रायपुर वॉच

पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमनसिंह के आरोप पर कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे का पलटवार, कहा- दो साल बाद दर्शक दीर्घा से भी हो जाएंगे बाहर डॉ रमन सिंह

  • जहां बारिश नहीं हुई वहां को लेकर सतर्क है सरकार

रायपुर। दिल्ली में हुई पार्टी नेताओं की बैठक पर पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमनसिंह के आरोप पर पलटवार करते हुए प्रदेश के कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा कि राजनीति के अच्छे जानकार हैं डा.रमनसिंह जी इसीलिए तो कह रहे हैं कि दर्शक दीर्घा में बैठे हैं,15 साल सत्ता में रहे वे सब जानते हैं। इंतजार करें दो साल बाद उन्हे यह भी कहना पड़ेगा कि प्रदेश की जनता ने उन्हे दर्शक दीर्घा से भी बाहर कर दिया। क्या राज्य की विकास योजनाओं को लेकर प्रदेश के नेता राहुल गांधी से चर्चा नहीं कर सकते। यदि राजनीतिक विषयों पर चर्चा हुई या नहीं इसे लेकर रमन सिंह जी को क्यों परेशानी हो रही है?
मंगलवार दोपहर एक पीसी में मंत्री चौबे ने कहा कि भाजपा के शासनकाल में जितने निर्माण कार्य हुए वो भ्रष्टाचार को प्रदर्शित करता है। राज्य सरकार शराब नीति,स्काई वाक से लेकर हर मुददों पर लगातार विचार कर रही है। किया धरा उनका(भाजपा)का है और भुगतना हमें पड़ रहा है। ढाई साल में भूपेश सरकार ने जो काम किया है उसका आकलन प्रदेश की जनता स्वंय कर रही है। बारिश की स्थिति को लेकर मंत्री्र चौबे ने कहा कि प्रदेश के कुछ जिलों में हालात चिंताजनक है। सरकार हर स्थिति पर नजर रखी हुई। हमने अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए है कि किसानों की मदद की जाए। तांदुला कॉम्प्लेक्स और रविशंकर परियोजना में थोड़ी दिक्कत है, जिसका समाधान किया जाएगा। हम बारिश की प्रतीक्षा कर रहे है।कल जल संसाधन विभाग की बैठक है। इसमें छत्तीसगढ़ में बारिश की स्थिति और बांधो की व्यवस्था को लेकर समीक्षा की जाएगी।
क्या कहा था पूर्व मुख्यमंत्री ने 
पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह का आज बयान आया था कि दिल्ली से जिसको उम्मीद है वो लोग टीके। हम तो दर्शक दीर्घा में बैठे हुए लोग है। प्रदेश की राजनीति क्या करवट लेती है ये देखना होगा,ढाई ढाई साल का मुद्दा बार बार आता है। कुछ ऐसी बातें बीच में आती है केंद्रीय नेतृत्व ने वादा किया था या नहीं.इसमें जो भी है केंद्रीय नेतृत्व को ही इसका फैसला करना है। टीएस बाबा के बयान राजनीति में सबका समय आता के सवाल पर कहा.ये टीएस सिंहदेव के दिल की बात है। वे मन की बात बोल रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *