प्रांतीय वॉच

कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक तथा एसडीएम कार्यालय में आयोजित होगा जनदर्शन, प्रत्येक सोमवार को 11.00 बजे से अधिकारी सुनेंगे आमजनों की समस्याएं

  • शासन के मंशानुरूप जनदर्शन में क्षेत्रवासियों की समस्याओं का प्राथमिकता से होगा निराकरण

आफ़ताब आलम/बलरामपुर : शासन के मंशानुरूप आमजनों के समस्याओं का प्राथमिकता के साथ तथा शीघ्र निराकरण करने के उद्देश्य से जनदर्शन आयोजित करने का निर्णय लिया गया है। इस आशय से कलेक्टर श्री कुंदन कुमार ने अधिकारियों को आदेश जारी करने के निर्देश दिए थे। कार्यालय कलेक्टर द्वारा जारी आदेशानुसार प्रत्येक सोमवार को प्रातः 11.00 बजे से कार्यालय कलेक्टर तथा समस्त अनुविभागीय अधिकारी राजस्व कार्यालय में जनदर्शन आयोजित किया जाएगा। जिसमें आमजनों की समस्याएं प्रमुखता से सुनी जाएगी तथा उसका निराकरण कर कार्यालय कलेक्टर को अवगत कराया जाएगा। इस निर्णय से दूरदराज के ग्रामीणों को सहूलियत मिलेगी तथा उनकी समस्याओं का शीघ्र निराकरण हो पाएगा, साथ ही लोगों का प्रशासन के प्रति भरोसा और अधिक मजबूत होगा। इसी प्रकार पुलिस अधीक्षक कार्यालय में भी प्रत्येक सोमवार को 11.00 बजे से जनदर्शन आयोजित किया जाएगा। जिसमें पुलिस अधिकारियों द्वारा जनदर्शन में क्षेत्रवासियों की समस्याएं सुन उसका निराकरण किया जाएगा।

वाड्रफनगर के 64 ग्राम पंचायतों में मनाया गया रोजगार दिवस
इस वित्तीय वर्ष में अब तक 20 हजार 961 श्रमिकों को मिला रोजगार, 372 परिवारों को भी मिला सौ दिन काम
बलरामपुर : महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना का समुचित लाभ दिलाने के उद्देश्य से प्रतिमाह श्रमिकों एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ रोजगार दिवस का आयोजन किया जाता है। इसी क्रम में 7 नवंबर को वाड्रफनगर के 64 ग्राम पंचायतों में रोजगार दिवस का आयोजन किया गया। रोजगार दिवस के दौरान मनरेगा के तकनीकी सहायक, बीएफटी, ग्राम रोजगार सहायक, पंचायत सचिव, मेट, सरपंच एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियों के द्वारा कार्यस्थल पर श्रमिकों के साथ मनरेगा अंतर्गत जॉब कार्ड बनवाने, रोजगार की मांग एवं रोजगार प्राप्ति के 15 दिवस के भीतर भुगतान प्राप्त करने के संबंध में जानकारी प्रदान किया गया। कलेक्टर श्री कुंदन कुमार के मार्गदर्शन एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती रीता यादव के नेतृत्व में पंडो/पहाड़ी कोरवा परिवारों को बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराने, स्वास्थ्य शिविर में लाभान्वित करने एवं स्थानीय स्तर पर रोजगार उपलब्ध कराये जाने की दिशा में निरंतर कार्य किया जा रहा है तथा छूटे हुए परिवारों का मनरेगा जॉब कार्ड, राशन कार्ड, आयुष्मान कार्ड, आधार कार्ड बनाने तथा बैंक खाता खुलवाने का अभियान निरंतर चलाया जा रहा है। रोजगार दिवस के माध्यम से विशेष रुप से पंडो/कोरवा श्रमिकों को केंद्रित कर उन्हें जागरूक किया जा रहा है। जनपद पंचायत वाड्रफनगर के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री वेद प्रकाश पाण्डेय ने बताया कि रोजगार दिवस का आयोजन प्रतिमाह की भांति 7 नवंबर को भी 64 ग्राम पंचायतों में रोजगार दिवस आयोजित कर श्रमिकों को विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी जा रही है। वर्तमान में जनपद पंचायत वाड्रफनगर में कुल 22 हज़ार 272 सक्रिय पंजीकृत जॉबकार्डधारी तथा 43 हजार 916 सक्रिय पंजीकृत श्रमिक हैं। वर्तमान वित्तीय वर्ष में 12 हजार 23 जॉबकार्डधारियों को 20 हजार 961 श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराया गया है तथा 4 लाख 21 हजार 152 मानव दिवस सृजन किये गए हैं। साथ ही 372 परिवारों को 100 दिवस का रोजगार उपलब्ध कराया जा चुका है तथा सभी 95 ग्राम पंचायतों में पर्याप्त श्रममूलक कार्य स्वीकृत हैं, जिसमें अधिक से अधिक पंजीकृत श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है। समय पर श्रमिकों का मजदूरी भुगतान भी सुनिश्चित किया जा रहा है। उन्होंने समस्त मनरेगा श्रमिकों से अधिक से अधिक कार्य मांग करने और स्थानीय स्तर पर रोजगार प्राप्त करने की अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *