प्रतापपुर

रजा यूनिटी फाउंडेशन अंबिकापुर व अंजुमन कमेटी गुलशने सेराजिया प्रतापपुर के द्वारा मासूम रिशु के हत्यारों के ऊपर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने हेतु मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा

रजा यूनिटी फाउंडेशन अंबिकापुर व अंजुमन कमेटी गुलशने सेराजिया प्रतापपुर के द्वारा मासूम रिशु के हत्यारों के ऊपर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने हेतु मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा

शहादत हुसैन/प्रतापपुर।गौरतलब है कि प्रतापपुर के वार्ड क्रमांक 4 निवासी अशोक कश्यप के 10 वर्षीय पुत्र रिशु कश्यप का उसके पड़ोस में रहने वाले विशाल ताम्रकार व शुभम सोनी ने 29 जनवरी की शाम अपहरण कर लिया था।

अपहरण के बाद वे उसे बाइक पर बैठाकर करसी के प्रेममारा जंगल में ले गए थे।
ज्यादा शाम होने पर छात्र ने घर चलने की जिद की तो आरोपी विशाल ताम्रकार ने सिर पर डंडे से प्रहार कर उसकी हत्या कर दी थी। इसके बाद बाइक से पेट्रोल निकालकर दोनों ने पत्थर के खोह में उसका शव जला दिया था।
तथा वारदात के 2 दिन बाद जाकर विशाल ताम्रकार ने उसके शव के जले अवशेषों को बिखेर दिया था ताकि किसी को कुछ पता न चल सके। इसके बाद आरोपियों ने 8 फरवरी को अंबिकापुर-बनारस मार्ग पर स्थित लटोरी के पास एक व्यक्ति को मोबाइल लूट ली थी।

लूट की मोबाइल से उन्होंने छात्र के पिता को फिरौती के लिए कॉल किया था, और काल में अपने आप को किसी धर्म विशेष का व्यक्ति होना बताया था व धार्मिक भाषा का प्रयोग किया था ,जिससे धार्मिक तनाव फैलाने व सांप्रदायिक तनाव फैलाने वाली बात की थी और अपने आप को किसी एक धर्म समुदाय का युवक होना बताया था। आरोपियों ने फिरौती के लिए धमकी भरा पत्र में भी अपने आप को किसी धर्म समुदाय का होना बताया था व लूट वाली मोबाइल से छात्र के घर में फोन करता था ।

अपराधियों के इस घिनौने कृत्य से मुस्लिम समुदाय में भी काफी रोश है, व समुदाय के रजा यूनिटी फाउंडेशन, और गुलशने सेराजिया अहले सुन्नत कमेटी प्रतापपुर की ओर से तहसीलदार महोदय को एक ज्ञापन दिया गया ,

जिसमें मासूम रिशु के हत्यारे को सामाजिक व धर्मिक तनाव फैलाने के एवज में हत्यारों को कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने व आजीवन कारावास ,या फांसी की सजा देने की मांग की है ।

और कहा की हत्यारों के इस कृत्य का रजा यूनिटी फाउंडेशन,व गुलसने सेरजिया अहले सुन्नत प्रतापपुर घोर निंदा करता है, व कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की मांग करता है, ताकि प्रतापपुर के सदभावना व भाईचारा को दुबारा कोई व्यक्ति खराब करने की हिमाकत न कर सके ।
इस अवसर पर प्रतापपुर के काफी संख्या में मुस्लिम समाज के लोग एकत्रित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *