देश दुनिया वॉच

मेट्रो के लिए आज जारी होगा नया नियम…जानें कोरोना काल में क्या-क्या बदलेगा…

Share this

नई दिल्ली। देश में जारी कोरोना संकट के बीच अनलॉक 4.0 की शुरुआत हो चुकी है. कोरोना वायरस महमारी के प्रसार को कम करने के लिए मार्च महीने में लॉकडाउन की घोषणा की गई थी. इसके बाद Unlock के माध्यम से देश को एक बार फिर पटरी पर लाने की कवायद जारी है. इस बीच आगामी 7 सितंबर से शुरू होने वाली मेट्रो सेवाओं के लिए गाइडलाइंस आज जारी हो सकती है. केंद्र सरकार ने Unlock 4 में 7 सितंबर से मेट्रो सेवाओं को शुरू करने की इजाजत दी थी. अब इसके संचालन ने SOP जारी किया जाएगा. कोरोना काल में चलने वाली मेट्रो में सोशल डिस्टेंसिंग पर खासा ध्यान रखा जाएगा.

बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी द्वारा घोषित किये गए ‘जनता कर्फ्यू’ के दिन से ही मेट्रो की सेवाएं बंद हैं और अब अनलॉक-4 में इसका संचालन 7 सितंबर से किया जाना है. इसके लिए आवास एवं शहरी विकास मंत्रालय ने तैयारी शुरू कर दी है. विस्तृत गाइडलाइंस जारी होने के बाद विभिन्न हिस्सों में मेट्रो रेल सेवा शुरू हो सकेगी, जिससे लोगों को आवाजाही में आसानी होगी.

मेट्रो की सेवाओं को शुरू करने के लिए केंद्र सरकार ने विभिन्न मेट्रो कंपनियों के साथ बैठक की है. आवासन एवं शहरी विकास मंत्रालय के सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इन कंपनियों के साथ बैठक की और उनसे संचालन को लेकर सुझाव लिए हैं. न्यूज एजेंसी ANI से दुर्गा शंकर मिश्रा ने कहा कि यात्रियों की पूर्ण सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए हमने एसओपी पर देश भर की मेट्रो कंपनियों के सीईओ के साथ व्यापक चर्चा की. SOPs को अंतिम रूप दिया जाएगा और जल्द ही साझा किया जाएगा.

क्या-क्या हो सकता है बदलाव
DMRC की तरफ से जारी बयान में बताया जा चुका है कि ‘कोविड-19 महामारी के बीच सात सितंबर से जब मेट्रो सेवाएं शुरू होंगी, तो यात्रियों को सुरक्षित सफर का अनुभव देने के लिये मेट्रो परिसर में हर जरूरी ऐहतियात बरते जाएंगे और उपाय किये जाएंगे.’ उधर, दिल्ली सरकार ने भी रविवार को एक बयान जारी कर कहा कि सुरक्षा संबंधी ऐहतियात का पालन करते हुए सेवाओं को शुरू किया जाएगा.

नहीं मिलेंगे टोकन, सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी
दिल्ली सरकार के मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि, ‘फिलहाल यात्रियों को टोकन नहीं दिये जाएंगे, क्योंकि इनसे वायरस के प्रसार का खतरा ज्यादा रहता है. हर स्टेशन पर स्मार्ट कार्ड की खरीद के लिये एक व्यवस्था होगी और यात्री सिर्फ स्मार्ट कार्ड के जरिये ही सफर कर पाएंगे.’

मास्क पहनना जरूरी
ट्रेन में यात्रियों के बीच एक मीटर की दूरी बनी रहे इसका विशेष ध्यान रखा जायेगा. साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित करने के लिए ट्रेन की सीट पर मार्किंग भी की जाएगी. स्टेशन पर भीड़ न लगे इसके लिए मेट्रो स्टाफ और सिविल डिफेंस वॉलंटियर्स को तैनात किया जाएगा. सैनिटाइजर्स की व्यवस्था हर स्टेशन पर सुनिश्चित की जाएगी. मास्क पहनना अनिवार्य होगा. लिफ्ट में अधिकतम तीन लोग ही होंगे. स्टेशन पर ट्रेन ज्यादा देर तक रोकी जाएगी, ताकि लोग धीरे-धीरे निकल सकें. सीमित संख्या में ही ट्रेन में एंट्री मिलेगी. टोकन नहीं मिलेगा. स्मार्ट कार्ड का ही इस्तेमाल करना होगा.

नियमों के उल्लंघन पर भारी-भरकम जुर्माना
दिल्ली सरकार की तरफ से कहा गया है कि यदि कोई यात्री नियमों का उल्लंघन करता हुआ पाया जाता है तो डीएमआरसी के अधिकारी और तैनात पुलिस अधिकारी उल्लंघन करने वाले यात्री का चालान काट सकते हैं.

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *