रायपुर वॉच

शर्मनाक हरकत, नवजात शिशु को झोले में भरकर नाली में फेंका, पुलिस जवान ने ऐसे बचाई मासूम की जान

रायपुर। रायपुर से इंशानियत को शर्मसार कर देने वाली एक खबर सामने आई है। जहां बोर के अंदर झोले में एक नवजात शिशु को नाली में फेंक दिया गया।
इस मामले की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंचे और बच्चे को नाली से बाहर निकाला और देखा गया की कीचड़ में सनी हुई बच्ची निस्तेद हालात में है। जिसके बाद पुलिस के जवान ने अपने मुंह से श्वास देने की कोशिश की और पम्प करने पर बच्ची रोई व सामान्य हो गई। जसिके बाद नवजात को ततकाल इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया। अब शिशु की हालत सामान्य है। यह मामला उरला थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के अनुसार, उरला क्षेत्र के अछोली ग्राम के बंधवा तालाब के पास किसी नवजात शिशु के नाली में पड़े रहने की सूचना पर थाना उरला के डॉयल 112 में कार्यरत् जवान आर क्र 265 ताराचंद गेंडल को मौके पर भेजा गया। जवान ने देखा कि बोरे के अंदर झोले में एक नवजात शिशु को भरकर नाली में फेंक दिया गया है। जवान ने तत्काल कुछ महिलाओं को तथा आस-पास के लोगों को इकट्ठा किया। बच्चे को नाली से बाहर निकाला गया। देखा गया कि कीचड़ में सनी हुई बच्ची निस्तेद हालात में है। जवान ने उसे अपने मुंह से श्वास देने की कोशिश की और पम्प करने पर बच्ची रोई व सामान्य हो गई। जवान के द्वारा बच्ची को तत्काल मेकाहारा अस्पताल ले जाया गया, जहॉं प्राथमिक उपचार के बाद नवजात शिशु की हालात सामान्य है। किसी अज्ञात महिला या पुरूष के द्वारा नवजात शिशु को उसके पैदा होते ही मारने की नीयत से नाली में फेंक दिया गया था उक्त मामलें में थाना उरला में अज्ञात के खिलाफ अप.क्र.423/22 धारा 315 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर जॉंच पर लिया गया है। इस मामले का एक अच्छा पहलू यह है कि पुलिस के प्रयास से उस नवजात बच्ची को गोद लेने के लिये एक व्यक्ति सामने आया है। आवश्यक प्रक्रिया पूर्ण होने पर उस बच्चे को जल्द पालक मिल सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *