रायपुर वॉच

छत्तीसगढ़ में पहली बार लाखों की सर्जरी मुफ्त में

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में स्पाइन और ऑर्थोपेडिक सर्जरी का एक बड़ा अभियान चलाया गया है। इसके तहत श्री नारायणा अस्पताल में निशुल्क सर्जरी की जा रही है । ऐसे मरीज जो आर्थिक रूप से कमजोर है स्पाइन या अपने जोड़ों का इलाज नहीं करवा पा रहे थे उन्हें मदद दी जा रही है।

इस तीन दिवसीय सर्जरी अभियान में देश के जाने-माने एक्सपर्ट शामिल हो रहे हैं। जो दिल्ली मुंबई और बेंगलुरु से रायपुर पहुंचे हैं। अस्पताल के संचालक डॉ सुनील खेमका ने बताया कि इस अभियान के तहत जरूरतमंद लोगों की सेवा की जा रही है। हमने 50 सर्जरी करने का लक्ष्य रखा है । इस दौरान मरीज से एक भी रुपया नहीं लिया जा रहा है दवाएं भी अस्पताल की तरफ से दी जा रही है। स्पाइन और आर्थोपेडिक सर्जरी आमतौर पर 6 से 10 लाख रुपए के खर्च पर होती है यहां मरीजों को निशुल्क सेवा दी जा रही है।

इस कैंपेन के उद्घाटन सत्र में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी शामिल हुए। उन्होंने अस्पताल की तरफ से मेगा ऑर्थोपेडिक एवं स्पाइन सर्जरी कांफ्रेंस आयोजित करने पर चिकित्सकों को बधाई दी । उन्होंने कहा कि चिकित्सक सेवा भाव से अपने कार्य को अंजाम देते हैं इसी की वजह से लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा मिल पाती है।

लीलावती के एक्सपर्ट ने बताए कमर दर्द भगाने के उपाय

मुंबई के मशहूर लीलावती अस्पताल के चीफ स्पाइन सर्जन डॉक्टर विशाल कुंदनानी भी इस कांफ्रेंस में शामिल है । उन्होंने कहा कि कमर दर्द की समस्या लोगों में बढ़ती जा रही है । युवा भी इससे नहीं बच पाए हैं इसके पीछे की वजह है बदली हुई जीवनशैली जिसमें एक्सरसाइज बहुत से लोगों के जीवन में शामिल ही नहीं है।

डॉ विशाल ने 3 तरीके बताएं जिनके जरिए कमर दर्द को दूर लगाया जा सकता है। पहला है 30 से 45 मिनट की वॉक, डॉ विशाल ने बताया कि अपने दिनचर्या में वॉक जरूर करें। सुबह दोपहर शाम किसी भी वक्त वॉक की जा सकती है। दूसरा तरीका डॉक्टर ने बताया कि लोग अक्सर काफी देर तक एक ही जगह पर बैठकर काम करते रह जाते हैं या फिर मोबाइल का इस्तेमाल करते हुए एक ही जगह पर टिके रहते हैं । ऐसे में 45 से 50 मिनट तक बैठे रहने के बाद 1 से 2 मिनट का गैप जरूर ले इससे मांसपेशियों को राहत मिलती है।

तीसरी महत्वपूर्ण बात डॉक्टर विशाल ने बताई की लोग अपने वजन को न बढ़ने दें, खान-पान और जीवनशैली को इस तरह का बनाएं कि वजन अधिक ना बढ़े क्योंकि इसकी वजह से स्पाइन और जोड़ों में दर्द शुरू हो जाता है।

जरूरतमंदों को मिला इलाज

(1) पाटन क्षेत्र के मर्रा गांव की, 59 वर्षीय रेणुका वर्मा, जिनके कंधे के रोटेटर कॅफ मसल की टीयर सर्जरी इस शिविर में हुई है ,(2) भिलाई से आई 60 वर्षीय केसर बाई रात्रि, विगत 15 वर्षों से घुटने में अत्यंत तकलीफ की वजह से चलने फिरने में अक्षम थी और दर्द से बहुत ज्यादा परेशान थीं, बहुत सारे डॉक्टरों को दिखाने के बाद भी आराम नहीं मिल पा रहा था, उन्हें इस निशुल्क सर्जरी शिविर का पता चला, जहांँ पर रविवार को उनके दाहिने घुटने की नि:शुल्क नी रिप्लेसमेंट सर्जरी की गई। (3) बलोदा बाजार निवासी 23 वर्षीय खुशबू जिनकी बचपन से ही रीढ़ की हड्डी में टेढ़ापन था, उनकी भी निशुल्क स्कोलियोसिस सर्जरी की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *