रायपुर वॉच

MP में फिर धराया रिश्वतखोर: हाउसिंग बोर्ड का बाबू 10 हजार रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार, इसलिए मांगी थी घूस

उज्जैन। मध्यप्रदेश में रिश्वतखोरी के मामले रोज सामने आ रहे हैं. घूसखोरों पर शिंकजा भी कसा जा रहा है. बावजूद इसके वो रिश्वत लेने से बाज नहीं आ रहे हैं. ताजा मामला महाकाल की नगरी उज्जैन से सामने आया है. जहां हाउसिंग बोर्ड का बाबू 10 हजार रुपये रिश्वत लेते गिरफ्तार हुआ है. लोकायुक्त पुलिस ने रंगे हाथों घूस लेते पकड़ा है.जानकारी के मुताबिक लोकायुक्त डीएसपी बसन्त श्रीवास्तव ने निर्देश पर यह कार्रवाई की गई है. हाऊसिंग बोर्ड का बाबू बालमुकुंद मालवीय ने फरियादी राहुल दांगी से मकान नामांतरण करने के एवज में रिश्वत मांगी थी. जिसके बाद फरियादी ने इसकी शिकायत उज्जैन लोकायुक्त की टीम से कर दी. जिसके बाद पुलिस ने ट्रैप की कार्रवाई की है.आज दोपहर में उज्जैन हाउसिंग बोर्ड कार्यालय में बाबू बालमुकुंद मालवीय को 10 हजार रुपये रिश्वत लेते लोकायुक्त की टीम ने गिरफ्तार कर लिया है. उसके खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है. फिलहाल मामले में लोकायुक्त की टीम आगे की जांच कर रही है.

बता दें कि कुछ दिन पहले ही उज्जैन जिले के नागदा तहसील के गांव बेड़ावन में एक शासकीय शिक्षक रिश्वत लेते गिरफ्तार हुआ था. छात्रा की मार्कशीट देने के एवज में पिता से 9500 की घूस लेते हुए लोकायुक्त पुलिस ने रंगे हाथ पकड़ा था. इससे पहले शिवपुरी जिले में सरपंची का प्रमाण पत्र के एवज में नायाब तहसीलदार को एक लाख रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया था. जीत का प्रमाण पत्र के बदले तीन लाख की डिमांड की गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *