रायपुर वॉच

पीएम मोदी ने छत्तीसगढ़वासियों को 34,427 करोड़ रूपए की 10 परियोजनाओं की दी सौगात

रायपुर।  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विकसित भारत संकल्प यात्रा के तहत शनिवार को छत्‍तीसगढ़ के 34 हजार 427 करोड़ रुपये की 10 परियोजनाओं का वर्चुअली लोकार्पण और शिलान्यास किया। इनमें 18,897 करोड़ की लागत वाली नौ परियोजनाओं का लोकार्पण तथा 15,530 करोड़ लागत की एक परियोजना का शिलान्यास शामिल है। विकसित भारत संकल्प यात्रा का मुख्य कार्यक्रम रायपुर के बलबीर सिंह जुनेजा इंडोर स्टेडियम में दोपहर 12 बजे से शुरू हुआ। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय के साथ स्कूल शिक्षा बृजमोहन अग्रवाल, कृषि मंत्री रामविचार नेताम और साथ ही बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित हैं।

पीएम मोदी ने महतारी वंदन योजना के लिए महिलाओं को दी बधाई
प्रधानमंत्री मोदी ने जय जोहार बोलकर अपने उद्बोधन की शुरूआत की। पीएम मोदी ने कहा, विधानसभा चुनाव में आप सभी ने हमें आशीर्वाद दिया है। आज इस आयोजन से इस बात की पुष्टि हो रही है कि हमने बनाया है हम ही संवारेंगे। विकसित छत्तीसगढ़ की नींव आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर से मजबूत होगी। नारी सशक्तिकरण से मजबूत होगी। आज लगभग 35 हजार करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का शुभारंभ और लोकार्पण हुआ। बिजली, सोलर, कोयला, कनेक्टिविटी से जुड़े परियोजनाओं से छत्तीसगढ़ को आर्थिक मजबूती मिलेगी। युवाओं के लिए रोजगार के अवसर खुलेंगे। मैं इसके लिए छत्तीगढ़वासियों को बधाई देता हुूं।

हम छत्तीसगढ़ को सौर ऊर्जा का बहुत बड़ा केंद्र बनाना चाहते हैं। राजनांदगांव और भिलाई में बहुत बड़े सोलर प्लांट लगाया गया है। इसमें रात को भी बिजली मिलेगी। भारत सरकार का लक्ष्य सोलर पावर से देश के लोगों को बिजली देने व बिजली बिल जीरो करने की भी है। मोदी हर घर को सूर्य घर बनाना चाहता हैं। हमने पीएम सूर्य घर मुफ्त बिजली योजना शुरू की है। एक करोड़ परिवार इसमें शामिल हैं। सौर पैनल लगाने के लिए सरकार मदद देगी। सीधे खाते में पैसा आएगा। 300 यूनिट तक मुफ्त बिजली मिलेगी। ज्यादा बिजली होने पर सरकार खरीदेगी। इससे परिवारों को हजारों रुपये की आय होगी। छोटे-छोटे सोलर प्लांट लगाने के लिए सरकार मदद देगी।

पीएम मोदी ने कहा, राज्य में कांग्रेस सरकार ने घर बनाने में रोड़ा अटकाया। हमने 18 लाख आवास मंजूर किए हैं। पीएससी घोटाले की जांच सीबीआइ से होगी। इसलिए हम जो कहते हैं वह पूरा करते हैं। मोदी की गारंटी यानि गारंटी के पूरा होने की गारंटी छत्तीसगढ़ को विकसित होने के लिए जो कुछ भी चाहिए वह छत्तीसढ़ में पहले भी था। आज भी है, लेकिन आजादी के बाद जिन्होंने लंबे समय से शासन किया। उनकी सोच ही बड़ी नहीं थी। उन्होंने पांच वर्ष राजनीतिक लाभ लेने के लिए सोचते हैं। कांग्रेस सरकार बनाती रही, लेकिन भारत का भविष्य नहीं बनाया। आज भी कांग्रेस की राजनीति की दिशा और दशा यही हैं। कांग्रेस परिवार, भ्रष्टाचार और तुष्टीकरण से आगे सोच ही नहीं पाती। जो सिर्फ अपने परिवारों के लिए काम करते हैं वह आपके परिवारों के लिए कभी नहीं सोच सकते हैं। लेकिन मोदी के लिए तो आप सब आप ही मोदी का परिवार हैं। आप सपने ही मोदी का संकल्प हैं। इसलिए मैं आज विकसित भारत, विकसित छत्तीसगढ़ की बात कर रहा हूं।

सीएम साय ने कहा- विकसित भारत संकल्प यात्रा आरंभ
कार्यक्रम में मुख्यमंत्री विष्‍णुदेव साय ने कहा, केंद्र सरकार छत्तीसगढ़ को 34 हजार 427 करोड़ रुपए की 10 परियोजनाओं का सौगात दे रहे हैं। मैं छत्तीसगढ़ की जनता की ओर से आपके प्रति आभार प्रकट करता हूं। आपका स्नेह और अनुग्रह हमेशा हमारे ऊपर रहता है। छत्तीसगढ़ की जनता ने आपकी गारंटी पर भरोसा किया। आपकी गारंटी के सारे कामों को पूरा करने के लिए हम अग्रसर हुए हैं। 18 लाख से अधिक आवास स्वीकृत हुए हैं। 3716 करोड़ रुपए की दो साल की बोनस राशि किसानों को दी है। साथ ही 3100 रुपए धान की कीमत देने का वायदा था इसे पूरा किया। विवाहित महिलाओं को साल का बारह हजार रुपए देने का वायदा पूरा करने का निर्णय भी हमने लिया है। विकसित भारत में हम विकसित छत्तीसगढ़ बनाने हम तत्पर हैं।

विकसित भारत संकल्प यात्रा आरंभ हुई। इसमें प्रदेश के बड़ी संख्या में लोग आये। हमारे छत्तीसगढ़ में जो पांच विशेष पिछड़ी जनजाति हैं इनके लिए 15 हजार आवास स्वीकृत हुए हैं। इनके बसाहट के लिए आवागमन की सुविधा हो, इसके लिए सड़कों स्वीकृति हुई है। इस योजना में पीवीजीटी लोगों के 366 बसाहटों में रोड पहुंचेगा। मैं आपका बहुत आभार प्रकट करता हूं कि आपने विशेष पिछड़ी जनजाति के लोगों को संबल प्रदान किया है।लखपति दीदी बनाने का लक्ष्य पूरा करने की दिशा में हम काम कर रहे हैं। आपके द्वारा किये गये लोकार्पण शिलान्यास से राज्य की अधोसंरचना को मजबूती मिलेगी और प्रदेश के लिए विकास के नये युग का सूत्रपात होगा। आपके द्वारा दिये गये स्नेह और उदारता के लिए मैं आपके लिए आभार प्रकट करता हूंं।

इन कार्यों का लोकार्पण

– रायगढ़ क्षेत्र में 173.46 करोड़ की ओपन कास्ट प्रोजेक्ट छाल कोल हेंडलिंग प्लांट

– दीपका क्षेत्र में 211.22 करोड़ की लागत की ओपन कास्ट प्रोजेक्ट दीपका कोल हेंडलिंग प्लांट

– 216.53 करोड़ की लागत के ओपन कास्ट प्रोजेक्ट बरौद कोल हेंडलिंग प्लांट

– 907 करोड़ की लागत से बनें राजनांदगांव जिले के 9 गांवों के 451 एकड़ क्षेत्र में निर्मित 100 मेगावाट एसी व 155 मेगावाट डीसी सौर ऊर्जा प्रोजेक्ट

– दो प्रोजेक्टर अंबिकापुर से शिवनगर तक 52.40 किलोमीटर और बनारी से मसनियाकला तक 55.65 किलोमीटर लंबी सड़क (राष्ट्रीय राजमार्ग-49)

– 15,799 करोड़ के प्रोजेक्ट लारा सुपर क्रिटिकल थर्मल पॉवर प्लांट स्टेज-1

– भिलाई में 50 मेगावाट सोलर पावर प्लांट और बिलासपुर-उसलापुर फ्लाईओवर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *