रायपुर वॉच

कैबिनेट की बैठक में महत्वपूर्ण फैसले… सिटी बस का किराया 25% बढ़ेगा, आरडीए को 1 रुपए फीट में देंगे जमीन…

यात्री बसों के बाद सिटी बसों का किराया भी जल्द ही 25 फीसदी बढ़ा दिया जाएगा। यानी महंगाई की मार अब सिटी बस का सफर करने वाले यात्रियों पर भी पड़ने वाली है। बुधवार को हुई कैबिनेट की बैठक में सिटी बसों का किराया बढाने समेत कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए। सरकार के प्रवक्ता व वनमंत्री मोहम्मद अकबर ने बताया कि आरडीए ने नगर निगम सीमा की कई सरकारी जमीनों पर मकान-भवन आदि निर्माण कर उसकी बिक्री की है।

लेकिन आरडीए ने अब तक राजस्व विभाग को जमीन के एवज में एक रुपए का भुगतान भी नहीं किया था। इसलिए आरडीए को ये सारी जमीनें एक रुपए वर्गफीट की दर से आवंटित करने का फैसला किया गया। इसी तरह धान खरीदी के लिए लाए जाने वाले बारदाने की कीमत 18 रुपए से बढ़ाकर 25 रुपए करने का फैसला भी किया गया। वहीं प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अंतर्गत गरीबों को पांच किलो चावल मुफ्त दिया जाएगा।

इसके लिए सरकार नान को 223 करोड़ रुपए देगी। अकबर ने बताया कि धान-चावल खरीदी में उपयोग होने वाले जूट बैग तथा सोलर विद्युत उत्पादन में लगने वाले प्लांट एवं मशीनरी पर आधारित उद्योगों को उच्च प्राथमिकता की श्रेणी में रखा गया है तथा निजी जमीन पर लकड़ी आधारित उद्योग को प्राथमिकता उद्योग में शामिल किया गया है। इसी तरह निजी औद्योगिक पार्काें में विस्तार के लिए 3 करोड़ रूपए तक का अनुदान दिया जाएगा।

दुधावा जलाशय के मिनी गोवा का लोकार्पण
सीएम बघेल ने पर्यटन स्थल को बढ़ावा देने के लिए कांकेर में दुधावा डेम पर निर्मित इको लर्निंग सेंटर और महासमुंद के कोडार जलाशय पर निर्मित इको पर्यटन स्थल का वर्चुअल लोकार्पण किया। इसका निर्माण स्थानीय वन प्रबंधन समिति के सदस्यों ने किया है। सीएम ने कहा कि इससे स्थानीय लोगों को रोजगार भी उपलब्ध होगा। यह दोनों पर्यटन स्थल जन सामान्य में वन्यजीव और जैव विविधता की जानकारी देने के साथ ही पर्यावरण के प्रति जागरूकता पैदा करने में अवश्य सफल होगा।

इको पर्यटकों स्थल वन चेतना केन्द्र कोडार में 39.14 लाख का कार्य किया जा चुका है और 40 लाख का कार्य प्रगति पर है। वर्तमान में पहंुच मार्ग उन्नयन, वाटर सप्लाई सिस्टम, मचान, ट्री हाउस, नेचर ट्रेल, बर्ड वाचिंग और मोटर बोट की सुविधा के विकास कार्य प्रगति पर हैं। पर्यटकों को लुभाने के लिए यहां वन परिवेश में रहने और साहसिक शिविर आयोजित करने की सुविधा उपलब्ध है। उल्लेखनीय है कि रामवनगमन पथ के अंतर्गत सिरपुर में वन चेतना केन्द्र कोडार का विकास इको पर्यटन स्थल के रूप में किया गया है।

अन्य महत्वपूर्ण फैसले

संगीत विवि में कुलपति की आयु अब 70 वर्ष।
वनपाल के परिजन को अनुकंपा नियुक्ति।
ओबीसी आयोग में अध्यक्ष के साथ उपाध्यक्ष भी होंगे।
कस्टम मिलिंग की दर 120 रुपए।
आबकारी एसआई भर्ती परीक्षा में आयु सीमा में छूट।
द्वितीय अनुपूरक बजट का अनुमोदन।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *