प्रांतीय वॉच

कन्या माध्यमिक शाला कोण्टा में मनाया गया संस्कृत सप्ताह

  • संस्कृत शिक्षिका सेवा निवृत्त प्रधान अध्यापिका श्रीमती लक्ष्मी कांता यादव का किया गया सम्मान

बालकृष्ण मिश्रा/सुकमा : स्कूल शिक्षा विभाग छत्तीसगढ़ के निर्देशानुसार 19 से 25 अगस्त तक संस्कृत सप्ताह मनाया जा रहा है। इसी क्रम में आज छठवें दिवस पर कन्या माध्यमिक शाला कोण्टा में विभिन्न कार्यक्रमो का आयोजन किया गया। संस्कृत सप्ताह के छठवें दिवस आयोजित कार्यक्रम में मां सरस्वती के तैलचित्र पर माल्यार्पण और दीप प्रज्ज्वलन किया गया। कार्यक्रम के अध्यक्ष सेवानिवृत्त शिक्षक, वरिष्ठ शिक्षाविद् श्री राजशेखर राव ने कहा कि संस्कृत सभी भाषाओं की जननी है। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सेवानिवृत्त प्रधान अध्यापिका श्रीमती लक्ष्मीकांता यादव ने संस्कृत की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए कहा कि संस्कृत एक प्राचीन भाषा है, जिसमें सर्वस्व सन्निहित है। इस कार्यक्रम में उपस्थित प्रधान अध्यापक श्री टी. श्रीनिवास ने कहा कि संस्कृत भाषा में अपनी विशिष्टता एवं वैज्ञानिकता के कारण भारतीय विरासत को सहेजकर रखने में अपना अप्रतिम योगदान दिया है। संस्था के प्रधान अध्यापक राज्य स्तर पर सम्मानित श्री सुशील श्रीवास ने कहा कि संस्कृत भाषा विलक्षण भाषा है, जो श्रृति एवं स्मृति में सदैव अविस्मरणीय है। इस अवसर पर संस्था के विद्यार्थियों के द्वारा संस्कृत भाषा मे विभिन्न रचनाओं का सुंदर प्रस्तुति किया गया। कार्यक्रम में मुख्यरूप से उपस्थित श्रीमती लक्ष्मीकांता यादव जो इसी संस्था में पूर्व में पदस्थ थी उन्हें शाल, श्रीफल एवं स्मृति भेंट देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में संस्था में पदस्थ शिक्षिका श्रीमती सच्चावती नाग, श्रीमती ममता सिकरवार उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन श्री विश्वजीत मण्डल ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *