देश दुनिया वॉच

पूर्व प्रधानमंत्री की हत्या की आशंका, हाई अलर्ट पर सुरक्षा एजेंसियां…

इस्लामाबाद/नई दिल्ली। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की हत्या की साजिश रचने की अफवाहों के बीच इस्लामाबाद पुलिस विभाग ने शहर के बानी गाला से सटे इलाकों में सुरक्षा एजेंसियों को हाई अलर्ट पर रखा है। इस्लामाबाद पुलिस के प्रवक्ता ने शनिवार को कहा कि शहर में पहले ही धारा 144 लागू कर दी गई है और सभाओं पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

इस्लामाबाद पुलिस ने ट्वीट कर कहा पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) के अध्यक्ष इमरान खान के बानी गाला में संभावित आगमन के मद्देनजर इलाके में सुरक्षा बढ़ा दी गई है और इस क्षेत्र में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। हालांकि, अब तक इस्लामाबाद पुलिस को इमरान खान की टीम की ओर से वापसी की कोई पुष्ट खबर नहीं मिली है। इस्लामाबाद पुलिस के अनुसार, सुरक्षा प्रभाग ने बानी गाला में विशेष सुरक्षा की तैनात की है। साथ ही बानी गाला में लोगों की सूची अभी पुलिस को उपलब्ध नहीं कराई गई है। इस्लामाबाद में धारा 144 लागू है और जिला मजिस्ट्रेट के आदेश के अनुसार किसी भी सभा की अनुमति नहीं है।

पुलिस ने आगे कहा इस्लामाबाद पुलिस कानून के मुताबिक इमरान खान को पूरी सुरक्षा मुहैया कराएगी और इमरान खान की सुरक्षा टीमों से भी पारस्परिक सहयोग की उम्मीद है। वहीं, इमरान खान के भतीजे हसन नियाजी ने कहा कि अगर पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) प्रमुख को कुछ भी होता है, तो इस कृत्य को पाकिस्तान पर हमला माना जाएगा। उन्होंने कहा कि इस घटना को पाकिस्तान पर हमले के रूप में देखा जाएगा और इस पर प्रतिक्रिया आक्रामक होगी, ऐसा करने वालों को भी पछतावा होगा।

हत्या की अफवाह को लेकर पहले भी एजेंसियों ने दी थी सूचना

इससे पहले फवाद चौधरी ने पहले कहा था कि पीटीआई के अध्यक्ष इमरान खान रविवार को इस्लामाबाद आ रहे हैं। चौधरी ने अप्रैल में कहा था कि देश की प्रतिभूति एजेंसियों ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की हत्या के लिए एक साजिश की सूचना दी है। पाकिस्तानी अखबार डान ने उनके हवाले से कहा इन खबरों के बाद सरकार के फैसले के मुताबिक प्रधानमंत्री की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।

पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के नेता फैसल वावड़ा ने किया था दावा

पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के नेता फैसल वावड़ा ने भी इसी तरह के दावे किए कि देश को बेचने से इनकार करने पर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री की हत्या की साजिश रची गई थी। पत्र में प्रधानमंत्री की हत्या की साजिश का जिक्र करते हुए वावड़ा ने कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की जान को खतरा है लेकिन टालमटोल करते रहे। उन्होंने आगे कहा कि इमरान खान को इस्लामाबाद के परेड मैदान में अपनी रैली के दौरान बुलेटप्रूफ चश्मे का इस्तेमाल करने की सलाह दी गई थी। डान ने वावड़ा के हवाले से कहा लेकिन हमेशा की तरह उन्होंने कहा कि मेरी मृत्यु तब आएगी जब अल्लाह चाहता है। इसके बारे में चिंता न करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *