प्रांतीय वॉच

जनता चाहेगी तभी मै राजनीति मे आऊगी–विभा सिँह

यशोदा को काँग्रेस ने टिकट देकर महिला का किया सम्मान 0महिलाओ के आत्मसम्मान के लिये पीएम नरेन्द्र मोदी सहित सोनिया गांधी राहुल व भूपेश की प्रशंसक

0सीएम भूपेश बघेल को मुर्ति ,चौक के नामकरण के लिये दिया धन्यवाद

राजनांदगांव । राजा देवव्रत सिंह की पत्नी विभा सिंह ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा सोनिया गांधी सहित सीएम भूपेश बघेल को महिलाओ के आत्मसम्मान की पहल करने वाला व्यक्तित्व बताया है।खैरागढ़ से कांग्रेस की महिला उम्मीदवार बनाये जाने पर सीएम भूपेश बघेल की प्रशंसा करते हुए बड़ा कदम बताया है ।एक आयोजित पत्रकार वार्ता में समाज सेविका विभा सिंह ने कहा कि उनकी पृष्ठभूमि राजनीतिक परिवार से है और देवव्रत सिंह से विवाह के बाद मैने उनके पूर्व के चुनाव में खुलकर चुनाव प्रचार में काम किया था और उनके विजयश्री में कही न कही मेरा भी बड़ा योगदान रहा है ।
विभा सिंह ने कहा कि पति पत्नी में सामान्य विवाद होते रहता है , परंतु राजपरिवार के गौरवशाली इतिहास रहा है।कुछ लोगों ने उनके निधन के बाद राजपरिवार की तथा मेरी छवि को गलत ढंग से प्रस्तुत करने का प्रयास किया। राजा देवव्रत सिंह लोगों के दिल में बसे है और यही कारण है कि वह दूसरे दल में होने के बाद भी राजनैतिक मतभेद एक तरफ रखकर खैरागढ़ विधान सभा में वर्तमान सरकार से विकास कार्यों के लिये करोडो रूपयो की स्वीकृति करवा पाये थे जिसमें अकेले 300 करोड का सिध्द बाबा जलाशय ही खैरागढ़ विधानसभा के किसानो व आम जनता के लिये लाभदायक रहेगा । एक सवाल के जवाब में श्रीमती विभा सिह ने कहा कि मेरे मन से कभी राजनीति चाह नही रही है और मैने कभी किसी दल से टिकट भी नही मांगी है।मुझे याद है कि मुझे राजा साहब ने कई बार राजनैतिक पद ग्रहण कर राजनीति सक्रिय रहने कहा था पर मैने हमेशा राजनीति से हटकर परिवार के साथ रहकर जनता की सेवा करने की बात कही ।एक प्रश्न के उत्तर में  विभा सिंह ने कहा कि मैने कभी भी कांग्रेस अथवा किसी दल से आज तक टिकिट नहीं मांगा और न ही कभी सरपंचो को लेकर राजनीतिक प्रदर्शन किया है मै हमेशा खैरागढ विधानसभा की जनता के हित के बारे में सोचती रही हूं और अवसर को भुनाने के लिये अचानक परदे पर आने वाली औरत नही हूं । महिलाओं के आत्म सम्मान व उन्हें अवसर प्रदान किये जाने के पक्षधर पी.एम. नरेन्द्र मोदी को मानती हूं उसके अलावा कांग्रेस की नेत्री  सोनिया गांधी , राहुल गांधी तथा  भूपेश बघेल को देखा है जिन्होने गांव की सामान्य किन्तु जुझारू महिला यशोदा वर्मा को खैरागढ विधान सभा के उपचुनाव में टिकट देकर महिलाओं का सम्मान बढाया है । । एक अन्य सवाल के जवाब में  सिंह ने कहा कि मेरे पति देवव्रत सिंह जी सरल मृदुभाषी व्यक्तित्व के धनी थे और किसानो सहित गरीब व्यक्ति की चिन्ता करते थे और हर किसी में बिना अंहकार के बात करने में जरा भी हिचक नही महसूस करते थे । आज सीएम भूपेश बघेल जी उदयपुर व खैरागढ में राजा देवव्रत सिंह की मूर्ति के साथ चौराहे का नामकरण की घोषणा किये है ।इसके लिये मैं सी.एम. भूपेश बघेल को धन्यवाद देती हूं इसके अलावा उनसे मेरा सुझाव है कि खैरागढ विधान सभा की सिध्दबाबा जलाशय का नाम राजा देवव्रत सिंह के नाम से करने के साथ प्रतिवर्ष उन्नत किसान को पुरस्कार भी राजा साहब के नाम पर करें तो यह बडी श्रध्दांजली होगी । सिंह ने यह भी कहा कि मैने राजा साहब को देवव्रत सिंह के गरीबो के हितो व मदद को नजदीक से देखा है और उनकी स्मृति में जल्द ही कुछ कार्य करने जा रही है ।  सिंह ने यह भी कहा कि मैं राजासाहब की तरह सरल स्वभाव की हूं और आम जनता की सेवा के लिये हमेशा तत्पर रही हूं परंतु मुझे दुख होता है जब कुछ लोग मेरे स्वभाव व परिवार की राजनीतिक पृष्ठ भूमि को गलत ढंग से मीडिया में तोड मरोड कर प्रस्तुत कर प्रस्तुत करते हुए अपने को जनता की हितैषी बताते है ।  सिंह ने कहा कि खैरागढ विधान सभा की आम जनता के दिल में राज करने वाले देवव्रत सिंह की तरह मै भी खैरागढ़ विधानसभा की जनता की सेवा करना चाहती हूं लेकिन यह सेवा राजनीति मे रहकर की जाये यह जरूरी नही है । खैरागढ़ की जनता अगर चाहेगी, तभी मैं राजनीति में आउंगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *