बिलासपुर वॉच

संभाग स्तरीय खेल प्रतियोगिता कबड्ड़ी में रायपुर और बैकुंठपुर बने चैंपियन

Share this

 

संभाग स्तरीय खेल प्रतियोगिता कबड्ड़ी में रायपुर और बैकुंठपुर बने चैंपियन

केन्द्रीय विद्यालय बिलासपुर में दिनांक 9 जुलाई एवं 10 जुलाई को संभाग स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता आयोजित की गई।
द्वितीय दिवस पर कबड्डी के सेमीफाइनल एवं फाइनल मुकाबले खेले गए। अंडर 14 बालिका वर्ग में केन्द्रीय विद्यालय क्रमांक 1 रायपुर प्रथम पाली चैंपियन बनी। अंडर 17 में केन्द्रीय विद्यालय बैकुंठपुर ने रोमांचक मुकाबले में रायपुर को हराकर शानदार जीत दर्ज की। वॉलीबाल में केन्द्रीय विद्यालय क्रमांक 2 रायपुर ने कवर्धा को हराकर विजयश्री हासिल की।


समापन समारोह के अवसर पर विद्यालय की प्रभारी प्राचार्य लैला कुमारी ने बताया कि इस क्रीड़ा महोत्सव के अंतर्गत केन्द्रीय विद्यालय संगठन, रायपुर संभाग के 13 विद्यालयों के 131 प्रतिभागियों एवं 25 अनुरक्षक शिक्षकों ने अपनी सहभागिता दी। केंद्रीय विद्यालय संगठन के निर्देशों के अनुरूप सभी क्रीड़ा गतिविधियों का आयोजन किया गया। इसके सफल आयोजन पर उन्होंने सभी निर्णायकों, स्कोरर, संबंधित शिक्षकों एवं प्रतिभागियों को हृदय से धन्यवाद ज्ञापित किया। उन्होने निर्णायक की शानदार भूमिका निभाने वाले निर्णायकों, कबड्डी में हरवंश कस्तूरिया, जितेंद्र सराफ, तैराकी में सतीश सिंह, विनय सिंह, वॉलीबाल में रमेश बहादुर सिंह, राजेश्वर सिंह, स्कोरर नारायण द्विवेदी जी क्रीड़ा प्रशिक्षक अविनाश यादव, मनीषा सिन्हा की भूरि-भूरि प्रशंसा की।
इस आयोजन के समन्वयक एवं विद्यालय के क्रीड़ा शिक्षक संतोष कुमार लाल ने प्रतिभागियों को खेल की बारीकियों एवं तकनीकी ज्ञान की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि खेल हम सबमें अनुशासन, एकजुटता, खिलाड़ी भावना व संकल्प शक्ति के गुण भरता है, जिससे हम जीवन के अन्य क्षेत्रों में लागू करते हुए प्रगतिशील बनकर सुनहरे भविष्य का निर्माण कर सकते हैं। आप सभी विद्यार्थियों में ऐसी प्रतिभा अंतर्निहित है। खेलकूद उसका प्रगटीकरण कर नेतृत्व क्षमता को भी विकसित करती है। विद्यालय की प्राचार्य लैला कुमारी ने प्रतिभागियों को आगामी स्पर्धा के लिए शुभकामनाएं प्रेषित की। विभिन्न विद्यालयों से आए प्रतिभागी विद्यार्थियों एवं उनके अनुरक्षक शिक्षकों ने केन्द्रीय विद्यालय बिलासपुर के इस आयोजन को अत्यंत सफल बताते हुए कहा कि इससे हमें प्रेरणा, प्रोत्साहन व मार्गदर्शन मिला, जिसे हम जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में अपनाना चाहेंगे। यह खेल महोत्सव विद्यालय के क्रीड़ा शिक्षक श्री संतोष लाल के कुशल निर्देशन में पूर्ण हुआ। इस क्रीड़ा उत्सव के सफलतापूर्वक आयोजन में सभी विद्यालयीन शिक्षकों एवं कर्मचारियों की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *