प्रांतीय वॉच

प्राप्त आवेदनों को समय-सीमा के अंदर करें निराकरण: श्रीमती रीता यादव

बलरामपुर : साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक में प्रभारी कलेक्टर श्रीमती रीता यादव ने सभी जिला स्तरीय अधिकारियों से मुख्यमंत्री जनदर्शन, जनचौपाल, संभाग तथा जिला स्तर पर विभिन्न विभाग को प्राप्त आवेदनों की समीक्षा करते हुए समय-सीमा के अंदर निराकरण करने के निर्देश दिये। संयुक्त जिला कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित बैठक में प्रभारी कलेक्टर श्रीमती रीता यादव ने पिछली समय-सीमा के बैठक के कार्यवाही की समीक्षा करते हुए जाति प्रमाण तैयार करने की प्रगति, गोधन न्याय योजना के तहत् गौठानों में गोबर खरीदी, कोविड-19 वैक्सीनेशन, हाट-बाजार क्लीनिक योजना, पेंशन योजना सहित विभिन्न योजनाओं की विस्तृत समीक्षा की। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से कोविड-19 वैक्सीनेशन के प्रगति की जानकारी ली तथा वैक्सीनेशन में प्रगति लाने डोर-टू-डोर टीकाकरण अभियान चलाने हेतु कार्ययोजना तैयार करने को कहा। उन्होंने 12 नवम्बर को कोविड-19 टीकाकरण अभियान आयोजित करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये। प्रभारी कलेक्टर ने आगामी 1 दिसंबर से प्रारंभ होने वाली धान खरीदी को देखते हुए सभी संग्रहण केंद्रों की साफ-सफाई, बिजली, पानी, चबूतरे की व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा। उन्होंने गोधन न्याय योजना के अंतर्गत गौठानों में गोबर खरीदी की जानकारी संबंधित अधिकारी से ली। श्रीमती रीता यादव ने सर्व मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत से गौठान समितियों के माध्यम से गोबर खरीदी का कार्य शीघ्र करने हेतु निर्देशित किया। समय-सीमा की बैठक में प्रभारी कलेक्टर ने सभी जिला अधिकारियों से अपनी विभागीय अधिकारी-कर्मचारियों के लंबित प्रकरणों को शीघ्र निराकरण करने के निर्देश दिये। बैठक में संयुक्त कलेक्टर हेमलाल गायकवाड व आर.एन.पाण्डेय, सर्व अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सहित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

मनरेगा रोजगार दिवस से पहाड़ी कोरवा/पण्डो श्रमिकों को किया जा रहा है जागरूक

कुसमी के 55 ग्राम पंचायतों में मनाया गया रोजगार दिवस

बलरामपुर : महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना से समुचित लाभ प्राप्त करने के उद्देष्य से प्रतिमाह श्रमिकों एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ रोजगार दिवस का आयोजन किया जाता है। इसी क्रम में 7 नवम्बर को कुसमी के 55 ग्राम पंचायतों में रोजगार दिवस का आयोजन किया गया। रोजगार दिवस के दौरान मनरेगा के तकनीकी सहायक, बी.एफ.टी., ग्राम रोजगार सहायक, पंचायत सचिव, मेट, सरपंच एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियों के द्वारा कार्यस्थल पर श्रमिकों के साथ मनरेगा अन्तर्गत जॉब कार्ड बनवाने, रोजगार की मांग करने एवं रोजगार प्राप्ति के 15 दिवस के भीतर भुगतान प्राप्त करने के संबंध में जानकारी प्रदाय किया गया।
कलेक्टर श्री कुंदन कुमार के मार्गदर्षन में एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमती रीता यादव के नेतृत्व में पहाडी कोरवा/पण्डो परिवारों को बुनियादी सुविधायें उपलब्ध कराने, स्वास्थ्य षिविर से लाभान्वित करने एवं स्थानीय स्तर पर रोजगार उपलब्ध कराये जाने की दिषा में निरंतर कार्य किया जा रहा है तथा छूटे हुए परिवारों का मनरेगा जॉब कार्ड, राषन कार्ड, आयुष्मान कार्ड, आधार कार्ड बनाने तथा बैंक खाता खुलवाने का अभियान निंरतर चलाया जा रहा है। रोजगार दिवस के माध्यम से विषेष रूप से पण्डो/कोरवा श्रमिकों को भी फोकस कर जागरूक किया जा रहा है। जनपद पंचायत कुसमी के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री रणवीर साय ने बताया कि रोजगार दिवस का आयोजन प्रतिमाह की भांति 07 नवम्बर को भी 77 ग्राम पंचायतों में रोजगार दिवस का आयोजन कर श्रमिकों को निरंतर जागरूक किया जा रहा है। वर्तमान में जनपद पंचायत कुसमी में कुल 16 हजार 453 सक्रिय पंजीकृत जॉबकार्डधारी तथा कुल 28 हजार 361 सक्रिय पंजीकृत श्रमिक हैं। वर्तमान वित्तीय वर्ष में 9 हजार 321 जॉबकार्डधारियों के 14 हजार 400 श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराया गया है तथा 3 लाख 60 हजार 197 मानव दिवस का सृजन किया गया है, 138 परिवारों को 100 दिवस का रोजगार उपलब्ध कराया जा चुका है। सभी 77 ग्राम पंचायतों में पर्याप्त श्रममूलक कार्य स्वीकृत हैं, जिसमें अधिक से अधिक पंजीकृत श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है, वर्तमान में समय पर श्रमिकों का मजदूरी भुगतान भी हो रहा है। उन्होंने समस्त मनरेगा श्रमिकों से अधिक से अधिक कार्य की मांग करने और स्थानीय स्तर पर रोजगार प्राप्त करने का अपील किया है।

स्वीप कार्यक्रम अंतर्गत जिला स्तरीय ऑनलाईन वाद-विवाद स्पर्धा का आयोजन 12 नवम्बर को
बलरामपुर : शासकीय महाविद्यालय बलरामपुर में छत्तीसगढ़ राज्य निर्वाचन पदाधिकारी एवं जिला निर्वाचन पदाधिकारी के निर्देष पर स्वीप अंतर्गत जिला स्तरीय ऑनलाईन वाद-विवाद स्पर्धा का आयोजन 12 नवम्बर को दोपहर 12ः00 बजे आयोजित की जावेगी। जिले के महाविद्यालय स्तर पर प्रथम स्थान आने वाले प्रतिभागी ही जिला स्तरीय ऑनलाईन वाद-विवाद स्पर्धा में भाग लेंगे। जिला स्तर के विजेता प्रतिभागियों को प्रमाण-पत्र के साथ प्रथम पुरस्कार 2 हजार 500, द्वितीय 2 हजार एवं तृतीय 1 हजार 500 रूपये नगद प्रदान किया जायेगा। महाविद्यालय के नोडल प्राचार्य, प्रो. एन.के. देवांगन ने स्वीप कार्यक्रम के जागरूकता एवं लक्ष्यों पर प्रकाष डालते हुए बताया कि भारत निर्वाचन आयोग ने मतदाता सूची के विषेष संक्षिप्त पुनरीक्षण हेतु समय-सारणी घोषित करते हुए सामान्य जन कार्यक्रम के व्यापक प्रचार-प्रसार एवं युवाओं को मतदाता सूची में अपना नाम दर्ज कराते हुए प्रेरित करने एवं उन्हें मतदान प्रक्रिया में जोड़ने के उद्देष्य से जिले के समस्त उच्च शैक्षणिक संस्थानांे में त्रिस्तरीय वाद-विवाद स्पर्धा आयोजित करने का निर्देष दिया गया है। आगामी 01 जनवरी 2022 की स्थिति में जिन युवाओं की आयु 18 वर्ष पूर्ण हो गई है, वे ऑनलाईन फॉर्म-06 भरकर अपना नाम मतदाता सूची में दर्ज करायें या अपने मतदान केन्द्र में जाकर बी.एल.ओ. के माध्यम से ऑफलाईन फॉर्म जमा करें। फॉर्म 06 के साथ 01 कलर पासपोर्ट फोटो, आयु के लिए 10वीं की अंकसूची, पता के लिए आधारकार्ड एवं अपने माता-पिता के वोटर आई.डी. की फोटो कॉपी जमा करें। जिला स्तरीय ऑनलाईन वाद-विवाद स्पर्धा का विषय ‘‘इस सदन की राय में निर्वाचन प्रक्रिया में महिलाओं की स्वतंत्र, सक्रिय एवं समान भागीदारी लैंगिक समानता को स्थापित करने में सहायक सिद्ध होगी।’’ यह स्पर्धा ऑनलाईन गूगल मीट पर आयोजित होगी। प्रतिभागियों को 01 घण्टा पूर्व लिंक भेज दिया जायेगा। इस स्पर्धा के निर्णायक मण्डल के सदस्य डॉ. एच.पी. धृतलहरे, शासकीय महाविद्यालय प्राचार्य सनावल प्रो. पियुष कुमार, शासकीय महाविद्यालय रामचन्द्रपुर एवं शासकीय महाविद्यालय सहायक प्राध्यापक बलरामपुर डॉ. अर्चना गुप्ता, होंगे। जिला प्रषासन से श्री रामेष्वरनाथ पाण्डेय, उप जिला निर्वाचन पदाधिकारी एवं संयुक्त कलेक्टर इस कार्यक्रम में विशेष रूप से उपस्थित रहेंगे। महाविद्यालय के स्वीप नोडल प्रो. एन. के. सिंह, डॉ. उमेष कुमार पाण्डेय, डॉ. अर्चना गुप्ता एवं लक्ष्मीदास मानिकपुरी इस कार्यक्रम की तैयारी में सक्रिय भूमिका निभा रहें है।

कोविड-19 के संक्रमण के नियंत्रण एवं रोकथाम को दृष्टिगत रखते हुए छठ पूजा हेतु दिशा-निर्देश जारी
बलरामपुर : नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण के नियंत्रण एवं रोकथाम को दृष्टिगत रखते हुए तथा आगामी माह में जिले में कोरोना पॉजिटिव प्रकरणों की संख्या में वृद्धि की संभावना है, जिसे रोकने एवं नियंत्रण में रखने हेतु सभी संबंधित उपाय अमल लाया जाना उचित एवं आवश्यक हो गया है। जिसे दृष्टिगत रखते हुए 10 नवम्बर 2021 को छठ पूजा हेतु प्रभारी कलेक्टर श्रीमती रीता यादव ने दिशा-निर्देश जारी किये हैं। जिसमें छठ पूजा स्थलों पर केवल पूजा करने वाले व्यक्ति ही शामिल होंगे, अनावश्यक भीड़ एकत्रित न होने की जिम्मेदारी आयोजन समितियों की होगी। छठ पूजा स्थलों पर प्रत्येक व्यक्तियों के लिए मास्क, सोशल एवं फिजिकल डिस्टेंसिंग के मापदण्डों का पालन तथा समय-समय पर सेनेटाईजर का उपयोग करना अनिवार्य होगा। छठट पूजा में किसी प्रकार के जुलूस, सभा, रैली का आयोजन नहीं करेंगे। छठ पूजा स्थलों में पान, गुटखा इत्यादि खाकर अन्यथा थूकना प्रतिबंधित रहेगा। दिये गये निदेशानुसार छठ पूजा में प्रातः 06.00 बजे से प्रातः 08.00 बजे तक ही हरित पटाखे फोड़ने की अनुमति रहेगी। छठ पूजा स्थलों में किसी प्रकार के बाजार, मेला, दुकान इत्यादि लगाने की अनुमति नहीं होगी तथा छठ पूजा में सम्मिलित होने वोल प्रत्येक व्यक्ति को कोविड टीका लगा हुआ होना अनिवार्य होगा। नदी, तालाब के गहरे पानी में जाकर पूजा करने की अनुमति नहीं होगी। आयोजन में ध्वनि विस्तारक यंत्रों का उपयोग मानवीय सर्वोच्च न्यायालय के द्वारा जारी मार्गदर्शी निर्देश के अनुरूप किया जावे। सभी शर्तों के अतिरिक्त भारत सरकार, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, छत्तीसगढ़ शासन स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, छत्तीसगढ़ शासन, सामान्य प्रशासन विभाग तथा जिला प्रशासन बलरामपुर-रामानुजगंज द्वारा जारी निर्देश/आदेश का पालन करना अनिवार्य रूप से किया जाना होगा। आदेश में निहित शर्तों के उल्लंघन करने पर एपीडेमिक डिसीज एक्ट आपदा प्रबंधन अनिधिनियम एवं विधि अनुकूल अन्य धाराओं के तहत् कठोर कार्यवाही की जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *