प्रांतीय वॉच

संभागायुक्त सुश्री जिनेविवा किण्डो ने जिले के धान उपार्जन केन्द्रों का किया दौरा…किसान का हित सर्वोपरि, उपज बेचने में न हो कोई परेशानी: संभागायुक्त

भागायुक्त सुश्री जिनेविवा किण्डो ने जिले के धान उपार्जन केन्द्रों का किया दौरा
किसान का हित सर्वोपरि, उपज बेचने में न हो कोई परेशानी: संभागायुक्त

आफताब आलम : बलरामपुर / शासन के मंशानुरूप राज्य के किसानों से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी बिना किसी गतिरोध के पूर्ण हो तथा किसानों को अपना उपज बेचने में कोई परेशानी ना आए, इस आशय से राज्य के विभिन्न जिलों में आला-अधिकारी लगातार उपार्जन केंद्रों का दौरा कर वस्तुस्थिति का जायजा ले रहे हैं।
मुख्य सचिव के निर्देश पर सभी अधिकारी उपार्जन केंद्रों का भ्रमण कर स्थिति की सतत समीक्षा कर रहे है। इसी क्रम में सरगुजा संभाग की संभाग आयुक्त सुश्री जिनेविवा किंडो ने आज जिले के राजपुर, शंकरगढ़ तथा कुसमी के विभिन्न धान उपार्जन केंद्रों का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने प्रशासन द्वारा उपार्जन केंद्रों में की गई व्यवस्थाओं की जानकारी ली तथा अधिकारियों को शासन की मंशा से अवगत कराते हुए कहा कि किसान का हित सर्वाेपरि है, उसे अपनी उपज बेचने में कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए, इसका विशेष ध्यान रखा जाए। धान उपार्जन केंद्र बरियों पहुंची संभागायुक्त सुश्री किंडो ने किसानों से चर्चा कर जाना कि उन्हें धान बेचने में कोई दिक्कत तो नहीं आ रही है। उन्होंने रैंडमली तौल हो चुके धान का पुनः तौल तथा धान के नमी की भी जांच की। संभागायुक्त ने समिति प्रबंधक से उपार्जन केंद्र में पंजीकृत किसान तथा अब तक खरीदे गए धान की मात्रात्मक जानकारी ली। साथ ही कहा कि वन अधिकार पट्टाधारी किसानों को टोकन जारी करें तथा उनसे भी प्राथमिकता के साथ धान खरीदा जाए। इस दौरान उन्होंने अपना उपज बेचने के लिए टोकन लेने आए किसान अधनु को टोकन प्रदाय किया, साथ ही अधिकारियों से कहा किसान का ही धान खरीदा जाए लेकिन बिचौलियों और कोचियों व अवैध धान पर कार्यवाही करें। आयुक्त ने किसानों से व्यवस्था के संबंध में पूछा, जिस पर किसानों ने बताया कि उपार्जन केन्द्रों में प्रशासन द्वारा की गई व्यवस्थाओं से खुश हैं और उन्हें अपना उपज बेचने में कोई परेशानी नहीं हो रही है।
तत्पश्चात संभागायुक्त सुश्री जिनेविवा किंडो ने धान उपार्जन केंद्र राजपुर का भी निरीक्षण किया, जहां उन्होंने अधिकारियों से समिति में पंजीकृत किसान तथा प्रशासन द्वारा की गई व्यवस्थाओं, टोकन, तौल मशीन, बैठक व्यवस्था व सीसीटीवी कैमरे के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने किसानों द्वारा तौल किए जा रहे धान का भी अवलोकन किया और नियमानुसार तौल करवाने के निर्देश दिए। संभागायुक्त ने धान की आवक को देखते हुए अधिकारियों से डीओ जारी कर धान का उठाव करने को कहा। इसके पश्चात सेवारी धान उपार्जन केंद्र का भी निरीक्षण किया।

विकासखण्ड शंकरगढ़ व कुसमी के धान उपार्जन केंद्रों का भी किया दौरा, चेकपोस्टों पर भी कड़ी निगरानी रखने के दिये निर्देश

संभागायुक्त सुश्री जिनेविवा किंडो ने विकासखण्ड शंकरगढ़ के प्रमुख धान उपार्जन केंद्र जमड़ी में भी व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने छोटे और बड़े किसानों से अनुपातिक प्रणाली के अनुरूप खरीदी करने के निर्देश दिए। उन्होंने उपार्जन केंद्र जमड़ी में किसानों के मनोरंजन के लिए टीवी लगाने की सराहना की, साथ ही सभी उपार्जन केंद्रों में कोविड जांच व वैक्सीनेशन के पहल को भी सराहा।
इसके बाद उन्होंने धान उपार्जन केंद्र भुलसीकला व कुसमी के धान उपार्जन केंद्रों का अवलोकन किया। उन्होंने अनुविभागीय अधिकारी राजस्व कुसमी से कहा कि संवेदनशील धान उपार्जन केंद्रों में कड़ी निगरानी रखी जाए तथा अंतर राज्य व अंतर जिला सीमा वाले इलाकों में सतर्कता और बढ़ाई जाए। तंत्र को मजबूत करते हुए अधिकारी कोचियों और बिचौलियों पर कार्यवाही भी करें, ताकि समितियों में अवैध धान न खप पाए।
/फोटो 01 से 03

शाकम्भरी बोर्ड के अध्यक्ष ने ली उद्यान विभाग की समीक्षा बैठक
शासन की योजनाओं का किसानों को मिले लाभ: श्री पटेल

बलरामपुर / छत्तीसगढ़ शाकम्भरी बोर्ड के अध्यक्ष श्री रामकुमार पटेल(केबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त) एवं सदस्य श्री पवन पटेल, श्री दुखवा पटेल, श्री हरि पटेल एवं अनुराग पटेल द्वारा आज संयुक्त जिला कार्यालय भवन बलरामपुर के सभाकक्ष में उद्यानिकी विभाग की समीक्षा बैठक ली। समीक्षा बैठक में शाकम्भरी बोर्ड के अध्यक्ष ने शासन के मंशानुसार उद्यानिकी विभाग में संचालित योजनाओं को किसानों तक पहुंचाने एवं विभागीय योजनाओं का लाभ दिलाने के निर्देश दिये।
शाकम्भरी बोर्ड के अध्यक्ष श्री रामकुमार पटेल ने उद्यान विभाग में संचालित समस्त योजनाओं का बिंदुवार जानकारी ली। उन्होंने विभाग द्वारा संचालित शासन की समस्त योजना का क्रियान्वयन करने लघु एवं सीमान्त कृषकों को प्राथमिकता से लाभान्वित करने हेतु निर्देश दिये। जिले में संचालित महिला स्व-सहायत समूहों का सर्वे कर विभागीय योजना से लाभान्वित करने को कहा। उन्होंने मैदानी अमलों को प्रत्येक गांव का दौरा करने एवं किसानों की बैठक लेकर विभागीय योजनाओं की जानकारी पहुंचाने को कहा जिससे प्रत्येक कृषक शासन की योजनाओं का लाभ ले सके। समीक्षा बैठक में अनुपस्थित रहने वाल 02 कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश सहायक संचालक उद्यान को दिए।
बैठक में सहायक संचालक उद्यान श्री पतराम सिंह, सहित उद्यान विभाग के अधिकारी/कर्मचारीगण उपस्थित थे।
/फोटो 04 से 06

विकासखण्ड एवं जिला स्तर पर युवा उत्सव का आयोजन

बलरामपुर / खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा राज्य के समस्त विकासखण्ड एवं जिला स्तर पर युवा उत्सव वर्ष 2021-22 का आयोजन करने दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। जारी दिशा-निर्देश के परिपालन में कलेक्टर श्री कुंदन कुमार ने सर्व अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत एवं मुख्य नगरपालिका अधिकारियों को विकासखण्ड तथा जिला स्तर पर युवा उत्सव का आयोजन करने के निर्देश दिए हैं। जिला खेल अधिकारी श्री मारकुस कुजूर ने जानकारी दी है कि विकासखण्ड स्तर पर युवा उत्सव 7 से 13 दिसंबर 2021 तक तथा जिला स्तर पर युवा उत्सव 14 एवं 15 दिसंबर को आयोजित किया जाएगा। युवा उत्सव में लोक नृत्य, लोकगीत, एकांकी नाटक, शास्त्रीय गायन,शास्त्री गायक कर्नाटक शैली, सितार वादन, बांसुरी वादन, तबला वादन, वीणा वादन, मृदंग वादन, हारमोनियम वादन, गिटार वादन, मणिपुर शास्त्री नृत्य, उड़ीसी शास्त्री नृत्य, भरतनाट्यम, कत्थक, कुचीपुड़ी, वक्तुत्व कला विधाएं शामिल की गई है। युवा उत्सव में भाग लेने के लिए कलाकारों की न्यूनतम आयु 15 वर्ष से 35 वर्ष होनी चाहिए। विकासखण्ड स्तर पर आयोजित युवा उत्सव में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले कलाकार को जिला युवा उत्सव में भाग लेने की पात्रता होगी तथा विकासखण्ड स्तर पर चयनित कलाकार जिला स्तर युवा उत्सव में शामिल होंगे। जिला स्तरीय युवा उत्सव में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले कलाकारों को ही राज्य स्तर पर आयोजित युवा उत्सव में भाग लेने की पात्रता होगी। जिला एवं विकासखण्ड स्तर पर होने वाले युवा उत्सव के लिए कलेक्टर द्वारा निर्णायक समिति का गठन भी किया गया है। जिला स्तरीय समिति में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अध्यक्ष, जिला खेल अधिकारी सदस्य/सचिव, उप संचालक समाज कल्याण, सहायक आयुक्त आदिवासी, जिला शिक्षा अधिकारी एवं परियोजना अधिकारी को सचिव बनाया गया है। इसी प्रकार विकासखंड स्तरीय समिति में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व अध्यक्ष, जनपद पंचायत के अध्यक्ष सदस्य, नगर पालिका अध्यक्ष सदस्य, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत सदस्य/सचिव, विकासखंड शिक्षा अधिकारी एवं नगर पालिका अधिकारी को सदस्य नियुक्त किया गया है।

विकासखण्ड स्तरीय महिला खेल-कूद प्रतियोगिता का होगा आयोजन

जिला खेल अधिकारी श्री मारकुस कुजूर ने जानकारी दी है कि जिले के समस्त विकासखण्डों में विकासखण्ड स्तरीय महिला खेल-कूद प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। प्रतियोगिता में तीरंदाजी, एथलेटिक स्विमिंग, कुश्ती, कबड्डी, रस्सा-कस्सी भारोत्तोलन, बास्केटबाल, फुटबाल, हैंडबाल, हॉकी, व्हॉलीबॉल इत्यादि खेलों का आयोजन होगा। विकासखण्ड स्तरीय प्रतियोगिता में चयनित खिलाड़ी 15 दिसम्बर को आयोजित होने वाले जिला स्तरीय खेल-कूद प्रतियोगिता में शामिल होंगे। जिला स्तरीय प्रतियोगिता शासकीय बालक उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय बलरामपुर के खेल मैदान में आयोजित की गई है।

 
शासकीय महाविद्यालय बलरामपुर में कोसेक्टर बैडमिंटन स्पर्धा का आयोजन
राज्य स्तरीय प्रतियोगिता के लिए किया गया खिलाड़ियों का चयन

बलरामपुर / शासकीय महाविद्यालय बलरामपुर में कोसेक्टर स्तर बैडमिंटन स्पर्धा पुरूष एवं महिला का आयोजन इण्डोर स्टेडियम पुलिस लाईन में आयोजित किया गया। बैडमिंटन प्रतियोगिता महिला वर्ग एकल व युगल विजेता राजीव गांधी पीजी कॉलेज अम्बिकापुर की आयुषी दीवान व अंकिता दास रहीं। शासकीय लाहिड़ी महाविद्यालय चिरमिरी की रीतिका राजहंस व ईशिका बनर्जी ने उपविजेता का खिताब जीता। पुरूष वर्ग बैडमिंटन स्पर्धा में सरस्वती शिक्षा महाविद्यालय अम्बिकापुर के एकल व युगल विजेता का खिताब तरूण मालाकार एवं मृगेश कुशवाहा ने जीता। उपविजेता रेवती रमन मिश्र महाविद्यालय सूरजपुर के सौरव साहू व इंदर कुशवाहा रहे। इस बैडमिंटन स्पर्धा में 21 महाविद्यालय केे खिलाड़ियों ने सहभागिता दर्ज की। विजेता व उपविजेता खिलाड़ियों को ट्रॉफी एव प्रमाण-पत्र प्रो. एन. के. देवांगन, प्राचार्य शासकीय महाविद्यालय बलरामपुर के द्वारा प्रदान किया गया। इस कोसेक्टर स्पर्धा मे राज्य स्तर बैडमिंटन के लिए सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों का चयन किया गया। महिला वर्ग से आयुषी दीवान राजीव गांधी पीजी कॉलेज अम्बिकापुर, रीतिका राजहंस शासकीय लाहिड़ी महाविद्यालय चिरमिरी, वर्षा साहू राजमोहिनी कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय अम्बिकापुर, ईषिका बनर्जी शासकीय लाहिड़ी महाविद्यालय चिरमिरी, एकता कुजूर राजीव गांधी पीजी कॉलेज अम्बिकापुर एवं प्रतीक्षा सूची मे अल्पना मिंज शासकीय महाविद्यालय बलरामपुर व रबिता यादव राजीव गांधी पीजी कॉलेज अम्बिकापुर का राज्य स्तर बैडमिंटन के लिए चयन किया गया। पुरूष वर्ग में तरूण मालाकार सरस्वती शिक्षा महाविद्यालय अम्बिकापुर, सौरव साहू रेवती रमन मिश्र शासकीय महाविद्यालय सूरजपुर, आर्यन गुप्ता शासकीय श्यामा प्रसाद मुखर्जी महाविद्यालय सीतापुर, संजीव कुमार गुप्ता एच.व्ही. संस्कार महाविद्यालय सीतापुर, मृगेश कुमार कुछवाहा सरस्वती शिक्षा महाविद्यालय अम्बिकापुर एवं प्रतीक्षा सूची में हरिचरण हालदार शासकीय महाविद्यालय बलरामपुर व इंदर रेवती रमन मिश्र शासकीय महाविद्यालय सूरजपुर का चयन राज्य स्तरीय बैडमिंटन स्पर्धा के लिए किया गया। देर रात्रि तक चले इस बैडमिंटन स्पर्धा में छात्र-छात्राओं में असीम उत्साह देखा गया। इस कार्यक्रम में विशेष सहयोग आनंदधर दीवान क्रीड़ा अधिकारी खेल परिसर अम्बिकापुर, ओस्कर बरवा प्रधान पाठक माध्यमिक शाला भैंसामुण्डा, अनिल लकड़ा माध्यमिक शाला राधाकृष्ण नगर, सोलोमो नंदे सहायक शिक्षक संत जोसेफ अंग्रेजी माध्यम हाईस्कूल दर्रीडीह, मारकुस कुजुर क्रीड़ा अधिकारी बलरामपुर, प्रदीप एक्का पीटीआई शासकीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बलरामपुर, प्रदीप पैंकरा सहायक शिक्षक प्राथमिक शाला गौरापारा बलरामपुर, बालेश्वर खलखो व्याख्याता शासकीय हाईस्कूल जाबर एवं छवि पैंकरा पुलिस विभाग का योगदान रहा। महाविद्यालय के एनएसएस के स्वयंसेवक एवं एनसीसी के कैडेटों की महत्वपूर्ण भूमिका उक्त कार्यक्रम मे रही। इस कार्यक्रम के सफल आयोजन में महाविद्यालय के डॉ. यू.के. पाण्डेय, डॉ. सत्यनारायण साहू, गिरवर प्रसाद कोरी, राम सुदर्शन राम, शैलेष कन्नौजिया, गोलू साहू, मनोज प्रधान, मधुनंदन भारद्वाज, लक्ष्मी दास मानिकपुरी, वेदकुमार पैंकरा, अरविंद लकड़ा, फूलचंद कुजुर, व विजय कुमार तिर्की की विशेष योगदान रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *