रायपुर वॉच

विधायक ने ट्रैफिक जवान की ईमानदारी को सराहा, माला पहना कर किया सैल्यूट

रायपुर। RAIPUR NEWS राजधानी में बीते दिन लावारिस बैग में मिले 45 लाख रुपयों को थाने में जमा करने के बाद रायपुर ट्रैफिक पुलिस के सिपाही नीलाम्बर सिन्हा (Traffic Police constable Nilambar Sinha)सुर्खियों में हैं। रविवार सुबह रायपुर पश्चिम के विधायक और गृह विभाग के संसदीय सचिव विकास उपाध्याय (Vikas Upadhyay, MLA and Parliamentary Secretary of the Home Department) उनकी ईमानदारी को सलाम करने पहुंच गए। विधायक ने नीलांबर को फूल माला पहनाकर बकायदा सैल्यूट किया।विकास उपाध्याय ईमानदार पुलिसकर्मी से मिलने रायपुर एयरपोर्ट के पास ड्यूटी स्थल पर ही पहुंचे। वहां उन्होंने नीलाम्बर सिन्हा को माला पहनाकर मिठाई खिलाई। उसके बाद सिपाही के साथ ही सुबह का नाश्ता भी किया। विकास उपाध्याय ने कहा, छत्तीसगढ़ के लोगों में अपने मातृभूमि और कार्य के प्रति ईमानदारी, निष्ठा और समर्पण का भाव सदैव रहा है। यही भाव हम छत्तीसगढ़ियों की पहचान रही हैं। नीलाम्बर सिन्हा ने जिस ईमानदारी का परिचय दिया है, उससे देश में छत्तीसगढ़ का नाम रोशन हो रहा हैं। संसदीय सचिव विकास उपाध्याय ने कहा, इस मामले को लेकर वे मुख्यमंत्री और गृहमंत्री से चर्चा करेंगे और ईमानदार पुलिसकर्मी नीलाम्बर सिन्हा को प्रोत्साहन सम्मान प्रदान करने हेतु आग्रह करेंगे। रायपुर पुलिस पहले ही नीलाम्बर को पुरस्कृत करने की घोषणा कर चुकी है।

नीलाम्बर ने बताया कैसे मिला था बैग

आरक्षक नीलाम्बर सिन्हा ने बताया, वे सुबह 7 बजे एयरपोर्ट के पास ड्यूटी पर आ जाते हैं। 9 बजे तक ट्रेफिक क्लियर हो गया तो नाश्ता करने एयरपोर्ट से माना कैम्प जा रहे थे। इसी दौरान एक राहगीर ने राय पब्लिक स्कूल के सामने सड़क पर एक लावारिस बैग की सूचना दी। वहां पहुंचे तो एक सफेद रंग का बैग दिखा, एक ऑटो वाला उसको खोल कर देख रहा था। उनको देखकर वह भाग गया। उन्होंने बैग खोला तो उसमें दो-दो हजार और 500-500 के नोटों के बंडल भरे थे। उन्होंने सीधे एसपी रायपुर को इसकी जानकारी दी। उनके निर्देश पर नीलांबर बैग पुलिस कंट्रोल रूम में लाकर जमा करवाया। चेक करने पर पता चला कि बैग में 45 लाख रुपए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *