रायपुर वॉच

4 दिन, 26 से अधिक स्थानों पर छापों के बाद दस्तावेज ले गई आयकर टीम, कार्रवाई खत्म

रायपुर । छत्तीसगढ़ प्रदेश के आधा दर्जन शहरों में 26 से अधिक स्थानों पर 4 दिनों से चल रही कार्रवाई आखिरकार खत्म हो गई। प्रदेश में गुरुवार से शुरू हुए छापे रविवार को दोपहर बाद समाप्त हुए।

आयकर विभाग के सूत्रों के अनुसार छापे के दौरान बड़े पैमाने पर बेनामी संपत्ति और लेन-देन की जानकारी मिलने के बाद 12 से अधिक बैंक लाकर सीज किए गए हैं।

12 करोड़ नगद और करोड़ रुपये के गहने मिलने की जानकारी

आयकर के सूत्रों के अनुसार करीब 12 करोड़ नगद और रायपुर के एक आवासीय परिसर में छापे की कार्रवाई के दौरान सुरक्षा बलों द्वारा छह से सात करोड़ रुपये के गहने जब्त किए गए हैं।

एक-दो दिन में छापे की अधिकृत जानकारी सार्वजनिक कर सकती है आयकर टीम

अफसरों के अनुसार जब्त दस्तावेजों की जांच के बाद एक-दो दिन में छापे के संबंध में अधिकृत जानकारी सार्वजनिक की जा सकती है। इधर आयकर विभाग ने कारोबारी और नेता सूर्यकांत तिवारी और उनके एक सहयोगी का लिखित में बयान दर्ज किया है।

अफसरों के अनुसार दोनों को आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 131 के तहत पूछताछ के लिए पहले ही समन भेजा गया था। दोनों को शुक्रवार को रायपुर एयरपोर्ट से सिविल लाइंस स्थित आयकर कार्यालय ले जाकर बयान दर्ज किया गया। सूत्रों के अनुसार दोनों से संपत्ति और लेन-देन के संबंध में पूछताछ की गई है।

इन जगहों पर आयकर की टीम ने दी दबिश

बता दें कि आयकर विभाग की टीमों ने गुरुवार को तड़के रायपुर, भिलाई, रायगढ़, कोरबा, महासमुंद व धमतरी में छापे की कार्रवाई शुरू की थी। टीम ने सूर्यकांत तिवारी, उनके सहयोग निखिल चंद्राकर, ठेकेदार अजय नायडू ट्रांसपोर्टर जोगिंदर सिंह सहित कुछ अन्य लोगों के आवास और कार्यालय की जांच की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *