बिलासपुर

सोशल मीडिया पर हिंदू धर्म के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने वालों दो व्यक्तियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज

 

सोशल मीडिया पर हिंदू धर्म के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने वालों दो व्यक्तियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज

– सुरेश सिंह बैस
बिलासपुर। सोशल मीडिया पर हिंदू धर्म और देवी देवताओं के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले दो सर फिरों के खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज किया है। ज्ञात हो इनमें से एक शासकीय टीचर भी शामिल है ।कुछ दिन पहले हिंदू धर्म पर कट्टरवादी टिप्पणी करने और धर्मांतरण के प्रयास के आरोप में एक धर्मशाला कार्यशाला को गिरफ्तार किया गया था। एक बार फिर ऐसे ही पोस्ट के खिलाफ एक और आतंकवादी को गिरफ्तार कर लिया गया है। दलितो को परेशान करने वाले भीम आर्मी के कुछ हिंदू धर्मविरोधी कॉन्स्टेंट सोशल मीडिया पर अपने विरोध के समर्थक जन टिप्पणी कर दर्ज करवा रहे हैं। ऐसी ही एक ट्विटर पोस्ट आईडी है “सूर्य राज नागवंश @nagvanshi 1993” । प्रथम दृष्टया यह दोनों व्यक्ति बौद्ध धर्म के ईसाई जन पद रहे हैं लेकिन उक्त व्यक्ति ने हिंदू धर्म, हिंदू समाज, मंदिर, ब्राह्मण, पुजारी और भगवान राम पर गलत टिप्पणी की है। एक्टर ने अपने ट्विटर पेज पर लिखा कि राम ने ऐसा कौन सा काम किया कि भगवान बनाया, अगर 302 के तहत कार्रवाई की जाती तो फांसी की सजा होती, इसके अलावा सूर्य राज नाग ऋषि ने यह भी लिखा कि देश में सबसे बड़ी लूट टेम्पेरियो ने दावा किया है और मूर्ति, ग्रंथ सभी उत्पाद हैं, और यह अंधश्रद्धा है, इसके अलावा उसने यह भी कहा है कि यह बौद्धों की धरती है। यही डेटिंग है। इस देश का सच्चा इतिहास ही बौद्धों से बना है। जितनी भी प्राचीन बौद्ध धार्मिक स्थल है जिस पर ब्राह्मणों ने कब्ज़ा कर लिया है। इसके अलावा अपने हैंडल पर रेडियो पर यह भी कहा गया है कि राम और सीता की मूर्तियाँ और भगवान की मूर्तियाँ एक कमरे के अंदर और बाहर पेटी रखती हैं। देश में सबसे ज्यादा लूट पंडित और मठाधीश ने दावा किया है। श्रइसके अलावा एक और व्यक्ति है जिसका मोबाइल नंबर 7509 365 709 है जिसका पूरा नाम सोमेश्वर मठ नवरंग है, जो दर्रा भाटा सीपत निवासी और भिक्षुणी से स्नातक शिक्षक है जो साकीनगर में सलाहकार है सूर्य राज नागवंशी के एक ट्वीट को कोट करते हुए हिंदू धर्म पर अपशब्द पर स्टेटस पर पोस्ट किया गया है। इन दोनों के खिलाफ सर्व हिंदू समाज ने एक साथ मिलकर सरकंडा थाने में सूर्य राज राजवंशी आईडी* @नागवंशी 1993 और सोमेश्वर नारायण नव नागरंग के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई । और दोनों के खिलाफ जल्द से जल्द सख्त कार्रवाई की मांग की। विरोध दर्ज करने वालों ने कहा कि हिंदू धर्म विरोधी गलत और लच्छेदार बातों पर अब ध्यान नहीं दिया जाएगा । और सर्व हिंदू समाज ने कहा कि भारत का हिंदू अब जाग गया है और इस तरह की पोस्ट करने वाले और धार्मिक आस्था के साथ बातें करने वालों पर अपराध दर्ज करके कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी।विरोध करने वालों में संदीप पाठक, अधिवक्ता समीर कुमार शुक्ला, रामदोम कश्यप, कल्पना गुप्ता, अविनाश सिंह, दिनेश तिवारी, मनसु गुप्ता, अमीर साहू, किसलयग्रीव, हरिशंकर तिवारी, गोलू सिंह, सूरज यादव, गौरवेश शुक्ला, रिंकू शर्मा, प्रभात तिवारी, गौरव, मंजीत यादव, शुभम यादव, रविष किशोर, किशन ठाकुर और एंटोनी तिवारी आदि शामिल थे।दोनों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 295ए, 298,153, और 34के के तहत अपराध दर्ज किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *