प्रांतीय वॉच

5 साल से जिला में पदस्थ रहकर महिला बाल विकास अधिकारी जगरानी एक्का ने बनाया रिकॉर्ड

टीकम निषाद/ देवभोग : गरियाबंद जिला में अक्सर नियम के मुताबिक 3 साल के भीतर अधिकारियों का स्थानांतरण राज्य के अलग-अलग जिलों में होता है खासकर यह नियम महिला बाल विकास विभाग में  पालन होते देखने को मिलता रहा लेकिन अब यह नियम को धत्ता दिखाते हुए जिला महिला बाल विकास विभाग के अधिकारी जगरानी एक्का ने 5 साल से ज्यादा समय एक कुर्सी पर बैठे रिकार्ड बना लिया है। जो देवभोग से लेकर जिला मुख्यालय में काफी जोरों पर चर्चा हो रहा है। क्योंकि बीते समय जिन भी अधिकारियों ने महिला बाल विकास विभाग का प्रभार संभाला उनका लगभग दो-तीन साल तक ही टिके.रहे। मगर जगरानी एक्का द्वारा वर्षों से एक ही जिला में मनमर्जी अनुसार जमे रहना उच्च स्तरीय तगड़ी सेटिंग की ओर इशारा करता है। जिसे लेकर जिले भर  में तरह-तरह का सवाल खड़ा किया जा रहा है । क्योंकि ज्यादा समय एक जिला पर पदस्थ होने के चलते प्रशासनिक कार्यों की क्षमता में कमी देखने को मिलता है। इसलिए विभागीय प्रमुख सचिव को इस विभाग में लंबे समय से जमे अधिकारियों की समीक्षा करने की जरूरत बताई जाती है। तभी सरकार की महत्वकांक्षी योजनाओं का क्रियान्वयन धरातल में सुचारू रूप  एवं गंभीरता से किया जा सकता है ।जानकारी अनुसार जिला महिला बाल विकास विभाग अधिकारी जगरानी एक्का ने वर्ष 2015 – 16 में पदभार संभाला मतलब आज की तिथि में 5 साल से ज्यादा समय हो रहा है। फिर भी गरियाबंद को छोड़ने का नाम नहीं ले रहे हैं। जबकि 5 साल पहले अजय शर्मा जी आर टंडन सहित अन्य अधिकारियों ने भी विभाग का दायित्व संभाला रहा। मगर महज 2 वर्ष के भीतर ही स्थानतरण कर दिया गया। ऐसे में जगरानी एक्का वर्षों से इस जिला में बने रहना प्रदेश स्तरीय अधिकारियों के अलावा मंत्रियों के बीच अच्छी खासी पकड़ होने की संभावना जताई जा रही है । तभी शिकवा शिकायत के बाद भी अब तक इस अधिकारी का तबादला नहीं हो रहा है। जिसे लेकर कुछ जनप्रतिनिधि सीधा मुख्यमंत्री से शिकायत कर हटाने की बात कह रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *