जम्मू-कश्मीर

Jammu and Kashmir: कश्मीर में टारगेट किलिंग के बाद लोगों ने पलायन करना शुरू किया, अमित शाह करेंगे आज बड़ी बैठक

डेस्क। जम्मू कश्मीर (Jammu and Kashmir) में लगातार हालात बिगड़ते जा रहे हैं. इस बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Union Home Minister Amit Shah) आज जम्मू कश्मीर की ताजा स्थिति पर चर्चा के लिए अहम बैठककरने वाले हैं. वहीं आतंकियों द्वारा की जा रही टारगेट किलिंग (target killing) के खिलाफ आज कश्मीरी पंडितों ने सामूहिक पलायन की बात कही है. बीते 26 दिन में 10 लोगों की हत्या आतंकी कर चुके हैं. इन घटनाओं से लोगों में डर का माहौल है और लोग जल्द से जल्द घाटी छोड़ना चाहते हैं.

 

26 दिन में 10 लोगों की हत्या

बैंक मैनेजर विजय कुमार की हत्या की जिम्मेदारी कश्मीर फ्रीडम फाइटर्स नाम के संगठन ने ली है. इसके प्रवक्ता वसीम मीर ने बयान जारी कर धमकी दी है कि कश्मीर की आबादी में फेरबदल की कोशिश का यही हश्र होगा. आपको बता दें पिछले 26 दिन में 10 लोगों की हत्या कर दी गई है. कभी कश्मीरी पंडित, कभी टीचर, कभी बैंक मैनेजर तो कभी मजदूरों पर हमला किया जा रहा है.

 

उनका शव उनके गांव पंहुचा

इन सब के बीच बैंक मैनेजर विजय कुमार बेनीवाल की हत्या के बाद उनका शव उनके गांव हनुमानगढ़ के नोहर के भगवान गांव पहुंची. एम्बुलेंस को देखते ही पूरा गांव गमगीन हो गया और परिजनों का रो रो कर बुरा हाल हो गया. बता दें कि कश्मीर के कुलगाम में आतंकियों ने बैंक में घुसकर बैंक मैनेजर विजय की हत्या कर दी थी.

 

काम करने वाले लोग घबरा गए

बता दें कि इन हत्याओं को लेकर लोगों के मन में डर है. पीएम पैकेज के तहत काम कर रहे कश्मीरी पंडित अजय अब कश्मीर घाटी से जम्मू पहुंच गए हैं. अजय ने कहा कि हालात अब 1990 से बुरे हैं.जम्मू कश्मीर में हत्याओं से दूसरे प्रदेशों से वहां जाकर काम करने वाले लोग घबरा गए हैं. लोग अब घाटी छोड़कर जा रहे हैं. श्रीनगर में काम करने वाले अमित कौल ने कहा कि कल ही कल में चार हत्याएं हो गई हैं. 30-40 परिवार ने शहर छोड़ दिया है. हमारी मांग नहीं मानी जा रही.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *