरने पर सट्टे का रेट भी ऊपर नीचे होता है। जिस प्रकार जिले में आईपीएल मैच पर सट्टा लगाने का कारोबार चल रहा है। उसमें पुलिस के नाकाम सूचना तंत्र को उजागर कर दिया है। बेईमानी के धंधे में जितनी ईमानदारी है उतनी और कहीं नही।यही वजह है कि सट्टे में मिलने वाली और लगने वाली रकम का हिसाब किताब बिना किसी लिखा पढ़ी के इस प्रकार ट्रांसफर कर दी जाती है कि किसी को कानों कान खबर नहीं हो पाती। यह रकम तो कभी कभी लाखों तक पहुंच जाती है लेकिन उसके बाद भी न तो लेने वाले का न ही देने वाले का ईमान कभी डगमगाता है। हॉ इतना जरूर होता है कि कभी कभार किसी मिस अंडर स्टैंडिंग की वजह से लेन देन में विवाद होता है लेकिन उसके लिये भी संचालनकर्ता मोबाइल में बुक कराई गई राशि और रनों की संख्या की रिकार्डिंग आसानी से खिलाड़ी को सुना देेते हैं। जनापेक्षा है कि इस मामले में उच्चाधिकारी त्वरित कार्यवाही करते हुये आईपीएल सट्टे में खेलने और खिलाने वालों पर कड़ी कार्यवाही करें जिससे इस अवैध कारोबार पर अंकुश लग सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *