देश दुनिया वॉच प्रांतीय वॉच

पैरा को खेतों में जलाने की बजाय गौठानों में दान करने किशोर ने की अपील

नवागढ़ ब्यूरो (संजय महिलांग ) | पैरादान महाअभियान चलाकर ग्रामीणों और किसानों को किया जाएगा जागरूक प्रयास समाज सेवी संगठन के संस्थापक अध्यक्ष किशोर राजपूत ने गौठानों में आने वाले मवेशियों के लिए पैरे की भरपूर व्यवस्था करने के लिए पैरादान महाअभियान शुरू करने की अपील की हैं |

किशोर राजपूत ने कहा की गाँव गाँव में बने गौठानों में पशुओं को डे-केयर के रूप में भोजन उपलब्ध कराने के लिये चारे के साथ-साथ बड़ी मात्रा में पैरे की जरूरत की पूर्ति ग्रामीणों से ही की जानी है। फसल कटाई के बाद देश के अन्य राज्यों की तरह ही छत्तीसगढ़ में भी किसान खेतों में पैरा या फसल अवशेषों को जला देते हैं। इस पैरा को खेतों में जलाने की बजाय गौठानों में दान करें। हालांकि गौठानों से संबद्ध चारागाहों में तैयार हरे चारे की फसलें और किसानों से दान में मिले पैरा को साथ मिलाकर पशुओं को पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराने की तैयारी जिला प्रशासन द्वारा की जाती हैं।

* शासन के जनकल्याणकारी योजना

छत्तीसगढ़ राज्य में सरकार द्वारा गरुवा विकास के लिए गाँव गाँव में गौठान बनाया गया है।जिसे रूरल डेवलपमेंट इंडस्ट्रीज के रूप में विकसित करने का फैसला लिया गया है। जो तभी सफल हो सकता है जब गौठान में पशुओं की संख्या ज्यादा रहे तथा उनकी चारा पानी की समुचित व्यवस्था हो |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *