प्रांतीय वॉच

जेनेरिक की जगह ब्रांडेड कंपनी की दवा लिखने पर डॉक्टर पर होगी कार्रवाई, सीएम ने दिए आदेश

Chhattisgarh News : छत्तीसगढ़ सरकार (Government of Chhattisgarh)ने जनता को महंगी दवाई (expensive medicine)खरीदने से राहत देने के लिए राज्य के मुख्यमंत्री बघेल (Chief Minister Baghel)ने अपने निवास कार्यालय (residence office)में नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग तथा पर्यावरण एवं आवास विभाग (Urban Administration and Development Department and Environment and Housing Department)की समीक्षा बैठक ली। मुख्यमंत्री ने बैठक में धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर योजना (Dhanwantri Generic Medical Store Scheme)की समीक्षा के दौरान सरकारी अस्पतालों (hospitals)में जेनेरिक दवाईयों की बजाय ब्रांडेड दवाई लिखने पर कड़ी नाराजगी जताई।

सीएम बघेल ने कहा कि सरकारी डॉक्टर यदि ब्रांडेड दवाइयां लिखते पाए जाते हैं तो उनपर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। प्रमुख सचिव (स्वास्थ्य) ने तत्काल सभी कलेक्टरों और सीएमएचओ को निर्देश जारी करते हुए कहा है कि यह सुनिश्चित करें की डॉक्टर सिर्फ जेनेरिक दवाईयां ही लिखें। सीएम बघेल के पास बार-बार लोगों की तरफ से शिकायतें आ रही थीं कि सरकारी डॉक्टर भी जेनेरिक दवाई की जगह ब्रांडेड कंपनी की दवाई लिख रहे हैं जिसके बाद सीएम ने एक बैठक बुलाकर इसका संज्ञान लिया।

सस्ती दवाइयां उपलब्ध करान के लिए धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर शुरू
बता दें कि लोगों को सस्ती दवाइयां उपलब्ध करान के लिए छत्तीसगढ़ सरकार ने श्री धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर शुरू किए हैं। प्रदेश में इस योजना के तहत 159 मेडिकल स्टोर संचालित हैं। इन मेडिकल स्टोर्स के माध्यम से अब तक विक्रय की गई दवाईयों से लगभग 17 लाख 92 हजार नागरिकों के 17 करोड़ 38 लाख रूपए की बचत हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *