प्रांतीय वॉच

किशोर राजपूत को देशी बीज संरक्षित करने पर मिला सम्मान

राष्ट्रीय संगोष्ठी एवं जैव विविधता प्रदर्शनी का इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय में हुआ आयोजन
====================
बेमेतरा/नवागढ़=संजय महिलांग। शंकर नगर नवागढ़ के युवा प्रगति शील किसान एवं समृद्धि स्वदेशी बीज बैंक के संस्थापक अध्यक्ष किशोर राजपूत को देशी बीजों के संरक्षण संवर्धन,प्रचार- प्रसार करने के लिए इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय रायपुर के डीन ऑफिस कॉलेज ऑफ एग्रीकल्चर सभा भवन में आयोजित एक भव्य समारोह में प्रदान किया गया । किशोर कुमार राजपूत को यह विशिष्ट सम्मान मुख्य अतिथि प्रो.एस एस सेंगर कुलपति इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय रायपुर छत्तीसगढ़ एवं डाक्टर जे सी राणा नेशनल कोआडिनेटर जीईएफ बायो डायवर्सिटी इंटरलेशनल नई दिल्ली, अति विशिष्ट अतिथि प्रदीप शर्मा कृषि सलाहकार मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ शासन रायपुर,अति विशिष्ठ अतिथि अरुण कुमार पांडे छत्तीसगढ़ राज्य बायो डायवर्सिटी बोर्ड नया रायपुर छत्तीसगढ़ आयोजन समिति प्रमुख डॉक्टर दीपक शर्मा विभागाध्यक्ष अनुवांशिकी एवं पादप प्रजनन विभाग इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय रायपुर,के हाथों से देश के वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिकों किसानों तथा गणमान्य नागरिकों की उपस्थिति में प्रदान किया गया

इस अवसर पर इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति एस एस सेंगर ने देशी बीजो के संरक्षण संवर्द्धन से नवीन किस्म के बीज निर्माण करने के लिए अनुसंधान को बढ़ाने पर काम करने के लिए कहा कुछ स्लेकटेट किस्म के व्यवसायिक उपयोग में लाने कहा। साथ ही साथ एग्रो डायवर्सिटी केरूप में विकसित करने राज्य सरकार से आग्रह किया

जे सी राणा ने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य एक मान्यता प्राप्त मेगा जैव विविधता का केंद्र हैं जिसके पास अद्वितीय फसल विविधता है लेकिन वर्तमान में यह खतरे में हैं एक तरफ के संकट से उबरने के लिए इस तरह के कार्यक्रम किया जाना अति आवश्यक है आज की जटिल समस्या है आपस मे जुड़ी हुई हैं हम क्या खाते हैं कैसा भोजन करते हैं यह सब मिलकर तब होता है पर्यावरण की चिंता किए बिना खाद्य उत्पादन बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित करने से भूमि और पानी की कमी हो रही हैं अच्छे पोषण पर ध्यान केंद्रित किए बिना भूख पर ध्यान केंद्रित करने से महामारी उत्पन्न हो रही हैं कुछ प्रमुख फसलों की पैदावार बढ़ाने पर ध्यान देने से फसल को नुकसान हो रहा है।

दीपक शर्मा ने छत्तीसगढ़ सरकार के तीन साल सफलतापूर्वक करने पर प्रदेश के सभी को बधाई एवं शुभकामनाएं एवम प्रदेश के पारंपरिक किस्म के विजेताओं को भविष्य की योजनाओं से जोड़कर विभिन्न प्रजातियों के बारे में बताया लघु एवं सीमांत किसानों को सरकार द्वारा किए जा रहे न्यूनतम समर्थन मूल्य को किसानों की जीविका में परिवर्तन करने की विवेचना करते हुए राज्य सरकार की योजनाओं का उल्लेख किया।

इस राष्ट्रीय संगोष्ठी सह प्रदर्शनी में छत्तीसगढ़ राज्य के विभिन्न जिलों से कोने में विविधता को प्रदर्शित किया जिसमें बीजापुर,दंतेवाड़ा, भोपालपटनम, जांजगीर चांपा सरगुजा कोरिया क्षेत्र के वैज्ञानिक एवं किसानों के द्वारा स्टॉल लगाए थे।

जीईएफ परियोजना अंतर्गत क्षेत्रीय संगोष्ठी एवं जैव विविधता प्रदर्शनी, छत्तीसगढ़ बायो डायवर्सिटी इंटरनेशनल, भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद एवं छत्तीसगढ़ राज्य के संयुक्त तत्वावधान में प्रचार प्रसार एवम व्यापार करने के लिए आयोजित किया गया था।

किशोर राजपूत ने यह सम्मन, सुरभि सेवा संस्थान और समृद्धि स्वदेशी बीज बैंक तथा किसानों को समर्पित किया है इससे नवागढ़ का गौरव बढ़ा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *