Friday, December 9, 2022
रायपुर वॉच

आदिवासी नृत्य महोत्सव में आदिवासी नेता का अपमान करने से नहीं चूकी कांग्रेस : केदार कश्यप

रायपुर। प्रदेश भाजपा महामंत्री केदार कश्यप ने कांग्रेस पर आदिवासी विरोधी होने का आरोप लगाते हुए कहा है कि कांग्रेस की सरकार आदिवासी नृत्य महोत्सव में अपनी ही पार्टी की महिला आदिवासी नेता का अपमान करने से बाज नहीं आई। यह एक आदिवासी नेता के साथ साथ नारी शक्ति का भी अपमान है, जो छत्तीसगढ़ की संस्कृति के विरुद्ध है। आदिवासियों का हक छिनवाने सुनियोजित षड्यंत्र रचकर उपहार में राजनीतिक नियुक्ति देने वाली कांग्रेस सरकार की मानसिकता पूरी तरह उजागर हो गई है।

प्रदेश भाजपा महामंत्री केदार कश्यप ने कहा कि एक तरफ छत्तीसगढ़ में आदिवासी नृत्य महोत्सव चल रहा है। 15 सौ से ज्यादा कलाकार बाहर से बुलाए गए हैं। छत्तीसगढ़ का खजाना खाली किया जा रहा है। दूसरी तरफ आदिवासी समाज जो छत्तीसगढ़ के आदि निवासी हैं, वह इसका विरोध बूढ़ा तालाब में कर रहे हैं। तीसरी बात यह कि जो कांग्रेस के ही आदिवासी नेता हैं, उन्हें पीछे की सीट मिल रही है। फूलोदेवी नेताम जो कि बड़ी आदिवासी नेता हैं, उच्च सदन की सदस्य हैं, छत्तीसगढ़ महिला कांग्रेस की अध्यक्ष हैं, उन्हें बैठने के लिए आगे की सीट तक नसीब नहीं हुई।

प्रदेश भाजपा महामंत्री केदार कश्यप ने कहा कि भाजपा और कांग्रेस की संस्कृति में यही बुनियादी फर्क है। भाजपा की अटलबिहारी वाजपेयी सरकार ने आदिवासियों को सम्मान देते हुए आदिवासी विकास के लिए मंत्रालय बनाया। भाजपा की नरेंद्र मोदी सरकार ने आदिवासी महिला को देश का राष्ट्रपति बनाया, भाजपा की छत्तीसगढ़ सरकार ने आदिवासियों को 32 फीसदी आरक्षण दिया और दूसरी तरफ कांग्रेस की सरकार है जो अपनी ही महिला आदिवासी सांसद को आदिवासी नृत्य महोत्सव पर अपमानित कर रही है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार नृत्य के नाम पर आदिवासियों की आंखों में धूल झोंक रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *