प्रांतीय वॉच

गुणवत्ता हीन पुलिया पर चुप्पी अधिकारियों पर सवाल

टीकम निषाद/देवभोग : एस्टीमेट के विपरीत और गुणवत्ता हीन पुलिया निर्माण की पोल खुलने के बाद भी जिम्मेदार अधिकारी गंभीर दिखाई नहीं पढ़ रहे हैं जबकि ग्रामीणों द्वारा पुलिया निर्माण पर भ्रष्टाचार का आरोप लगातार लगाया जा रहा है उल्लेखनीय हो की ग्राम पंचायत ढोडरा  के श्मशान घाट मार्ग पर निर्वाचन क्षेत्र विकास विधायक निधि से 500000 की लागत से  पुलिया निर्माण सरपंच सचिव द्वारा कराया गया जहां प्रावधान को दरकिनार करते निर्माण एजेंसी पुलिया का निर्माण क्या जिसकी पूल चंद दिनों बाद ही खुल गई है जिससे साइड इंचार्ज से लेकर जिम्मेदार अधिकारी भी अच्छी तरह अवगत है बावजूद इसके कार्यवाही की कोई पहल देखने को नहीं मिल रहा है जबकि क्वालिटी दार पुलिया बनाने के लिए इंजीनियर एसडीओ के अलावा मुख्य कार्यपालन अधिकारी की जिम्मेदारी होती है लेकिन इन अधिकारियों की उदासीनता के चलते सरपंच सचिव द्वारा पैसे बचाने के चक्कर में जैसे तैसे पुलिया का निर्माण करा दिया यही वजह है कि चंद दिनों बाद पुलिया की स्थिति खराब दिखाई पड़ रही है जबकि पुलिया निर्माण के समय इंजीनियर मौजूद होकर ग्रामीण विकास विभाग के प्रावधान अनुसार रेती गिट्टी सीमेंट सहित पूरे नियमों के साथ कार्य कराने की जिम्मेदारी होती है ग्रामीणों का कहना है कि श्मशान घाट मार्ग पर पुलिया के लिए लगातार मांग किया रहा तब कहीं जाकर पुलिया की स्वीकृति मिली लेकिन जिम्मेदारों की लापरवाही से पुलिया भ्रष्टाचार की बलि चडगया क्योंकि ठीक तरह ना मटर का इस्तेमाल किया गया और ना पानी की तराई हो पाई जबकि कंक्रीट कार्य में मजबूती पर पानी की तराई को अहम भूमिका माना जाता है ताकि पुलिया मैं अच्छी खासी मजबूती आए  और लंबे समय तक टिक पाए लेकिन निर्माण एजेंसी में चंद दिन पानी की तराई कर पुलिया को अपने हाल पर छोड़ दिया जिसके कारण पुलिया में लगी सीमेंट मसाला की परत उखाड़ रही है l

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *