प्रांतीय वॉच

ग्रामीणों ने लगाया आरोप 8 हजार सागौन पौधा हुआ था रोपण

  •  चन्द घण्टो में कर दिया 6 लोगो ट्रैक्टर चला कर धरासाई, एक माह बाद भी कोई कार्यवाही नही
प्रकाश नाम/ केशकाल : एक और छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा जल जंगल जमीन को बचाए रखने यह तो राष्ट्रीय राजमार्ग सभी मुख्य मार्ग के किनारे लाखों की संख्या में पौधारोपण किया जा रहा है और सुरक्षा के लिए पर पौधा सैकड़ों रुपए खर्च किया जा रहा है लेकिन फरसगांव ब्लाक के ग्राम पंचायत बंजोड़ा मे और ही अलग नजारा देखने मिला जहां गांव के ही कुछ लोगो ने 8 हजार से अधिक लगे सागौन के पौधा को ट्रैक्टर से रौंदा गया और उन्हीं दबंगों के द्वारा शव को भी दफनाने मना किया गया इन सब समस्याओं को लेकर गांव की सभी जनप्रतिनिधि और लोगों ने बैठक कर उक्त लोगों के ऊपर कार्रवाई हेतु विधायक ,विभागीय अधिकारी , कलेक्टर को ज्ञापन देने के बाद भी कार्रवाई नहीं हो रहा है ।
ग्राम पंचायत बंजोड़ा के ग्रामीणों ने गांव के ही छ: परिवार जो पूरे गांव के विरोध में हैं जिन्हों गांव से सटे जंगल पी/28 जो कारपोरेशन विभाग के अंतर्गत आता है । जहां पर विभाग और ग्रामीणों के द्वारा 8000 पौधे रोपण किया गया था लेकिन गांव के ही चन्दकुमार पिता देवसिंह, जगजीवन पिता रामचरण , नकुल पिता नारायण, कृष्णकुमार पिता लखमुराम, कुबेर सिंह पिता लखमुराम और दयालुराम पिता लक्ष्मीनाथ के ऊपर ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि उन्होंने वन विभाग की जमीन में लगाए सागौन के हजारों पेड़ों को ट्रैक्टर चलाकर उडित और हिरवा लगा दिए हैं । जिस पर ग्रामीणों के द्वारा विरोध करने पर लड़ाई झगड़ा पर उतर आते हैं ।

4 साल पहले भी हुआ था अंधाधुन पेड़ों की कटाई

उत्तर वन मंडल केशकाल के वन परिक्षेत्र बड़ेडोंगर के ग्राम पंचायत बंजोड़ा के कॉम्पट नम्बर पीएफ/28 समीपवर्ती वन क्षेत्र में सन 2017 में लगभग 50-60 एकड़ के वन क्षेत्र में नैसर्गिक साल के हजारों वृ़क्षों की अंधाधुंध कटाई किया जा रहा है किन्तु वन विभाग  तक भी वन विभाग के द्वारा त्वरित कार्यवाही नहीं किया गया था । उसी प्रकार अभी भी ग्रामीणों की शिकायत के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं होता नजर आ रहा है ।
विधायक ,कलेक्टर ,डीएफओ और पुलिस थाना में शिकायत के बाद भी अब तक नहीं हुई आरोपियों पर कार्रवाई
ग्रामीणों ने बताया कि हमारे द्वारा लगभग 1 माह पूर्व केशकाल विधायक , कोंडागांव कलेक्टर , कारपोरेशन के डीएफओ जगदलपुर ,रेंजर और पुलिस थाना में भी शिकायत किया गया है लेकिन अब तक किसी ने भी उचित कार्यवाही नहीं किया जिसके चलते दबंगों में और हौसला बढ़ता गया ग्रामीणों ने यह भी आरोप लगाया है कि हमने विभाग के अधिकारियों को कार्रवाई करने कहा तो उनका कहना है कि राजनीति दबाव के चलते हम करवा ही नहीं कर पा रहे हैं । इससे साफ जाहिर होता है कि किस प्रकार से विभाग राजनीतिक दबाव के चलते सैकड़ों ग्रामीणों के द्वारा आवेदन का निराकरण नहीं कर पाते । लेकिन ग्रामीण को अब भी आस है कि विभाग के अधिकारी कर्मचारियों द्वारा हमें सही न्याय मिलेगा और आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही  करने  यह तो  गुहार लगाएं हैं साथ ही उन सभी आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई  करने की बात कही गई ।
शव को दफनाने को रोके कुछ ग्रामीण, घंटों बहस के बाद दफनाया गया शव 
ग्राम पंचायत बंजोड़ा ग्रामसभा हुआ जहां पर बताया गया कि कारपोरेशन जंगल के के 5 एकड़ को श्मशान घाट के लिए आरक्षित किया गया था वसी चारागाह के लिए 10 एकड़ और शेष जमीन पर पौधारोपण किया गया था जिस पर गांव के ही 6 लोगों ने अवैध तरीके से शकुंतला के पौधे को ट्रैक्टर से रोते हुए खेती किसानी करने में व्यस्त हैं ।

उक्त प्रकरण के दोषियों पर जल्द होगी कर्रवाई-

इस विषय पर कॉर्पोरेशन रेंजर गंजेन्द्र पांडे ने बताया कि घटना की सूचना मिलते ही हमारे द्वारा मौके पर पहुंच कर प्रकरण की जानकारी लेकर तत्काल पंचनामा किया गया है। उक्त क्षेत्र का पीओआर कर जांच में लिया गया है। इसमें संलिप्त सभी आरोपियों पर कार्यवाही किया जावेगा, साथ ही जितना भी पौधों का नुकसान हुआ है उसका भी भुगतान आरोपियों के द्वारा ही करवाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *