प्रांतीय वॉच

45 वर्ष या उससे अधिक उम्र के सभी लोगों का होगा टीकाकरण

  • 81 वर्षीय तुलिका दास को लगा टीका, मुस्कुराते हुए कहा-आप भी लगवाएं
  • वैक्सीनेशन के लिए पहुंचे लोगों को वितरित की गई जनमन पत्रिका
  • जनमन से मिलती है शासकीय योजनाओं की जानकारी, पढ़ने में विशेष रूचि लेते हैं लोग

    आफताब आलम/ बलरामपुर : जिले में कोरोना संक्रमण से बचाव एवं उसे फैलने से रोकने के लिए 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र के सभी लोगों का टीकाकारण कार्य किया जा रहा है। जिला चिकित्सालय स्थित आश्रय स्थल में बनाये गये कोविड वैक्सीनेशन सेन्टर में लोगों को वैक्सीन की पहली डोज दी गई। प्रशिक्षित स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा टीकाकरण पश्चात हितग्राहियों से सामाजिक दूरी एवं मास्क का उपयोग करने की अपील भी की जा रही है। इस दौरान टीकाकरण के लिए तथा टीकाकरण के पश्चात आॅब्जर्वेशन रूम में बैठे लोगों को जनसम्पर्क विभाग द्वारा प्रकाशित मासिक पत्रिका जनमन का वितरण किया गया। जनमन के माध्यम से लोगों को शासकीय योजनाओं तथा गतिविधियों की जानकारी प्राप्त होती है इसलिए जनमन प्राप्त करने तथा इसे पढ़ने में लोगों की विशेष रूचि देखने को मिली। वैक्सीन के लगाने के पश्चात 81 वर्षीय तुलिया दास ने मुस्कुराते हुए कहा कि डाॅक्टर इसे लगाने की सलाह दंे रहे हैं तो इसे जरूर लगवाएं। बीमारी से बचाव के लिए यदि यह जरूरी है तो लोगों को हिचकिचाना नहीं चाहिए। मैने वैक्सीन लगवा लिया है मुझे कोई दिक्कत नहीं हो रही है, आप सभी वैक्सीन जरूर लगवाएं। वैक्सीनेशन के लिए पहुंची 50 वर्षीय गायत्री सिंह ने भी बताया कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन तो लगाना ही पड़ेगा। डाॅक्टरों द्वारा बताये गये नियमों का पालन करने से निश्चित रूप से कोरोना से बचा जा सकता है। श्रीमती सिंह ने कहा कि लोगों को वैक्सीन लगाना चाहिए, इससे डरने की जरूरत नहीं है तथा वैक्सीन लगाने के बाद भी माॅस्क पहने तथा सोशल डिस्टेसिंग का पालन जरूर करें। जिला प्रशासन ने आगामी दिनों में शहरी इलाकांे के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रों में 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र के शत-प्रतिशत लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा है। साथ ही केन्द्रों में लोगों को टीका लगाने के बाद उनकी काउंसिलिंग कर उन्हें अन्य लोगों को प्रेरित करने को कहा जा रहा है। कोविड टीकाकरण के लिए 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र के लोगों को किसी भी प्रकार की बीमारी संबंधी दस्तावेज या सर्टिफिकेट दिखाना अनिवार्य नहीं है। कोई भी व्यक्ति शासकीय टीकाकरण केन्द्र में पंजीयन आधार कार्ड, मतदाता परिचय पत्र, पासबुक, ड्राईविंग लायसेंस जैसे फोटो आईडी या शासकीय अभिलेख और अन्य दस्तावेजों के आधार पर अपना टीकाकरण करा सकता है। इसके साथ ही टीकाकरण कराने वाले व्यक्ति को टीकाकरण केन्द्र में अपना मोबाईल नम्बर भी बताना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *