क्राइम वॉच

पथराव कर लठैतों ने किया पीछा, जान बचाने के लिए ड्राइवर ने थाने में घुसाई यात्रियाें से भरी बस

बहादुरपुर । इंदौर से यात्रियों को लेकर अशोकनगर जा रही एक बस को बंगला चौराहा पर रोक लिया गया। इसके बाद बस में सवार स्टाफ से अभद्रता की और कांच तोड़ दिए। ड्राइवर ने जान बचाने के लिए बस को दौड़ा दिया। वह इसे करीब पांच किमी दौड़ाता हुआ बहादुरपुर थाने ले गया और थाना परिसर में घुसाया। दबंग लोग भी हाथों में लाठी, लुहांगी व लोहे के सरिया लेकर बाइक से इसका पीछा कर रहे थे। वारदात रविवार सुबह की है। पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए तीन लोगों को तत्काल ही पकड़ लिया। कुछ घंटे बाद ही अन्य दाे लोग भी पुलिस हिरासत में पहुंच गए। बहरहाल, इस बीच करीब तीन घंटे तक यात्रियों की जान सांसत में रही, जिनमें महिलाएं भी शामिल थीं। जानकारी के अनुसार विशाल अहिरवार नामक युवक इंदौर से बंगला चौराहा जाने के लिए स्लीपर बस क्रमांक यूपी 83 टी 4543 में सवार हुआ था। सीहोर के आसपास जब युवक ने बस में शराब पीना शुरू किया तो चालक ने उसे मना किया, लेकिन युवक झगड़ने लगा तो उसे बस से सीहोर में उतार दिया। इसके बाद विशाल के पिता लेखराज, दादा घासीराम व अन्य स्वजनों ने बंगला चौराहे पर यह गुंडागर्दी की। इस घटना का एक विडियो भी सामने आया है, जिसमें बदमाशों की गुंडागर्दी दिखाई दे रही है। बताया जाता है कि स्लीपर बस को करीब आधा दर्जन बदमाशों ने मोटरसाइकिलें आड़ी लगाकर रोक लिया और बस में तोड़फोड़ कर दी। बदमाशों के हौसले इतने बुलंद थे कि उन्होंने बेख़ौफ़ होकर पुलिस के बेरिकेड्स लगाकर रास्ता जाम कर दिया था। करीब दस मिनट तक बस के चालक और सवारियों से गाली-गलौच करने के बाद बदमाशों ने बस में तोड़फोड़ शुरू कर दी। ईंट और पत्थरों से बस के आगे वाले कांच को निशाना बनाया तो चालक ने जान बचाने के लिए बस अशोकनगर की बजाय बहादुरपुर की ओर दौड़ा दी। बदमाशों ने मोटरसाइकिल से बस का पीछा बहादुरपुर तक किया और पांच किलोमीटर तक हथियार लहराकर इलाके में दहशत फैला दी। बस में तोड़फोड़ से तीन सवारियों को चोटें आई हैं। चालक ने बस को सीधा थाना परिसर में घुसा दिया, जिसके बाद हरकत में आई पुलिस ने तीन बदमाशों को भागते हुए पकड़ लिया। करीब आधे घंटे बाद दो अन्य ने आकर आत्मसमर्पण कर दिया। इस बीच करीब तीन घंटे तक बस में सवार यात्री परेशान होते रहे। एफआईआर दर्ज होने के बाद बस को अशोकनगर के लिए रवाना किया गया।

इन पर दर्ज किया गया मामला

दिनदहाड़े एक घंटे तक सड़क पर उत्पात मचाने वाले इन बदमाशों पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया। पुलिस ने आरोपित लेखराज, धनराज, सोनू सभी जाति अहिरवार एवं निवासी सिंधी नगर दीपना खेड़ा जिला विदिशा व हल्के अहिरवार निवासी ओंडेर पर भादवि की धारा 294, 336, 427, 341, 34 आईपीसी के तहत प्रकरण दर्ज कर निजी मुचलके पर छोड़ दिया। खास बात है कि दो बदमाश थाने तक भी लाठियां लहराते हुए बस के पीछे आये थे।

इनका कहना

बस में एक युवक शराब पीकर बैठा था, उसे उतारे जाने के बाद उसके घर वालों ने बस को बंगला चौराहा पर रोक लिया था। इस मामले में तत्काल आरोपितों पर एफआइआर दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है।

– जंगबहादुर सिंह तोमर, थाना प्रभारी बहादुरपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *