बिलासपुर वॉच

केन्द्रीय विद्यालय ने मनाया वसंत पंचमी व निराला जयंती

केन्द्रीय विद्यालय ने मनाया वसंत पंचमी व निराला जयंती

बिलासपुर/यु मुरली राव। केन्द्रीय विद्यालय बिलासपुर में वसंत पंचमी व निराला जयंती पूर्ण हर्षोल्लास से मनाया गया। सर्वप्रथम प्रार्थना सभा में माँ शारदे की प्रतिमा व निराला जी के तैलचित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ज्वलन किया गया। निधि, सादगी एवं प्रज्ञा ने वर दे वीणा वादिनी गीत की सुमधुर प्रस्तुति दी।

अंजलि गुप्ता ने निराला का प्रतिरूप बनकर उनके व्यक्तित्व व कृतित्व को सबके समक्ष रखा। तत्पश्चात श्वेता शालिनी, आरुहि सिंह व समूह ने मनमोहक शास्त्रीय नृत्य प्रस्तुत किया। संगीत शिक्षक लक्ष्मण कौशिक के मार्गदर्शन में अमोघ शुक्ला एवं के. अनिरुद्ध ने निराला जी की प्रसिद्ध कविता “मैं अकेला” को गीत की शैली में मनभावन रूप से पेश किया।
विद्यालय के प्राचार्य धीरेन्द्र कुमार झा ने निराला जी एवं वसंत पंचमी को परस्पर पूरक बताते हुए निराला जी के फक्कड़ एवं मस्त मौला व्यक्तित्व व उनकी काव्य साधना को काव्यात्मक शैली में प्रेरणादायक रूप से अभिव्यक्ति दी। उन्होंने बताया कि भारतीय संस्कृति में वर्णित ज्ञान, कला एवं दर्शन की अभिव्यक्ति निराला के साहित्य का प्राण तत्व है। उनकी रचनाओं में चेतना एवं नूतन काव्य शिल्प अनुगामिनी कवियों के लिए प्रेरणा का उत्स सिद्ध हुई। प्रकृति का नूतन कलेवर वसंत पंचमी से आरंभ होकर हम सबके मन में उल्लास, चेतना व संवेदना जागृत करता है। कार्यक्रम समन्वयक किरण राठौर ने अपने काव्यात्मक मुक्तकों ने माध्यम से निराला जी व वसंतोत्सव को अति विशिष्ट अंदाज़ में प्रस्तुत किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में विद्यालयीन शिक्षकों चंद्रप्रकाश जायसवाल, तारा यादव, जूही चक्रवर्ती, उमेश कुर्रे, जे लाकरा, संजीव वर्मा, सौमेनदास गुप्ता, संदीप साहू, मनीषा सिन्हा आदि की अति महत्वपूर्ण भूमिका रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *