रायपुर वॉच

कांग्रेसी नेता को विधायक के बेटे ने मारा थप्पड़…जानिए पूरा मामला

प्रदेश के अफसरों के मुताबिक निकाय चुनाव बेहद शांतिपूर्ण तरीके से खत्म हो चुके हैं। मगर रायपुर के बीरगांव नगर निगम में दिन भर बवाल होता रहा। अब एक वीडियो सामने आया है कि जिसमें हुल्लड़ और नारेबाजी कर रहे अपने ही पार्टी के एक नेता को कांग्रेस नेता पंकज शर्मा ने थप्पड़ जड़ दिया।

करीब 50 कार्यकर्ताओं की भीड़ और पुलिस के सामने ही पंकज शर्मा को इतना गुस्सा आया कि वो खुद को रोक न सके और आस मोहम्मद नाम के नेता को चांटा मार दिया। आस मोहम्मद पंकज शर्मा के पिता विधायक सत्यनारायण शर्मा की ग्रामीण विधानसभा इलाके में प्रचार का काम-काज देखता है।

आस मोहम्मद पुलिस से भी बहस करता रहा। - Dainik Bhaskar
आस मोहम्मद पुलिस से भी बहस करता रहा।

बीरगांव चुनाव में भी गली-गली जाकर पार्टी के लिए प्रचार करने वाले आस मोहम्मद को इस बात की आस नहीं थी कि अपने ही बॉस से सबके सामने मार खानी पड़ेगी। बताया जा रहा है कि कार्यकर्ताओं के हुड़दंग को संभालने के लिए पंकज का हाथ उठ गया। लगातार नारेबाजी कर रहे कार्यकर्ताओं को पंकज समझा रहे थे, चुप रहने को कह रह थे। आस मोहम्मद खूब चीख रहा था, ऐसे में वो अपने ही नेता जी के गुस्से का शिकार बन गया।

आस को पीटने उठा हाथ। - Dainik Bhaskar
आस को पीटने उठा हाथ।

भाजपाई भी इसे पीटने ही वाले थे 
आस मोहम्मद का हंगामा देखकर कुछ भाजपा के नेता भी इससे भिड़ गए थे। पोलिंग बूथ के सामने हंगामे के वक्त आस मोहम्मद और भाजपा विधायक अजय चंद्राकर आमने सामने हो गए। आस का तैश देखकर भाजपा के कार्यकर्ताओं ने इसपर चढ़ाई कर दी। एक नेता ने आस को पीटने के लिए हाथ भी उठा लिया था। चंद्राकर को उंगली दिखाकर बात कर रहे आस को दूसरे कांग्रेसी पीछे लेकर गए फिर भाजपा और कांग्रेस के नेता आमने-सामने खड़े होकर नारे बाजी करने लगे और पुलिस इन्हें समझाती रही। करीब डेढ़ घंटे के हंगामे के बाद दोनों पार्टियों के नेता लौट गए थे।

दो साल पहले पुलिस ने गिरफ्तार किया था। - Dainik Bhaskar
दो साल पहले पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

जेल में भी हो चुकी है आस की पिटाई 
आस माेहम्मद को दो साल पहले शहर के सरस्वती नगर थाने की पुलिस ने पकड़ा था। कांग्रेस नेता आस को तब पुलिस ने चोरी की गाड़ियों की खरीदी बिक्री में शामिल पाया था। इसके साथ दो और लोगों को पकड़ा गया था। इसके बाद आस को सेंट्रल जेल भेजा गया था। खबर है कि वहां भी इसकी पिटाई की गई थी। इस मामले में तब युवा कांग्रेस नेताओं और प्रदेश अध्यक्ष पूर्ण चंद पाढ़ी ने बताया कि आस मोहम्मद को जेल में कई बार जमीन पर लेटाकर मारा गया, इस मामले में जेलर खोमेश मंडावी और पुलिस आरक्षक योगेश साहू के खिलाफ FIR दर्ज करने की मांग की गई थी, कुछ महीने बाद आस जेल से छूट कर पार्टी की गतिविधियों में फिर से जुड़ गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *