देश दुनिया वॉच

जहरीली शराब से मौत के बाद एक्शन में सरकार, मुख्य आरोपी समेत आठ लोग गिरफ्तार, साढ़े सात लाख रुपए भी बरामद

बिहार : जहरीली शराब पीने से लगातार हो रही मौत के बाद अब सरकार एक्शन में है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार खुद मामले की अपने स्तर पर निगरानी कर रहे हैं. इसके बाद इस मामले में पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है. गोपालगंज के महम्मदपुर थाने के महम्मदपुर गांव में जहरीली शराब पीने से हुई 20 लोगों की मौत मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी समेत आठ लोगों को गिरफ्तार किया है.

मामले में गोपालगंज के जिलाधिकारी नवल किशोर चौधरी ने बताया है कि जहरीली शराब की सप्लाई करने के मामले में मुख्य आरोपी को नगर थाने के नवादा मोड़ से गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार आरोपित गुड्डू साह के घर में शराब बेचकर रखे गए करीब साढ़े सात लाख रुपए भी बरामद किए गए हैं. साथ ही इस मामले में जुड़े सात अन्य नामजद आरोपियों को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

अवैध शराब का कारोबार करने वालों में हड़कंप
इसके साथ ही पूरे राज्य में पुलिस एक्शन में है. इसके बाद सूबे में अवैध शराब का कारोबार करने वालों में हड़कंप मंच गया है. जहरीली शराब से मौत और लोगों के बीमार पड़ने के बाद पुलिस की कार्रवाई से बचने के लिए धंधेबाजों ने जहां-तहां नदी और चौर में शराब की बोतलें फेंक दी हैं. इधर पुलिस ने कई जिलों में अभियान चलाकर पुलिस भट्ठियों को नष्‍ट कर रही है.

छपरा की मढ़ौरा पुलिस ने रविवार को शराब माफिया के खिलाफ बड़ी करवाई करते हुए पांच चिन्हित गावों में छापेमारी की. इस दौरान पुलिस ने अलग-अलग स्थानों से करीब 280 लीटर अवैध देसी शराब बरामद किया है जबकि सैकड़ों लीटर अर्द्ध निर्मित देसी शराब को जमीन पर बहाकर नष्ट कर दिया. पुलिस ने इस दौरान अलग-अलग स्थानों से तीन शराब कारोबारी को गिरफ्तार भी किया है.

पिछले 6 दिनों में जहरीली शराब पीने से 30 लोगों की मौत
बिहार में पिछले 6 दिनों में जहरीली शराब पीने से 30 लोगों की मौत हो गई है. गोपलगंज, बेतिया और समस्तीपुर में मंगलवार से शुरू हुआ मौत का आंकड़ा बढ़कर 30 पहुंत गया है. दिवाली के दिन समस्तीपुर में चार और लोगों की जहरीली शराब पीने से मौत हो गई है. मरने वाले में एक आर्मी और एक बीएसएफ का जवान भी शामिल है.दोनों जवान दिवाली और छठ के मौके पर छुट्टी पर घर आए हुए थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *