प्रांतीय वॉच

फोर्टीफाइड चावल गरीबों को मिल रहा

महासमुंद|18 अप्रैल 2022 | जिले में अधिकांश लोग राशन दुकानों से चावल तो ले रहे हैं ।लेकिन उसे उपयोग करने के बजाय अन्य दुकानों में बेच रहे हैं। जिससे दुकानदार मालामाल हो रहे हैं। महासमुंद में दुकानदार चावल को ₹19 में खरीद कर ₹25 से ₹ 30 किलो तक बेच रहे हैं ।जिले के राशन दुकानों में पिछले 2 माह से वितरण किए जा रहे। है इस ओर प्रशासन का ध्यान है। ना ही अफसरों का सफल शासन की एक बड़ी योजना का क्रियान्वयन ठीक तरह से नहीं हो पा रहा है। दरअसल प्रचार-प्रसार के अभाव में उपभोक्ताओं को यह जानकारी नहीं है। की जो चावल अब वितरण किया जा रहा है। वह सामान्य नहीं बल्कि अतिरिक्त फायदेमंद है। प्राप्त जानकारी के अनुसार राज्य में कुपोषण को देखते हुए शासन राशन दुकानों के माध्यम से फोर्टीफाइड चावल उपभोक्ताओं को वितरण कर रही है। शहर के वाडो किराना दुकानों बाजार वाडो में के दुकानों में उपभोक्ता इस चावल को बेच रहे.
फोटिफाइड चावल वितरण का उछद्देश्य 
गरीबों और कुपोषित लोगों को पोषण युक्त चावल मिल सके । फोर्टीफाइड फाइल वितरण योजना को शुरू करने के लिए राज्य सरकार के द्वारा 5 करोड़ 80 लाख रुपए का बजट निर्धारित किया गया है चावल में अधिकतर पोषक तत्वों की कमी होती है। जो मुख्य रूप से केवल कार्बोहाइड्रेट के स्रोत के रूप में का काम करता है।
Pramod dubey

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *