रायपुर वॉच

मंदिर निर्माण के लिए चंदा लेने का ठेका भाजपा-आरएसएस को किसने दिया: कांग्रेस

  • पिछले 1400 करोड़ रुपयों का हिसाब किताब दे दे आरएसएस
  • हिसाब लेना है तो नान घोटाले और पनामा के खातों का लें
 रायपुर : भाजपा नेता राममाधव के इस बयान पर कि कांग्रेस से हिसाब लेना बाक़ी है, संचार विभाग के प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि कांग्रेस की ओर से जो जवाब देना था छत्तीसगढ़ की जनता दे चुकी है. अब तो बस भाजपा और आरएसएस को यह बताना है कि देश भर में घूम घूमकर चंदा लेने का ठेका उन्हें किसने दिया? और पुराने चंदे सहित अभी लिए जा रहे चंदे का हिसाब कहां है?  उन्होंने कहा है कि जब रामशिला पूजन के नाम पर चंदा लिया गया था तो आरएसएस ने देश भर से 1400 करोड़ रुपए एकत्रित किए थे. उन रुपयों का हिसाब किताब आज तक नहीं दिया गया. भाजपा और आरएसएस को बताना चाहिए कि क्या देश भर में आलीशान भाजपा कार्यालय उसी पैसों से बनाये गये । राम माधव यह भी बताएँ कि नए चंदे का हिसाब किताब किसे और कब दिया जाएगा?
 शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि दरअसल भाजपा की नीयत में ही खोट है और इसीलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कोरोना से लड़ाई के नाम पर पीएम-केयर्स के नाम से नया कोष बना लिया और उसमें हज़ारों करोड़ एकत्रित करने और बार बार मांगने  के बाद भी  पी एम केयर्स का हिसाब किताब नहीं दिया जा रहा है.
 हिसाब किताब के प्रश्न पर उन्होंने कहा है कि हिसाब तो जनता को अभी भाजपा के 15 वर्षों के कार्यकाल का लेना है. इसमें रमन सिंह सरकार का  36 हज़ार करोड़ का नान घोटाला है, पनामा पेपर्स में दर्ज रमनसिंह के कवर्धा के पते से खोले गये अभिषाक सिंह के खाते में जमा हज़ारों करोड़ रुपए हैं और प्रदेश भर में घटिया निर्माण के ज़रिए किए गए घोटाले हैं. अगर राममाधव को हिसाब लेना ही है तो इन सबका हिसाब रमन सिंह से लेना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *