क्राइम वॉच

मिमिक्री कर आरोपी ने‌ इंजीनियर से ठग लिया एक करोड़ चालीस लाख रुपए

Share this

मिमिक्री कर आरोपी ने‌ इंजीनियर से ठग लिया एक करोड़ चालीस लाख रुपए

– सुरेश सिंह बैस

बिलासपुर। साइबर ठगी का एक अपने आप में बिल्कुल अनोखा मामला सामने आया है। जहां एक जान पहचान के युवक ने अपने ही परिचित युवक को अपनी मिमिक्री के हुनर का फायदा उठाकर उसे करीब डेढ़ करोड़ का चूना लगाया है। आरोपी युवक अलग- अलग किरदार बनकर सॉफ्टवेयर इंजीनियर को बेवकूफ बनाता और पैसे लेता रहा, लेकिन उसे कभी भी ठगे जाने का एहसास नहीं हुआ। ऐसा शायद इसलिए हुआ क्योंकि सॉफ्टवेयर इंजीनियर उस खूबसूरत लड़की से विवाह करना चाहता था, जिसकी तस्वीर शातिर आरोपी ने इंटरनेट से निकालकर उसे दिखाई थी। और वह खुद वही लड़की बनकर लड़की की आवाज में उससे बात करता था। साइबर ठगी के रोज नए-नए मामले सामने आ रहे हैं। इस बार एक शख़्स ने अपने आवाज बदलने की हुनर का इस्तेमाल कर मल्टीनेशनल कंपनी के सॉफ्टवेयर इंजीनियर से करीब 1 करोड़ 40 लाख रुपए की ठगी कर ली।बिल्कुल किसी फिल्मी कहानी की तरह शातिर मिमिक्री आर्टिस्ट ने परिचित युवक को चूना लगाया। आरोपी रोहित जैन को स्कूल के दिनों से ही मिमिक्री में महारत हासिल थी। वह महिला, पुरुष, फिल्मी कलाकारों और काल्पनिक कलाकारों के भी आवाज निकाल लेता था। अपने इसी हुनर का उसने अपराध में इस्तेमाल किया। दरअसल सरकंडा में रहने वाले नितिन जैन मल्टीनेशनल कंपनी पुणे में साइबर सॉफ्टवेयर इंजीनियर है। पुणे में रहने के दौरान रोहित जैन की अपने रिश्तेदार के माध्यम से नितिन जैन से मुलाकात हुई, तो रोहित को पता चला कि नितिन अपने लिए लड़की ढूंढ रहा है। मालदार नितिन जैन को अपने झांसे में लेने का आईडिया वहीं से दिमाग में आया।

आरोपी ने अलग-अलग किरदार गढ़ा

नितिन जैन ने बताया कि उसके परिचय में कई अच्छी लड़कियां है, जिसके बाद उसने इंटरनेट से कुछ खूबसूरत लड़कियों की तस्वीर निकाली और उसे नितिन जैन को दिखाया। इन्हीं में से एक काल्पनिक लड़की एकता जैन को नितिन ने पसंद भी कर लिया । यहीं से रोहित का खेल आरंभ हुआ। इसके बाद रोहित ने एक नए मोबाइल नंबर से आवाज बदलकर एकता जैन बनकर नितिन से बातचीत शुरू की। एकता ने दर्शाया कि वह नितिन से प्यार करने लगी है और उससे ही शादी करेगी, लेकिन इसी दौरान एकता ने खुद को बीमार बता कर और अन्य जरूरत का बहाना बनाकर नितिन से करीब 30 लाख रुपए अलग-अलग बैंक अकाउंट में ट्रांसफर करा लिए। इससे भी नितिन को कोई शक नहीं हुआ। इसके बाद एक और नया कैरेक्टर सामने आया। रोहित ने अब एकता जैन का काल्पनिक भाई अंशुल जैन बनकर नये सिम कार्ड के माध्यम से नितिन जैन से संपर्क किया और बताया कि उसका परिवार एकता और नितिन की शादी के लिए तैयार है लेकिन प्रॉपर्टी को लेकर फैमिली डिस्प्यूट होने और प्रॉपर्टी टैक्स पटाने के नाम पर उसने भी नितिन जैन से करीब 30 लाख रुपए अलग- अलग बैंक अकाउंट में जमा कर लिए। बेहद खूबसूरत तस्वीर पर लट्टू हो चुके नितिन जैन को फिर भी ठगे जाने का एहसास नहीं हुआ।
इसके बाद रोहित ने एक और नए कैरक्टर को सामने लाया। इस बार वह हैदराबाद पहुंचा और वहां हैदराबाद का इनकम टैक्स जज सुब्रमण्यम बनाकर दक्षिण भारतीय शैली में नितिन जैन से बात की और बताया कि हैदराबाद के प्रॉपर्टी के मामले में एकता जैन की गिरफ्तारी हो सकती है। उसे गिरफ्तारी से बचाने के लिए 20 लाख रुपए मांगे गए। एकता जैन के प्यार में लट्टू नितिन जैन ने एक बार फिर अलग-अलग अकाउंट में 20 लाख रुपये जमा कर दिए। अपने हुनर से लगातार कामयाब हो रहे रोहित जैन का लालच यही नहीं थमा। अब उसने चेन्नई के प्रॉपर्टी टैक्स अधिकारी रामकृष्णन बनकर चेन्नई में भी एकता जैन की प्रॉपर्टी होने और टैक्स जमा न होने पर उसकी गिरफ्तारी का डर दिखाकर नई आवाज में तमिल, हिंदी और अंग्रेजी में बात की और फिर एक बार वह नितिन जैन से 15 लाख रुपए हासिल करने में कामयाब रहा।

सत्यमेव जयते

रोहित जैन पूरी तरह से नितिन जैन के साथ खेल रहा था। एक बार वह आरबीआई अधिकारी विनीत बनकर नई आवाज में नितिन जैन को धमकाने लगा। उसने बताया कि लोन एप में रकम अदायगी ना होने पर जांच एजेंसी के सर्विलेंस पर नितिन जैन है और पुलिस एवं ईडी उसके घर पर रेड करने वाली है। रोहित, नितिन को डर दिखने लगा कि उसके दरवाजे को पुलिस खटखटाएगी लेकिन उसे खोलना नहीं है, जिसके बाद वह खुद जाकर नितिन का दरवाजा खटखटाता था और उसे डराता था। उसके घर के नीचे खड़े होकर फोटो खींचकर वह उसे भेजता कि वह जांच एजेंसियों के सर्विलांस में है। डर के मारे नितिन जैन ने करीब 20 लाख रुपए अलग-अलग बैंक अकाउंट में जमा कर दिए, लेकिन इतने सब के बाद खुद के ठगे जाने का एहसास होने पर उसने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस भी इस हैरतअंगेज मामले में कार्यवाही करते हुए कटरा बाजार, जैन एजेंसी वार्ड, मैहर, मध्य प्रदेश में रहने वाले 33 वर्षीय शातिर आरोपी रोहित जैन तक पहुंच गई। जिसके पास से दो एंड्रॉयड फोन, दो कीपैड फोन और 11 सिम बरामद किया। पुलिस ने बताया कि उसने अलग-अलग किस्तों में करीब एक करोड़, 39 लाख 51 हजार 277 रुपए की ठगी की है। पुलिस ने आरोपी के करीब 35 से 40 बैंक खातों को फ्रिज कराया है।अपने आप में यह बिल्कुल हैरान करने वाला और फिल्मी कहानी लगता है, जिसमें एक शातिर आरोपी अपनी मिमिक्री के हुनर का इस्तेमाल कर एक पढ़े-लिखे सॉफ्टवेयर इंजीनियर को बेवकूफ बनाता रहा। आज के जमाने में वीडियो कॉल आम बात है। नितिन जैन करोड़ों रुपए देता रहा लेकिन उसने कभी उस काल्पनिक एकता जैन से ना तो मुलाकात करने की कोशिश की और ना ही वीडियो कॉल पर उससे बातचीत की, जिस कारण से वह ठगी का शिकार बन गया। रोहित जैन बेहद कुशल कलाकार है। अगर वह चाहता तो अपने हुनर के दम पर वह पूरी दुनिया में अपना नाम रोशन कर सकता था लेकिन उसने अपने इस हुनर का इस्तेमाल अपराध के लिए किया, इसलिए आज वह जेल की सलाखों के पीछे है। पुलिस ने आम लोगों को आगाह किया है कि इस साइबर युग और एआई के जमाने में वे कभी भी किसी की बातों में आकर झांसे में ना आए। आजकल तो एआई की मदद से किसी की भी आवाज और तस्वीर बनाई जा सकती है। काल्पनिक चरित्र गढ़े जा सकते हैं। नितिन जैन सॉफ्टवेयर इंजीनियर होने के बावजूद यह ना समझ सका।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *