प्रांतीय वॉच

प्रभारी मंत्री कवासी लखमा ने 9 करोड़ रूपए के विकास कार्यों का किये सौगात…

  • 46 विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमि पूजन संपन्न
  • 25 हितग्राहियों को वनाधिकार पट्टा वितरण सहित किसानों को कृषि यंत्र एवं सब्जी बीज मिनी किट वितरित किये…

के संतोष/बीजापुर : प्रदेश के उद्योग एवं आबकारी मंत्री तथा प्रभारी मंत्री बीजापुर कवासी लखमा ने आज एक दिवसीय बीजापुर जिला प्रवास पर भैरमगढ़ क्षेत्र की जनता को 9 करोड़ रूपए लागत के विकास कार्यों की सौगात दी। इस मौके पर प्रभारी मंत्री कवासी लखमा ने भैरमगढ़ में 7 करोड़ 49 लाख रूपए लागत के 33 विकास कार्यों का लोकार्पण किया। वहीं एक करोड़ 67 लाख 53 हजार रूपए लागत के 13 विकास कार्यों का भूमिपूजन किया। इस मौके पर क्षेत्र के लोगों ने नर्तक दलों के बाजे-गाजे के साथ अतिथियों का जोशीला स्वागत किया। इस दौरान सांसद कोरापुट सप्तगिरी शंकर उल्का, सांसद बस्तर दीपक बैज, विधायक नारायणपुर एवं अध्यक्ष छत्तीसगढ़ हस्तशिल्प विकास बोर्ड चंदन कश्यप, विधायक बीजापुर एवं उपाध्यक्ष बस्तर विकास प्राधिकरण विक्रम मंडावी सहित सदस्य छत्तीसगढ़ राज्य युवा आयोग अजय सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुड़ियम, जिला पंचायत उपाध्यक्ष कमलेश कारम, जिला पंचायत सदस्य एवं बस्तर विकास प्राधिकरण सदस्य श्रीमती नीना रावतिया उद्दे सहित क्षेत्र के जनप्रतिनिधी और कलेक्टर राजेन्द्र कुमार कटारा तथा जिला प्रशासन के अधिकारी एवं बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक व ग्रामीणजन मौजूद थे।
इस अवसर का प्रभारी मंत्री कवासी लखमा ने सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार गांव, गरीब और किसानों के हितों के लिए कटिबद्ध है। प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में राज्य सरकार इस ओर लगातार नवीन फैसला लेकर कार्य कर रही है। सड़क, पुल-पुलिया, बिजली, पेयजल सुविधा, स्कूल, आश्रम, राशन दुकान, स्वास्थ्य केन्द्रों की स्थापना से गांवों के विकास को बढ़ावा मिला है। कृषि ऋण माफी, सिंचाई कर में छूट, हाफ बिजली बिल, सिंचाई के साधनों का विकास, समर्थन मूल्य पर धान खरीदी और राजीव गांधी किसान न्याय योजनान्तर्गत आदान सहायता से किसानों को तरक्की के नये अवसर मिले हैं। न्यूनतम समर्थन मूल्य पर लघु वनोपज की खरीदी, तेन्दूपत्ता संग्रहण का प्रति मानक बोरा 4 हजार रूपए करना, काबिज काश्त वन भूमि का वनाधिकार पट्टा वितरण और उन्हे खेती किसानी के लिए सहायता देने के फलस्वरूप वनवासियों में खुशहाली आयी है। हमारी सरकार ग्रामीण भूमिहीन खेतिहर मजदूरों को हर साल 6 हजार रूपए सहायता देगी। गरीब तबके के लोगों को रोजगार देने नरवा गरवा, घुरवा एवं बाड़ी गोधन न्याय योजना सहायक साबित हो रही है। यही नहीं हमारी सरकार नगरीय क्षेत्रों के विकास पर ध्यान केन्द्रीत कर विकास के नये आयाम स्थापित कर रही है। यही वजह है कि छत्तीसगढ़ में कोविड संकट के दौरान विकास कार्यों को बढ़ावा मिला है और आज प्रदेश निरंतर प्रगति के पथ पर अग्रसर है। इस अवसर पर सांसद कोरापुट सप्तगिरी शंकर उल्का और सांसद बस्तर दीपक बैज, विधायक नारायणपुर एवं अध्यक्ष छत्तीसगढ़ हस्तशिल्प विकास बोर्ड चंदन कश्यप तथा विधायक बीजापुर एवं उपाध्यक्ष बस्तर विकास प्राधिकरण विक्रम मंडावी ने गणमान्य नागरिकों और ग्रामीणों को संबोधित कर राज्य शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं एवं विकास कार्यों को रेखांकित किया। आरंभ में कलेक्टर राजेन्द्र कटारा ने स्वागत उद्बोधन में जिले के विकास गतिविधियों के बारे में अवगत कराया और अंदरूनी क्षेत्रों में मूलभूत सुविधाओं की सुलभता के लिए हरसंभव पहल करने की कटिबद्धता व्यक्त की। इस मौके पर प्रभारी मंत्री कवासी लखमा और अन्य अतिथियों ने भैरमगढ़ में नवीन बस स्टैण्ड, पौनी पसारी परिसर तथा पुष्पवाटिका उद्यान का लोकार्पण करने सहित बस स्टैण्ड परिसर में विभिन्न विभागों के द्वारा लगाये गये स्टॉल का अवलोकन किया। वहीं क्षेत्र के 25 हितग्राहियों को वनाधिकार पट्टा वितरण करने सहित 2 महिला स्व-सहायता समूह को मिनी राईस मिल, 5 कारीगरों को टूल किट, 5 किसानों को पावर स्प्रेयर, 5 पोषण माताओं को बेबी सुरक्षा किट, 5 गर्भवती माताओं को सुपोषण टोकरी, 10 दिव्यांगजनों को सहायक उपकरण तथा 6 किसानों को सब्जी बीज मिनीकिट प्रदान किया। इसके साथ ही असंगठित कर्मकार मुत्यु एवं दिव्यांग सहायता योजनान्तर्गत 2 हितग्राहियों को एक-एक लाख रूपए सहायता राशि का चेक, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत 3 युवाओं को स्वरोजगार स्थापना हेतु 6 लाख रूपए ऋण राशि का चेक सहित शहीद महेन्द्र कर्मा तेन्दूपत्ता संग्राहक सामाजिक सुरक्षा योजनान्तर्गत 4 हितग्राहियों को 4 लाख 24 हजार रूपए सहायता राशि का चेक प्रदान किया। वहीं बीजापुर स्पोर्टस आकदमी के 5 अंर्तराष्ट्रीय खिलाड़ियों तथा राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षा में डिप्टी कलेक्टर चयनित अजय मोड़ियम को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के अंत में सीईओ जिला पंचायत रवि साहू ने आभार व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *