प्रांतीय वॉच

कवर्धा मामले को लेकर विहिप ने मैनपुर में किया सीएम व वन मंत्री का पुतला दहन

पुलस्त शर्मा मैनपुर : तहसील मुख्यालय मैनपुर में आज बुधवार को विश्व हिन्दु परिषद मैनपुर के बैनर तले हिन्दु परिषद के कार्यकर्ताओं ने कवर्धा में भगवा झंडे के अपमान को लेकर हुए विवाद के बाद हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी से आक्रोशित होकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल व मंत्री मोहम्मद अकबर का पुतला दहन किया गया और कवर्धा हिंसा के विरोध में जमकर नारेबाजी करते हुए गिरफ्तार हुए एक पक्ष के सभी लोगो को रिहा करने की मांग करते रहे। स्थानीय लोक निर्माण विभाग विश्राम गृह से रैली निकाल विश्व हिन्दु परिषद के कार्यकर्ताओ ने भूपेश बघेल व मंत्री मोहम्मद अकबर के खिलाफ जमकर नारेबाजी किया वहीं पुतला दहन के दौरान हिन्दु संगठन के कार्यकर्ताओ ने आरोप लगाया कि प्रदेश सरकार द्वारा कवर्धा में हिंसा भडकाया गया है. हिंसा करने वालो को संरक्षण दिया जा रहा है निर्दोषों को जेल दाखिल किया गया है। इस दौरान उपस्थित मैनपुर पुलिस की टीम व हिन्दु संगठन के कार्यकर्ताओं में पुतले को लेकर हल्की धक्का मुक्की भी हुई वही इस बीच हिन्दु संगठन के कार्यकर्ताओं ने पुतले को आग लगा दी पुलिस ने जलते पुतले को छीनकर अपने कब्जे मे लिया। श्री रामसेना हिन्दु संगठन के अध्यक्ष रूपेश साहू ने कहा कि कवर्धा में हिन्दू विरोधी लोगों द्वारा मार पिट किया गया है इन दंगाइयों को कांग्रेसी नेता मोहम्मद अकबर मंत्री का संरक्षण प्राप्त है दंगाइयों के खिलाफ आजतक कार्यवाही नहीं होने दिया जा रहा है मजबूरन बेगुनाह लोगो को जेल में दाखिल कर दिया गया जिससे पूरे हिन्दु संगठन के लोग आक्रोशित है और जेल भेजे गये निर्दोष लोगो को रिहा करने, दोषियों पर कार्यवाही करने एवं संरक्षण देने वाले वन मंत्री के इस्तीफे की मांग कर रहे है। महेश कश्यप ने कहा भारत एक धर्म निरपेक्ष राज्य हैं लेकिन प्रदेश के वर्तमान हालात को देखकर लगने लगा है की छत्तीसगढ़ में भारत का धर्मनिरपेक्ष संविधान लागू नहीं है पिछले दिनों जो भगवा ध्वज का अपमान हुआ है वो हमारी आस्था पर चोट है यह कृत्य बर्दाश्त से बाहर है इस विषय को लेकर जब लोगो ने आवाज बुलंद की तो झूठे मामले बनाकर उन्हें जेल भेज दिया गया जो सरकार की दमनकारी नीति को उजागर कर रहा है। मोहित द्विवेदी ने कहा कि कवर्धा में झंडा लगाने के मामूली बात को लेकर दो प़क्षो मे विवाद हुआ था लेकिन कवर्धा विधायक व प्रदेश के वनमंत्री अकबर के संरक्षण में एक पक्ष द्वारा जमकर हिंसा की गई. हिंसा करने वालो के खिलाफ कोई कार्रवाई नही करते हुए दूसरे पक्ष के बेगुनाह लोगो पर एकतरफा कार्रवाई की गई है. साथ ही निर्दाेषों को गिरफ्तार कर जेल में डाल दिया गया है। मुकेश सिन्हा ने मोह. अकबर द्वारा दंगाईयों को पनाह देने का आरोप लगाते हुए कहा कवर्धा मे हिन्दु विरोधी लोगो द्वारा जानबूझकर हिंसा भड़काया गया और भूपेश बघेल की सरकार द्वारा निर्दोष लोगो को जेल भेजा गया यदि मुख्यमंत्री जल्द ही संघ्यान में अगर नहीं लेंगे तो हम समस्त कार्यकर्ता सड़क से प्रदेश तक की लड़ाई लड़ेंगे। इस पुतला दहन कार्यक्रम में प्रमुख रूप से मोहित द्विवेदी, रूपेश साहू, मुकेश सिन्हा, योगेश शर्मा, दुलार सिन्हा, महेश कश्यप, तुलसी राठौर, नंदकिशोर चौब,े विशेश्वर सिक्का, मनोज निर्मलकर, राकेश दुब,े संतोष यादव, हरीश यादव, टंकेश मोंगरे, मोहन ओटी, युगदास वैष्णव, प्रवीण शिंदे, ऋषिकेस दास, इतेश सोनी, देव वासनिक, यश चंद्राकर, गोकर्ण नेताम, वेदराम नेताम, लीलाराम नेताम, जीवनलाल नेताम, राजूलाल सोरी, बृजलाल सोरी, अमर सोरी, गोवर्धन नेताम, हरिश्चंद्र यादव, सुनील पटेल, आभास निषाद, हेमंत साहू, उपेंद्र साहू, लक्ष्मण ध्रुव, रामसाय निर्मलकर, प्रदीप शर्मा, सुजान सिंह राजपूत, बी आर निर्मलकर, मोनू पांड,े सोनू पांडे, जसवंत साहू सहित विश्व हिंदू परिषद भाजपा एवं हिंदू संगठन के युवा कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *