प्रांतीय वॉच

मुख्यालय के नजदीक विचरण कर रहा हाथियों का दल ग्रामीणों मे दहशत

पुलस्त शर्मा/ मैनपुर : वन परिक्षेत्र मैनपुर के फुलझर ग्राम के आसपास आज गुरूवार को अल सुबह 15 जंगली हाथियो का दल ठेमली पथर्री जंगलो से निकलकर मुख्य मार्ग के किनारे फसलो को रौंदते जमकर उधम मचाया है वहीं दल से निकलकर कुछ हाथी मुख्यालय मैनपुर के नजदीक सुबह पेट्रोल पंप के पीछे जंगल में घंटो तक अटखेलियां करते रहा जिससे ग्रामीणो मे भारी दहशत देखने को मिल रही है और ग्रामीण लकड़ी व जरूरी वनोपज के लिए जंगल जाने से डरने लगे है। वन विभाग से मिली जानकारी के अनुसार 15 हाथियों के दल में 3 शावक भी देखा गया है जो दल के बीचो बीच व्यस्क हाथी के नेतृत्व में विचरण कर रहे है ये हाथियो का दल फुलझर सलफ जलाशय के किनारे मुख्य मार्ग से 100 मीटर दूर पूरे दिन जंगल मे विश्राम कर रहे थे जिसके कारण वन विभाग द्वारा मुख्य मार्ग में आवाजाही को कुछ समय के लिये रोक लगा दिया गया था। मुख्यालय के नजदीक पहुंुचे हाथियों के दल पर वन विभाग द्वारा पैनी नजर बनाया गया है और हाथियों के हर गतिविधियों पर आसपास के ग्रामो के ग्रामीणों को हाथी वाले ईलाके मे नही जाने की लगातार अपील कर रहे है। ऐसा पहली बार है जब हाथियों का दल मुख्यालय के दो किमी के नजदीक तक देखा गया है वहीं तहसील मुख्यालय मैनपुर से महज 5 किलोमीटर दूर ग्राम फुलझर के उपरी पठार जंगल मे आज पूरे दिन हाथियो का दल डेरा जमाये हुए है और ग्रामीणो के अनुसार यह हाथियों का दल ठेमली पथर्री के आधा दर्जन ग्रामीणों के फसलो को रौंदने व सौर पैनल को ध्वस्त करने के बाद फुलझर के आसपास पहुंचा हुआ है और नदी के पास जंगल के भीतर मंडरा रहे है। ठेमली के किसान गिरधारी यादव, गौतम ध्रुव, मन्नूलाल, परमेश्वर ध्रुव ने बताया कि 15 हाथियों का दल काठीपारा गोबरा के जंगल क्षेत्र से ग्राम के नजदीक तक पहुंचे और उधम मचाते हुए किसानो के खेतो को बूरी तरह रौंद डाले है किसानो ने इस मामले की जानकारी वन विभाग को देते हुए मुआवजे की मांग किया है जिसके बाद हाथियों का दल फुलझर घाटी के आसपास घंटो मंडराते देखा गया। वन विभाग के अधिकारी अमले के साथ फुलझर, नहानबिरी, ठेमली, पथर्री पहुंचकर गांव मे मुनादी करा कर लोगो को हाथी वाले स्थान से दूर रहने की अपील किया जा रहा है साथ ही वन अमला लगातार हाथियो के हर गतिविधियो पर नजर बनाये हुए है वन अमला द्वारा ग्रामीणो से अपील किया जा रहा है कि जहां हाथी है उस जंगल मे ग्रामीण न जाये अपनी सुरक्षा और बच्चो की सुरक्षा मे सावधानी बरते। ज्ञात हो कि पिछले तीन से चार दिनों में हाथियों का दल विकासखंड मैनपुर क्षेत्र के 15 से 20 किमी के दायरे मे जंगलो ंमे विचरण कर रहे है और फसलो को नुकसान पहुंचाते बूरी तरह से रौंद रहे है हाथियों के दहशत से ग्रामीण बेहद परेशान है और मारे डर से जंगल क्षेत्र के आसपास अपने खेतो की रखवाली करने जाने कतरा रहे है। वहीं मंगलवार सुबह हाथियों का दल रिसगांव परिक्षेत्र के जंगल मे ढोलसरई के एक युवक को पटक पटक कर बूरी तरह से घायल कर दिया जिसकी मैनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मे ईलाज के दौरान मौत हो गई थी जंगल क्षेत्र मे विचरण कर रहे 15 हाथियों का दल मक्के की फसल को भी बर्बाद करते रौंदते रिसगांव की तरफ निकल चुके थे। पिछले तीन दिनो से इस क्षेत्र के जंगल मे हाथियो का दल घुम रहा है और तीन शावक के साथ व एक व्यस्क हाथी जो दल का मुखिया है लगातार विचरण कर रहे है हाथियो के चिघाड़ से जंगल सहित गांव दहल रहा है ग्रामीणो ने बताया ग्रामीण अकेले जंगल व लकड़ी लाने ले जाने को डर रहे है ग्रामीणो के दल ने हमारे संवाददाता को जंगल के भीतर ले जाकर हाथियो के पद चिन्ह व मल को दिखाया मैनपुर जंगल मे हाथियो के दल पहुंचने से वन विभाग की नींद उड़ गई है। वन विभाग से मिली जानकारी के अनुसार देर शाम 7 बजे के आसपास हाथियों के झुंड मुख्य मार्ग को पार कर फुलझर बांध जंगल की तरफ आगे बड़े है जिनका फुलझर बांध के उपर ही विश्राम करने की संभावना जतायी जा रही है क्योंकि दिन भर चलने के बाद प्यासे हाथी बांध के किनारे ही ठहरने की गुंजाइस है।
इस संबंध मे सहायक वन परिक्षेत्र अधिकारी श्री भोई ने बताया कि ठेमली में किसानो के धान की फसल को रौंदने के बाद 15 हाथियों का दल फुलझर घाटी पहुंचा हुआ है जिनमें 2 शावक भी है फुलझर के पास जंगल मे विश्राम करने के बाद देर शाम 7 बजे के आसपास हाथियों का दल मुख्य मार्ग को पारकर फुलझर के उपरी पठारी ईलाके की ओर बढे है। उन्होने बताया कि हाथियों की हर गतिविधियों पर विभाग द्वारा नजर रखी जा रही है साथ ही ग्रामीणों को मुनादी कराकर सावधानिया बरतने व जंगल क्षेत्र मे नही जाने अपील की जा रही है।
फोटो:- हाथियों का दल पहुंचा मुख्यालय के नजदीक ग्रामीण चिंतित।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *