प्रांतीय वॉच

कलेक्टर ने मुख्यमंत्री भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान मांग एवं समस्याओं से संबंधित प्राप्त आवेदनों के निराकरण की समीक्षा की

 

सीमांकन सप्ताह आयोजित कर सीमांकन से संबंधित प्रकरणों का करें निराकरण:-कलेक्टर

अफताब आलम
बलरामपुर / कलेक्टर कुन्दन कुमार ने संयुक्त जिला कार्यालय भवन के सभाकक्ष में साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक ली। उन्होंने बैठक में चुनचुना-पुंदाग में आयोजित जनचौपाल, जिले में खाद-बीज भण्डारण, स्कूल, छात्रावास-आश्राम, उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूलों में आवश्यक व्यवस्था, उत्कृष्ट हिन्दी माध्यम स्कूलों में बच्चों के प्रवेश निरंतर रखने, अनुपयोगी नलकूप में बच्चों के गिरने से होने वाली घातक दुर्घटना से बचने हेतु आवश्यक सुरक्षात्मक उपाय, नरवा कार्यक्रम, गोबर खरीदी, रोका-छेका कार्यक्रम, जिले के सभी पेट्रोल पम्प में डीजल एवं पेट्रोल की उपलब्धता तथा काला-बाजारी रोकने, सी-मार्ट एवं मुख्य सचिव द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंस के 23 समीक्षा के क्रियान्वयन की स्थिति, मानसुन पूर्व सभी आवश्यक तैयारी, विद्युत व्यवस्था, पेयजल, राशन, मुख्यमंत्री द्वारा किये गये घोषणा एवं निर्देश पर की गई कार्यवाही, मुआवजा प्रकरण तथा राजीव गांधी मजदूर न्याय योजना, गोधन न्याय योजना पर विस्तृत समीक्षा की। कलेक्टर ने राजस्व से संबंधित सीमांकन प्रकरणों के निराकरण हेतु गुरूवार 23 जून से एक सप्ताह तक सीमांकन सप्ताह के रूप में आयोजित कर सीमांकन से संबंधित सभी प्रकरणों को निराकरण करने के निर्देश राजस्व अधिकारियों को दिये।
कलेक्टर श्री कुन्दन कुमार ने चुनचुना-पुंदाग में आयोजित जनचौपाल में विभिन्न विभागों को दिये गये निर्देशों का पालन की स्थिति के बारे में जानकारी ली। उन्होंने पेंशन से संबंधित प्रकरणों, नये राशन कार्ड बनाने, श्रम कार्ड, आयुष्मान कार्ड शीघ्र बनाने के निर्देश संबंधित अधिकारी को दिये। उन्होंने खाद्य अधिकारी से चुनचुना-पुंदाग के ग्रामीणों के लिए चार महीने के राशन के भण्डारण की जानकारी लेते हुए भुताही मोड़ स्थित सीआरपीएफ कैम्प में राशन भण्डारित कर हितग्राहियों को वितरण करने के निर्देश दिये। उन्होंने सड़क के मरम्मत कार्य की जानकारी लेते हुए प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के कार्यपालन अभियंता से स्वीकृत सड़क को पूर्ण करने हेतु आवश्यक व्यवस्था करने को कहा। पुंदाग स्थित जर्जर हो चुके प्राथमिक एवं माध्यमिक शाला भवन का मरम्मत करने हेतु जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया। साथ ही जिला शिक्षा अधिकारी से कक्षा 6वीं, छात्रावास-आश्रमों में रहने वाले छात्र-छात्राओं का शत्-प्रतिशत जाति प्रमाण पत्र बनाने हेतु सभी आवश्यक कार्यवाही पूर्ण करने के निर्देश दिये।
रेशम विभाग की समीक्षा करते हुए कोकून प्रोसेसिंग यूनिट के विस्तार हेतु कलस्टरवार किसी भवन का चिन्हांकन कर उत्पादन, कोकून हेतु उपयुक्त पौधा रोपण हेतु प्रशिक्षण तथा उसके प्लांटेशन के संबंध में विस्तारपूर्वक चर्चा किया। मुख्यमंत्री भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान मांग एवं समस्याओं से संबंधित प्राप्त आवेदनों के निराकरण की स्थिति की समीक्षा करते हुए शत्-प्रतिशत पूर्ण करने एवं निर्माण से संबंधित स्वीकृत कार्यों को शीघ्र प्रारंभ करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये। उन्होंने विगत दिवस जिगड़ी गौठान के निरीक्षण के दौरान गौठान में आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने हेतु दिये गये निर्देशों पर क्रियान्वयन की जानकारी मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत राजपुर से ली तथा वहां समस्त आवश्यक कार्यों को स्वीकृत करने के निर्देश दिये। उन्होंने जिले में स्वीकृत नरवा का अवलोकन करने तथा नरवा में पानी का ठहराव सुनिश्चित करने हेतु आवश्यक व्यवस्था करने के निर्देश संबंधित अधिकारी को दिये।
बैठक में कलेक्टर ने अधिकारियों से कहा कि वे क्षेत्र भ्रमण के दौरान समस्त आंगनबाड़ी भवन, आश्रम-छात्रावास तथा स्कूल भवन की स्थिति का जायजा लें तथा यह सुनिश्चित करें कि किसी भी जर्जर भवन में बच्चे अध्ययन न करें। उन्होंने शिक्षा, आदिवासी विकास विभाग के अधिकारियों से कहा कि भवन जर्जर होने की स्थिति में उसे डिस्मेंटल कर अध्ययन कार्य हेतु अन्यत्र वैकल्पिक व्यवस्था करें। साथ ही सड़क किनारे निर्मित कुएं को अच्छे से ढ़ंक दें ताकि किसी प्रकार अप्रिय घटना न हो।
इस अवसर पर जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी  रीता यादव, अपर कलेक्टर  एस.एस.पैकरा, संयुक्त कलेक्टर  एच.एल.गायकवाड़ व  आर.एन.पाण्डेय सहित जिला अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *