रायपुर वॉच

उत्तराखंड जल तांडव में फंसे छत्तीसगढ़ के 55 पर्यटक, स्टूडेंट्स को लेकर गई टीचर ने कहा, न खाने को है न पीने को, दहशत में कट रही रात

उत्तराखंड जल तांडव में फंसे छत्तीसगढ़ के 55 पर्यटक, स्टूडेंट्स को लेकर गई टीचर ने कहा, न खाने को है न पीने को, दहशत में कट रही रात,उत्तराखंड जल तांडव में फंसे छत्तीसगढ़ के 55 पर्यटक, स्टूडेंट्स को लेकर गई टीचर ने कहा, न खाने को है न पीने को, दहशत में कट रही रात,उत्तराखंड जल तांडव में फंसे छत्तीसगढ़ के 55 पर्यटक, स्टूडेंट्स को लेकर गई टीचर ने कहा, न खाने को है न पीने को, दहशत में कट रही रात

भिलाई : उत्तराखंड में बादल फटने, जल तांडव और भू-स्खलन की घटना के चलते छत्तीसगढ़ के भिलाई के 55 लोग दहशत में है। दरअसल स्टील क्लब सेक्टर 8 के एरोबिक क्लास की टीचर रूही मिश्रा अपने स्टूडेंट्स को लेकर नैनीताल गई हुई हैं। वहां सभी खराब मौसम की वजह से फंस गए हैं। वे सभी सोमवार सुबह हील स्टेशन कसौली घूमने गए थे। इसके बाद वापसी में वे कैंचीधाम के पास फंस गए।

परिजनों ने लगाई मदद की गुहार
बारिश की वजह से वहां सड़कें पूरी तरह टूट गई है। न तो आगे बढऩे का रास्ता बचा है और न ही पीछे जाने का। सोमवार दोपहर बाद करीब 3 बजे से मंगलवार दोपहर तक गाड़ी के अंदर दशहत में बैठे ये सभी लोग मुश्किल से बाहर निकले और पास के गांव के एक स्कूल में ठहरे हैं। वहां न तो उनके पास खाने को कुछ है और न ही पीने तक को पानी। अपने परिजनों की यह हालत देख भिलाई और दुर्ग के रहने वाले सभी परिवार के लोगों ने सांसद विजय बघेल , विधायक देवेन्द यादव और जिला प्रशासन से मदद मांगी है। इसके बाद जिला प्रशासन भी अपने स्तर पर नैनीताल संपर्क कर रहा है।

डेढ़ घंटे पैदल चले तब मिली जगह
सिंधिया नगर निवासी प्रसन्नजीत दास ने बताया कि इस ट्रिप में उनकी पत्नी और दोनों बेटी साथ गई हैं। उनसे वे लगातार संपर्क में है। उन्होंने बताया कि सभी लोगों ने दहशत के बीच गाड़ी के अंदर ही रात बिताई। दोपहर को किसी ने उनसे कहा कि पास ही एक स्कूल है और वे सभी पैदल ही वहां चल पड़े, लेकिन तेज बारिश और खराब मौसम की वजह से कई लोगों को इस दौरान चोट भी आ गई। किसी तरह वे स्कूल पहुंचे तो वहां न तो बिजली है और न ही पीने को पानी। वे वहीं भूखे-प्यासे बैठे हैं।

सांसद ने की बात
बीएसपी वक्र्स यूनियन के अध्यक्ष उज्ज्वल दत्ता ने बताया कि उनकी यूनियन के कई साथी का परिवार इस ट्रिप में शामिल है। उन्होंने परिजनों की हालत देखते हुए तत्काल सांसद विजय बघेल से बात की। इसके बाद सांसद बघेल ने नैनीताल के सांसद और केन्द्रीय रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट से बात की। ताकि परिजनों को एयर लिफ्ट करा उनकी जान बचाई जा सकें। दत्ता ने बताया कि वहां फंसे लोग काफी डरे हुए हैं। उनके पास बात करने का जरिया भी नहीं है। पर उनकी टीम यहां जनप्रतिनधियों से लेकर जिला प्रशासन से संपर्क बनाए हुए हैं।

भगवान का शुक्रहै हम सुरक्षित
इस एरोबिक क्लास के कई ऐसे स्टूडेंट है जो इस ट्रिप में जाने की टिकट कराने के बाद भी टूर पर नहीं गए। सेक्टर 7 निवासी प्रभा गुप्ता ने बताया कि वे भी एरोबिक क्लास की स्टूडेंट है और वे भी अपनी दो सहेलियों के साथ टूर पर जाने वाली थी, लेकिन उन्होंने टिकट कैंसल करा दी थी। आज उन्हें यह खबर लगी तो वे काफी परेशान है क्योंकि उनके ग्रुप के कई सदस्य इस टूर में शामिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *