रायपुर वॉच

छत्तीसगढ़ के इस हॉस्पिटल में रोबोट करेगा सर्जरी

रायपुर. 12 साल पहले आपने रजनीकांत और ऐश्वर्या राय की फिल्म रोबोट तो देखी ही होगी। उसमें एक रोबोट को डिलीवरी कराते दिखाया गया था। अब रायपुर में भी रोबोटिक सर्जरी की शुरुआत हो चुकी है। जी हां ये बिल्कुल सच है। इसे हम रोबोट असिस्टेड सर्जरी कह सकते हैं क्योंकि डॉक्टर के इशारे पर रोबोट काम करेगा। रामकृष्ण केयर हॉस्पिटल में गुरुवार को रोबोटिक इक्यूपमेंट को मीडिया से रूबरू कराया गया। करीब 15 करोड़ के इस इक्यूपमेंट के फायदे गिनाए गए। इतना ही नहीं मीडिया के लोगों को भी ट्रायल कराया गया।
पांच साल से कर रहे थे प्लान
हॉस्पिटल के मेडिकल एंड मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ. संदीप दवे ने बताया कि हम इस पर पांच साल से प्लान कर रहे थे। अब जाकर इसकी लॉन्चिंग हुई। वैसे इक्यूपमेंट 30 मई से हमारे पास आ गए हैं। हमने कुछ सफल सर्जरी भी की है।
विदेशों से सस्ती होगी सर्जरी
डॉ. दवे का दावा है कि रोबोटिक सर्जरी विदेशों से सस्ती होगी। अगर कोई सर्जरी विदेश में 30 लाख रुपए में हो रही है तो वह हमारे यहां महज 3 लाख रुपए में हो जाएगी।
समय बचेगा, सेफ्टी रहेगी
डॉ. दवे ने कहा कि रोबोटिक सर्जरी मेडिकल साइंस के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद है। इससे न सिर्फ टाइम बचेगा बल्कि सेफ्टी भी बनी रहेगी। क्योंकि ऐसा जरा भी नहीं है सर्जरी रोबोट ही करेगा। एक तरफ मरीज होगा, दूसरी तरफ डॉक्टर और बीच में मॉनिटर। इक्यूपमेंट ऐसे हैं कि मानो हम किसी चीज को ऑपरेट कर रहे हों। यानी जैसा हम चाहें वैसा संचालन होगा
ये हैं फीचर
इक्यूपमेंट में कई खास फीचर हैं। जैसे- थ्री एचडी विजन। किसी एक व्यक्ति के दो हाथ ही होते हैं लेकिन इस इक्यूपमेंट में 360 डिग्री राउंड मिनी हैंड काम करते हैं। जो कि चार हाथों से भी बढिय़ा रिजल्ट देते हैं
रोबोटिक सर्जरी में क्या-क्या
कोलोरेक्टल सर्जरी-कोलन व रेक्टम की एसोफेगल कैंसर, एसोफेगेक्टॉमी, गाइनेकोलॉजिकल कैंसर-सर्वाइकल कैंसर, ओवेरियन कैंसर, यूटेराइन कैंसर तथा पेट की सभी प्रकार की सर्जरी, छोटी एवं बड़ी आंत के कैंसर की सर्जरी, प्रोस्टेट सर्जरी, बैरियाट्रिक/मोटापे की सर्जरी, बच्चेदानी के कैंसर की सर्जरी, थोरेसिक (छाती एवं फेफड़ा) की सर्जरी।
रोबोटिक सर्जरी कैसे होती है? 
छोटे-छोटे चीरों के माध्यम से आपके शरीर के अंदर एक छोटा 3D कैमरा और छोटे सिक्के के आकार का उपकरण डाला जाता है। यह कैमरा आपके सर्जन को ऑपरेशन करने वाली जगह का एक बड़ा 360 डिग्री दृश्य देता है। कंसोल के हाथों और पैरों के नियंत्रण का उपयोग करके, आपका सर्जन दूर से सर्जिकल साधनों से जुड़े रोबोटिक हाथों को हिलाता है।
रोबोटिक सर्जरी से क्या फायदा है?
यह पूरी तरह से कम्प्यूटर असिस्टेड सर्जरी है। इसमें एक मशीन ऑपरेशन करती है, जिसे विशेषज्ञ नियंत्रित करते हैं। इसमें उपकरण को 360 डिग्री और सातों दिशाओं में आसानी से घुमा सकते हैं। साथ ही रोगग्रस्त अंग या जिस भाग की सर्जरी की जा रही है उसे कितना भी जूम करके देख सकते हैं। इससे जटिलताओं की आशंका घट जाती है। सर्जन को थकान और मरीज के शरीर से अधिक ब्लीडिंग का खतरा भी कम होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *