बिलासपुर वॉच

स्वर कोकिला लता मंगेशकर की यादें रविवार को सेवन स्टार म्यूजिकल ग्रुप की ओर से होटल एमेरल्ड में कल

स्वर कोकिला लता मंगेशकर की यादें रविवार को सेवन स्टार म्यूजिकल ग्रुप की ओर से होटल एमेरल्ड में कल

(यु मुरली राव) भारतरत्न से सम्मानित स्वर कोकिला लता मंगेशकर भारत की सबसे अनमोल गायिका हैं। 7 स्टार म्यूजिकल ग्रुप की ओर से भारत के मशहूर सभी गायकों को याद किया जाता है उनके जन्मदिन एवं पुण्यतिथि पर श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए ग्रुप के डायरेक्टर राकेश रोशन शाह एवं उनकी टीम के द्वारा यादें कार्यक्रम आयोजित करते हैं उसी कड़ी में लता मंगेशकर की यादें कार्यक्रम पुराना बस स्टैंड पर स्थित होटल एमेरल्ड में कल रविवार को सुबह 10:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक यादें कार्यक्रम आयोजित है।

op

लता जी उनकी आवाज की दीवानी पूरी दुनिया है। उनकी आवाज को लेकर अमेरिका के वैज्ञानिकों ने भी कह दिया कि इतनी सुरीली आवाज न कभी थी और न कभी होगी। पिछले 6 दशकों से भारतीय सिनेमा को अपनी आवाज दे रहीं लता मंगेशकर बेहद ही शांत स्वभाव और प्रतिभा की धनी हैं आज पूरी संगीत की दुनिया उनके आगे नतमस्तक है।
लता मंगेशकर का जन्म 28 सितंबर 1929 को इंदौर के मराठी परिवार में पंडित दीनदयाल मंगेशकर के घर हुआ। इनके पिता रंगमंच के कलाकार और गायक भी थे इसलिए संगीत इन्हें विरासत में मिली। लता मंगेशकर का पहला नाम ‘हेमा’ था, मगर जन्म के 5 साल बाद माता-पिता ने इनका नाम ‘लता’ रख दिया था। लता अपने सभी भाई-बहनों में बड़ी हैं। मीना, आशा, उषा तथा हृदयनाथ उनसे छोटे हैं। इनके जन्म के कुछ दिनों बाद ही परिवार महाराष्ट्र चला गया।
1961 में लता ने लोकप्रिय भजन ‘अल्लाह तेरो नाम’ और ‘प्रभु तेरो नाम’ जैसे भजन गाए वहीं 1963 में पंडित जवाहरलाल नेहरू की उपस्थिति में देश का सबसे जीवंत गीत ‘ऐ मेरे वतन के लोगों’ गाया। इस गाने के बाद नेहरूजी की आंखों से आंसू बह निकले थे। लता ने 1960 से लेकर 1980 के दौरान कई संगीतकारों के साथ काम किया और कई हिट गाने गाए जिसमें मदन-मोहन, लक्ष्मीकांत- प्यारेलाल, सलिल चौधरी तथ हेमंत कुमार के साथ कई बंगाली व मराठी गाने भी गाए।
लता मंगेशकर भारतीय संगीत में महत्वपूर्ण योगदान देने के लिए 1969 में पद्मभूषण, 1999 में पद्मविभूषण, 1989 में दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड, 1999 में महाराष्ट्र भूषण अवॉर्ड, 2001 में भारतरत्न, 3 राष्ट्रीय फिल्म अवॉर्ड, 12 बंगाल फिल्म पत्रकार संगठन अवॉर्ड तथा 1993 में फिल्म फेयर लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार सहित कई अवॉर्ड जीत चुकी हैं। लता ने 1948 से 1989 तक 30 हजार से ज्यादा गाने गाए हैं, जो एक रिकॉर्ड हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *