रायपुर वॉच

महतारी वंदन योजना को लेकर सीएम साय‌ का बड़ा ऐलान, जानें फिर कब कर सकेंगे आवेदन

रायपुर | छत्तीसगढ़ में हुए विधानसभा चुनाव में किए गए वायदें को ध्यान में रखते हुए, छत्तीसगढ़ सरकार ने विवाहित महिलाओं के लिए महतारी वंदन योजना शुरू की हैं. इस योजना से महिलाओं को प्रति वर्ष 12 हजार रुपए मिलेंगे। लेकिन महतारी वंदन योजना को लेकर महिलाओं में भ्रान्ति की स्थिति थी जिसे सीएम विष्णुदेव साय ने स्पष्ट कर दिया हैं। मीडिया से हुई बातचीत में उन्होंने साफ़ किया हैं कि यह योजना ‘वन टाइम स्कीम’ नहीं हैं। आगे भी पात्र महिलाओं से आवेदन लिए जायेंगे और उन्हें भी योजना का लाभ मिलेगा। इस तरह उन्होंने बताया कि यह योजना आगे भी सतत तौर पर चलती रहेगी और आवेदन का मौका मिलता रहेगा।

जारी होगी अंतिम सूची फिर होगा आवेदन
महतारी वंदन योजना के प्रथम चरण में 20 फरवरी को शाम 6 बजे के बाद आवेदन लेने का सिलसिला थम गया हैं। आवेदनों के सत्यापन के उपरांत जल्द ही अंतिम सूची जारी की जाएगी। अंतिम सूची जारी करने के बाद दावा आपत्ति भी ली जाएगी। दावा आपत्ति के निराकरण के बाद अंतिम सूची जारी की जाएगी। पहले चरण में जितने भी आवेदन आएंगे, उनके सत्यापन के बाद प्रथम बार डीबीटी के माध्यम से आधार लिंक बैंक खातों में मार्च माह की राशि, मार्च माह में ही अंतरित की जाएगी।

70 लाख से ज्यादा आवेदन
गौरतलब है कि मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय के नेतृत्व में राज्य सरकार प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की छत्तीसगढ़ की जनता को दी गई गारंटी पूरी करने जा रही है। योजना के तहत छत्तीसगढ़ की पात्र विवाहित महिलाओं के खाते में प्रति माह एक हजार रूपए, इस प्रकार साल में 12 हजार रूपए अंतरित किए जाएंगे। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार प्रदेश में अब तक 70 लाख से अधिक आवेदन प्राप्त हो चुके है। महतारी वंदन योजना के प्रथम चरण में आवेदनों के प्राप्त होने के साथ-साथ सत्यापन की कार्यवाही भी की जा रही है। प्रथम चरण के बाद फिर से अगले चरण में पात्र हितग्राहियों को आवेदन करने का अवसर प्रदान किया जाएगा। यह प्रक्रिया सतत् चलती रहेगी।

कई चरणों में आवेदन
सरकार ने साफ़ किया हैं कि यह वन टाइम स्कीम नहीं। इससे स्पष्ट हैं कि आने वाले दिनों में अलग-अलग चरणों में महिलाओं से आवेदन लिए जायेंगे। हालांकि पहला चरण पूरा होने के बाद दुसरे चरण का समय कब शुरू होगा यह तय नहीं हैं। सरकार की कोशिश हैं कि प्रदेश की कोई भी पात्र महिला इस योजना का लाभ लेने से छूट न जाएँ।

बढ़ाई जाएं मियाद
इससे पहले कांग्रेस ने इस योजना को मलेकर सरकार को घेरने की कोशिश की थी। कांग्रेस ने सरकार से मांग की थी कि इस योजना का लाभ हर महिला को मिले सरकार को यह सुनिश्चित करना होगा। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी सोशल मीडिया ‘एक्स’ पर लिखा था कि ‘प्रदेश की महिलाएँ चुप नहीं बैठेंगी। हर रोज नए नियम, नई शर्तों के कारण प्रतिदिन नई परेशानियों के चलते महिलाओं ने “महतारी वंदन योजना” के आवेदन नहीं भर पाए हैं। प्रदेश सरकार को तत्काल समय सीमा बढ़ाते हुए आवेदन की अंतिम तिथि बढ़ानी चाहिए। महिलाओं के साथ छल नहीं करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *